स्वच्छ गांव हरित गांव विषय पर सराहां कालेज में आयोजित हुई एक दिवसीय कार्यशाला

नेहरु युवा केंद्र नाहन द्वारा स्वच्छ गांव हरित गांव विषय पर राजकीय आदर्श महाविद्यालय सराहां में एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। जिसमें बतौर मुख्य अतिथि उपमंडल अधिकारी (नागरिक) पच्छाद स्थित सराहां डा शशांक गुप्ता रहे। उन्होंने सभी से साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखने का आग्रह किया।

Richa RanaTue, 07 Dec 2021 05:30 PM (IST)
हरित गांव विषय पर राजकीय आदर्श महाविद्यालय सराहां में एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया।

नाहन, जागरण संवाददाता। नेहरु युवा केंद्र नाहन द्वारा स्वच्छ गांव हरित गांव विषय पर राजकीय आदर्श महाविद्यालय सराहां में एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। जिसमें बतौर मुख्य अतिथि उपमंडल अधिकारी (नागरिक) पच्छाद स्थित सराहां डा शशांक गुप्ता रहे। डा गुप्ता ने कार्यशाला को संबोधित करते हुए कहा कि स्वच्छ गांव के लिए घरेलू गीले एवं सूखे कूड़े को कूड़ेदान में अलग-अलग इकट्ठा करें या उसे पंचायत के अधीन सौंपें या किसी एकांत स्थान पर गड्ढा कर दफनाएं। इसके अतिरिक्त, उन्होंने सभी से साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखने तथा कूडे़ को कूड़ेदान में ही डालने का आग्रह किया। मुख्य अतिथि ने कैच द रेन (भाग-2) के बारे में सभी प्रतिभागियों को जानकारी दी एवं उनके साथ विचार विमर्श किया।

कार्यशाला के प्रथम सत्र में परियोजना अधिकारी डीआरडीए नाहन कल्याणी गुप्ता ने सभी श्रोताओं एवं विद्यार्थियों को गांव में स्वच्छता के महत्व के बारे में विस्तृत जानकारी दी तथा कूड़े को अलग-अलग कर, किस प्रकार उसका प्रबंधन किया जा सकता है, के बारे में भी प्रस्तुतीकरण के माध्यम से छात्रों के साथ संवाद किया व इसका महत्व बताया। कार्यशाला के दूसरे सत्र में प्रशिक्षण एवं क्षमता निर्माण समन्वयक डीडीएमए नाहन राजन कुमार शर्मा ने श्रोताओं व छात्रों को जलवायु परिवर्तन व इससे बचने के उपाय तथा नवीकरणीय स्रोतों के प्रयोग बारे छात्रों के साथ प्रस्तुतीकरण के माध्यम से संवाद स्थापित किया तथा वर्तमान में किस प्रकार जलवायु परिवर्तन मानव जाति के लिए हानिकारक हो सकता है, के बारे में भी सभी को अवगत करवाया व इससे बचाव के उपाय साझा किए।

जिला युवा अधिकारी नेहरु युवा केंद्र नाहन अनिल डोगरा ने कार्यशाला के बारे में विस्तार से प्रतिभागियों को अवगत करवाया एवं स्वच्छ गांव हरित गांव अभियान के बारे में सभी गणमान्य एवं श्रोताओं को जानकारी दी। दोपहर बाद सत्र 3 में जिला युवा अधिकारी ने छात्रों श्रोताओं के साथ किस प्रकार से गांव को प्लास्टिक मुक्त किया जा सकता है एवं इसकी आवश्यकता के बारे में विस्तृत रूप से चर्चा की। प्रधानाचार्य राजकीय आदर्श महाविद्यालय सराहां डाक्टर हेमंत कुमार ने नेहरु युवा केंद्र नाहन व सभी स्त्रोत व्यक्तियों व अधिकारियों का धन्यवाद किया एवं अपने विचार छात्रों व सभी श्रोताओं से साझा किए। उन्होंने भविष्य में इस तरह की कार्यशाला करवाए जाने पर भी बल दिया।

कार्यशाला के अंत में एपीए, नेहरु युवा केंद्र नाहन सुरेंद्र शर्मा ने धन्यवाद प्रस्ताव में श्रोताओं व गणमान्य व्यक्तियों के साथ भी अपने विचार व अनुभव साझा किए। एक दिवसीय कार्यशाला में वाइआरसी कोआर्डिनेटर नेहरु युवा केंद्र नाहन रमना कुमारी ने मध्यस्थता की व कार्यशाला को सफल बनाने में सहयोग प्रदान किया। इस कार्यशाला में विभिन्न पंचायतों से प्रधान व खंड समन्वयक खंड विकास कार्यालय सराहां सहित अन्य कर्मचारी भी उपस्थित रहे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.