Snowfall In Lahaul Sapiti: लाहुल स्पीति में शुरू हुई बर्फबारी, जनजीवन अस्त व्यस्त, घरों में कैद हुए लोग

प्रदेश के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में सुबह से बर्फबारी का क्रम शुरू हो गया है। लाहुल स्पीति जिला के स्पीति घाटी में बर्फबारी हो रही है जबकि लाहुल घाटी के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फ के फाहे गिर रहे हैं।

Richa RanaThu, 02 Dec 2021 09:23 AM (IST)
प्रदेश के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में सुबह से बर्फबारी का क्रम शुरू हो गया है।

केलंग, जागरण संवादददाता। प्रदेश के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में सुबह से बर्फबारी का क्रम शुरू हो गया है। लाहुल स्पीति जिला के स्पीति घाटी में बर्फबारी हो रही है जबकि लाहुल घाटी के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फ के फाहे गिर रहे हैं। स्पीति की समस्त घाटी में सुबह से बर्फ के फाहे गिर रहे हैं। दुनिया के सबसे ऊंचे मतदान केंद्र टशीगंग सहित किब्बर, लंगचा, कोमिक, लोसर, क्योटो, हल, रंगरिक सहित समस्त स्पीति घाटी में बर्फबारी हो रही है। बर्फ़बारी से जन जीवन अस्त व्यस्त हो गया है। घाटी के लोग घरों में कैद हो गए हैं।

लाहुल स्पीति की वादियों में बर्फ के फाहे गिरने का क्रम शुरू हो गया है। इस कारण प्रदेशभर में तापमानमें गिरावट दर्ज की गई है व मौसम ठंडा हो गया है। 13050 फीट ऊंचे रोहतांग दर्रे में भी सुबह से बर्फ़बारी हो रही है। मौसम के करवट बदलते ही पर्यटन नगरी मनाली में बर्फ बारी की उम्मीद बढ़ गई है। अक्टूबर के बाद मनाली व लाहुल की वादियां बर्फ फाहों का इंतजार कर रही है।

मौसम विभाग ने छः दिसंबर तक मौसम खराब रहने की आशंका जताई है। मनाली की ऊंची चोटियों मकरवे, शिकरवे, सेवन सिस्टर पीक, लद्दाखी पीक, पतालसू पीक, हनुमान टिब्बा, देउ टिब्बा, व्यास कुंड, दशौहर, भुगू झील, हामटा पास और शिरघन तुंग पर हल्का हिमपात हुआ है। लाहुल की ओर बारालाचा, शिंकुला, कुंजुम, लेडी आफ केलंग, बड़ा व छोटा शीघ्री ग्लेशियर, चंद्रभागा रेंज सहित समस्त ऊंची चोटियों में बर्फबारी का क्रम शुरू हो गया है।

मनाली प्रशासन ने रोहतांग दर्रा सैलानियों के लिए पहले ही बंद कर दिया है जबकि लाहुल घाटी में भी पर्यटकों की आवाजाही मौसम पर निर्भर हो गई है। मनाली घाटी में भी बर्फबारी की उम्मीद बढ़ गई है। बर्फ़बारी होने की सूरत में पर्यटन कारोबार भी गति पकड़ेगा। उपायुक्त लाहुल स्पीति नीरज कुमार ने कहा कि लाहुल स्पीति में बर्फ़बारी का क्रम शुरु हो गया है। स्पीति में जन जीवन अस्त व्यस्त हो गया जबकि लाहुल घाटी में अभी ऊंचाई वाले ग्रामीण क्षेत्रों में ही बर्फबारी हो रही है। मौसम के तेवर ऐसे ही रहे तो लाहुल घाटी पर्यटकों के लिए बंद कर दी जाएगी। अब लाहुल घाटी में पर्यटकों की आवाजाही मौसम पर निर्भर रहेगी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.