राज्‍यपाल से दुर्व्यवहार संविधान का अपमान, शांता कुमार ने पूर्व मुख्‍यमंत्री वीरभद्र सिंह से की बात

हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार

Shanta Talk Virbhadra Singh हिमाचल के पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार ने कहा हिमाचल विधानसभा के प्रवेशद्वार पर राज्यपाल के साथ हुए दुर्व्यवहार से और उसके बाद होने वाली सभी घटनाओं से बहुत अधिक आहत हुए हैं। हिमाचल प्रदेश के इतिहास में इस प्रकार की दुर्भाग्यपूर्ण घटना पहली बार घटी है।

Rajesh Kumar SharmaWed, 03 Mar 2021 01:48 PM (IST)

पालमपुर, जेएनएन। हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार ने कहा हिमाचल विधानसभा के प्रवेशद्वार पर राज्यपाल के साथ हुए दुर्व्यवहार से और उसके बाद होने वाली सभी घटनाओं से बहुत अधिक आहत हुए हैं। हिमाचल प्रदेश के इतिहास में इस प्रकार की दुर्भाग्यपूर्ण घटना पहली बार घटी है। उन्होंने कहा राज्यपाल किसी पार्टी का नहीं होता। प्रदेश में संवैधानिक प्रमुख के रूप में वह भारत के संविधान का प्रतीक होता है। राज्यपाल से दुर्व्यवहार भारत के संविधान का अपमान है। यह बहुत बड़ा अपराध है।

शांता कुमार ने कहा कि आज से 50 साल पहले मैं पहली बार हिमाचल विधानसभा का सदस्य बना था। डाक्‍टर यशवंत सिंह परमार मुख्यमंत्री थे। हिमाचल विधानसभा अपने अच्छे व्यवहार के कारण पूरे भारत में प्रसिद्ध थी। इस बार इस घटना ने हिमाचल प्रदेश को पूरे देश में बदनाम किया है। उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह से दूरभाष पर बात की है व उनसे आग्रह किया है कि राज्यपाल से दुव्यर्वहार अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण है। वह कांग्रेस विधायकों को इसके लिए क्षमा याचना के लिए कहें।

यह स्पष्ट रूप से भारत के संविधान का अपमान है। इतना बड़ा अपराध करने के बाद जिद से खड़े रहना और भी दुर्भाग्यपूर्ण है। कांग्रेस विधायक क्षमा याचना करेंगे तो उनका कद छोटा न होकर बड़ा होगा। शांता कुमार ने कहा पूरे प्रदेश में इस पर विरोध प्रदर्शन व पुतले जलाए जाने की घटना और भी दुर्भाग्यपूर्ण है। एक अपराध को ठीक ठहराने के लिए और भी अधिक अपराध हो रहे हैं। उन्होंने वीरभद्र सिंह से आग्रह किया है कि वे इस संबंध में पहल करें और हिमाचल को इस बदनामी से बचाएं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.