जदरांगल में सीयू के लिए चिह्नित जमीन का आज होगा सर्वे, कोलकाता से पहुंचेगी टीम

केंद्रीय विश्वविद्यालय(सीयू) के लिए जदरांगल में चिह्नित भूमि के जियोलॉजिकल सर्वे के लिए कोलकाता से जियोलॉजिकल सर्वे आफ इंडिया की टीम शनिवार को धर्मशाला पहुंच जाएगी। यह टीम 28 सितंबर तक सर्वे का कार्य करेगी। इस रिपोर्ट के आधार पर सीयू के भविष्य की तस्वीर साफ होगी।

Virender KumarSat, 25 Sep 2021 06:00 AM (IST)
जदरांगल में सीयू के लिए चिह्नित जमीन का सर्वे आज होगा

धर्मशाला, संवाद सहयोगी। केंद्रीय विश्वविद्यालय(सीयू) के लिए जदरांगल में चिह्नित भूमि के जियोलॉजिकल सर्वे के लिए कोलकाता से जियोलॉजिकल सर्वे आफ इंडिया की टीम शनिवार को धर्मशाला पहुंच जाएगी। यह टीम 28 सितंबर तक सर्वे का कार्य करेगी। इस रिपोर्ट के आधार पर सीयू के भविष्य की तस्वीर साफ होगी कि इसका निर्माण जदरांगल में होगा या नहीं।

वहीं धर्मशाला शहर की जनता की ओर से एकमंच पर एकत्र हुए विभिन्न संगठनों का प्रतिनिधिमंडल भी जियोलॉजिकल सर्वे आफ इंडिया की टीम से मिलेगा और सदस्यों को पुष्प गुच्छ भेंट कर सम्मानित किया जाएगा। इसके अलावा सीयू के धर्मशाला में 100 फीसद निर्माण के लिए धर्मशाला की जनता की ओर से शुरू किए गए सांकेतिक आंदोलन के तहत दो दिन में 1000 झंडे लगाए जा चुके हैं। यह सफेद झंडे कोतवाली बाजार, कचहरी अड्डा, खनियारा रोड, पालमपुर रोड इत्यादि में लगाए गए हैं, ताकि जनसमर्थन जुटाया जा सके।

सांकेतिक आंदोलन को जनसमर्थन

सीयू के 100 फीसद धर्मशाला में निर्माण को लेकर शुरू किए गए सांकेतिक आंदोलन के तहत दो दिन में 1000 सफेद झंडे लगाए जा चुके हैं। वहीं अब लोग भी सीयू के धर्मशाला में निर्माण की दिशा में समर्थन दे रहे हैं और सांकेतिक आंदोलन के तहत सफेद झंडे लगाने की मांग कर रहे हैं।

सीयू का धर्मशाला में निर्माण करवाने के लिए शुरू किए सांकेतिक आंदोलन को जनसमर्थन मिलने लगा है। हालांकि सफेद झंडे लगाने की शुरुआत में केवल शहर क्षेत्र में ही 1000 झंडे लगाने का फैसला लिया गया था। लेकिन अब लोग समर्थन कर सफेद झंडे लगाए जाने की मांग कर रहे हैं। इसके लिए जहां से सफेद झंडे की मांग आएगी, वहां यह उपलब्ध करवाए जाएंगे। वहीं टीम का शहर की जनता की ओर से भेंट कर उन्हें पुष्प गुच्छ भेंट कर उनका स्वागत किया जाएगा।

-अतुल भारद्वाज, समाजसेवी।

जदरांगल में सीयू के लिए देखी गई जमीन के जियोलॉजिकल सर्वे के लिए कोलकाता से जियोलॉजिकल सर्वे आफ इंडिया की टीम पहुंचेगी। टीम में कितने सदस्य होंगे यह उसके पहुंचने पर ही पता चलेगा। यह टीम तीन दिन तक सर्वे का कार्य करेगी।

-रोहित राठौर, एडीएम कांगड़ा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.