मंत्री जी ! पंचायत प्रधान मौका-ए-मुआयना के लिए मांगती हैं 100 रुपये

परिवेश महाजन जयसिंहपुर पंचायत प्रतिनिधि क्षेत्र की जनता की शिकायतों के समाधान की एवज में ही उगाही करने लगें तो उस क्षेत्र का विकास कैसा होगा। ऐसा ही किस्सा हुआ रविवार को राजकीय उच्च पाठशाला लोअर खैरा में आयोजित जनमंच कार्यक्रम के दौरान।

JagranMon, 22 Nov 2021 02:55 AM (IST)
मंत्री जी ! पंचायत प्रधान मौका-ए-मुआयना के लिए मांगती हैं 100 रुपये

परिवेश महाजन, जयसिंहपुर

पंचायत प्रतिनिधि क्षेत्र की जनता की शिकायतों के समाधान की एवज में ही उगाही करने लगें तो उस क्षेत्र का विकास कैसा होगा। ऐसा ही किस्सा हुआ रविवार को राजकीय उच्च पाठशाला लोअर खैरा में आयोजित जनमंच कार्यक्रम के दौरान। कार्यक्रम में जनता की समस्याओं के समाधान के लिए सरकार की ओर से खेल मंत्री राकेश पठानिया आए थे।

इस दौरान जैंद पंचायत के निवासी कांशी राम ने प्रधान के खिलाफ शिकायत की। शिकायतकर्ता के अनुसार, उनके पड़ोस में रास्ते पर अतिक्रमण की समस्या थी। इस बाबत उन्होंने पंचायत प्रधान को आठ बार शिकायत की। अंत में उन्होंने पुलिस को बुलाया। पुलिस ने समस्या के समाधान के लिए पंचायत प्रधान को फोन कर मौके पर बुलाया। शिकायतकर्ता के अनुसार, समस्या तो हल नहीं हुई पर पंचायत प्रधान ने मौके से जाते समय 100 रुपये फीस ले ली। विकास खंड भेडू महादेव अधिकारी के नेतृत्व में पंचायत प्रधान को जनमंच में पक्ष रखने को बुलाया गया। इस दौरान पंचायत प्रधान नीलम कुमारी ने 100 रुपये लेने की बात कुबूल की। उन्होंने कहा कि जब पुलिस का फोन आया तो वह गांव से बाहर थी और गाड़ी कर मौके पर पहुंची। इसके लिए गाड़ी वाले को 200 रुपये दिए। इसके लिए 100 रुपये शिकायतकर्ता से व 100 रुपये ही दूसरी पार्टी से लिए। इतना कहते ही पंडाल ठहाकों से गूंज उठा। इस दौरान वन मंत्री भड़क उठे और पंचायत प्रधान को खरी खोटी सुनाते हुए भविष्य में ऐसा न करने की चेतावनी दी और बीडीओ को कांशी राम के पैसे लौटाने का आदेश दिया।

..

संपर्क मार्ग के लिए मंजूर किए पांच लाख

कुठेड़ा के साहिब राम ने शिकायत की कि वह पिछले तीन वर्ष से दलित बस्ती के लिए संपर्क मार्ग के संदर्भ में विभाग के चक्कर काट रहे हैं, परंतु आजतक कोई कार्रवाई नहीं हुई। इस पर संज्ञान लेते हुए वन मंत्री ने डीएफओ पालमपुर व लोक निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता को संयुक्त निरीक्षण करने के लिए कहा। साथ ही संपर्क मार्ग के लिए पांच लाख रुपये देने की बात कही।

..

बीमारी का इलाज करवाने के लिए मंजूर किए 15 लाख रुपये

लियुंड़ा के सुभाष गंभीर बीमारी से पीड़ित हैं। वह व्हील चेयर पर शिकायत लेकर पहुंचे थे। सुभाष का कहना था कि उनकी बीमारी का इलाज है पर इसके लिए पैसे नहीं हैं। वन मंत्री ने समस्या को ध्यान से सुनते हुए डीसी कांगड़ा को हल करने के निर्देश दिए। राकेश पठानिया ने कहा कि इस बीमारी की पहली डोज के लिए धन सरकार मुहैया कराएगी, जो लगभग 15 लाख रुपये आएगा। ऐसी कितनी डोज लगेंगी, उसका फैसला बाद में लिया जाएगा। उन्होंने उपायुक्त से युवक को आउटसोर्स के माध्यम से रोजगार मुहैया करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने युवक को आश्वस्त किया कि मुख्यमंत्री राहत कोष से इलाज के लिए सहायता की जाएगी। साथ ही मुख्यमंत्री सहारा योजना के तहत 3000 रुपये पेंशन भी लगाई जाएगी।

..

चार घंटे में आई 68 शिकायतें, अधिकतर का मौके पर किया निपटारा

राजकीय उच्च पाठशाला लोअर खैरा में आयोजित जनमंच कार्यक्रम में कुल 68 शिकायतें प्राप्त हुई। 40 फीसद पानी व 30 फीसद राजस्व विभाग की थीं। अधिकांश का मौके पर ही निपटारा कर दिया, जबकि शेष समस्याओं के समाधान 10 दिन के भीतर करने के निर्देश दिए। इस दौरान चिकित्सा शिविर का आयोजन किया गया और करीब 110 के स्वास्थ्य की जांच की गई। कार्यक्रम के दौरान एक बूटा बेटी के नाम के तहत लोंगिणी (छैंछड़ी) की बेटी इबाना के स्वजन को पांच औषधीय पौधे भेंट किए गए। इसके अलावा छह परिवारों को निश्शुल्क गैस चूल्हे व बेटी है अनमोल योजना के तहत दो लाभार्थी बच्चियों के स्वजन को 12-12 हजार रुपये तथा रेडक्रास सोसायटी की ओर से आठ दिव्यांगों को व्हीलचेयर व अन्य यंत्र वितरित किए गए।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.