आंधी व ओलावृष्टि से किसानों और बागवानों की मेहनत पर पर पानी

हिमाचल प्रदेश में इस साल अप्रैल से लेकर 15 जून तक आंधी व ओलावृष्टि से करीब 827 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। कृषि व बागवानी को ही 376.92 करोड़ रुपये का नुकसान हो गया है। इससे किसानों व बागवानों के अरमानों पर पानी फिर गया है।

Vijay BhushanFri, 18 Jun 2021 09:27 PM (IST)
मंडी में सेब की फसल को हुआ नुकसान। जागरण आर्काइव

यादवेन्द्र शर्मा, शिमला। हिमाचल प्रदेश में इस साल अप्रैल से लेकर 15 जून तक आंधी व ओलावृष्टि से करीब 827 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। कृषि व बागवानी को ही 376.92 करोड़ रुपये का नुकसान हो गया है। इससे किसानों व बागवानों के अरमानों पर पानी फिर गया है। अन्य विभागों को 450 करोड़ रुपये के नुकसान का अनुमान है जिसमें स्कूल भवन, सड़कें, घर, दुकान, गौशाला, बिजली व पेयजल योजनाएं शामिल हैं।

प्रदेश में 12 जून को आंधी व ओलावृष्टि और 13 जून को आए मानसून से अब तक करीब 10 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। मानसून के दौरान नुकसान से बचने की तैयारी इस बार जमीनी स्तर पर नहीं है। इसका कारण यह है कि कोरोना कफ्र्यू की वजह से नालियों और नालों की सफाई नहीं हो सकी है। ऐसे में लोगों की ओर से नालों में फेंका गया मलबा ज्यादा नुकसान पहुंचाएगा। दो दिनों की बारिश के दौरान प्रदेश में सड़कों की स्थिति ऐसी नजर आई जैसे खड्ड में पानी बह रहा हो। इस कारण सड़क पर लोगों का चलना और वाहन चलाना मुश्किल हो रहा था।

 

सात जिलों में काफी नुकसान

आंधी व ओलावृष्टि से कई पेड़ उखडऩे और कई पेड़ों की टहनियां टूटने के साथ फल बर्बाद हो गई। ओलों से बचाने के लिए लगाई गई नेट भी टूट गईं। प्रदेश के सात जिलों शिमला, सिरमौर, कुल्लू, सोलन, चंबा, हमीरपुर व मंडी में काफी नुकसान हुआ है। सेब के साथ गुठलीदार फलों बादाम, प्लम, खुमानी, आड़ू, चेरी व आम को नुकसान हुआ है।

शिमला जिला में 262 करोड़ का नुकसान

प्रदेश के 10 जिलों में से शिमला जिला में 90 फीसद बागवानी को नुकसान हुआ है। शिमला जिला में 262 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है।

आंधी, ओलावृष्टि व बारिश से नुकसान

जिला,बागवानी,कृषि

बिलासपुर,11.62,5.78

चंबा,130.27,0.00

हमीरपुर,153.47,0.00

कांगड़ा,28.69,1818.00

किन्नौर,-,428.70

कुल्लू,2296.67,12.00

लाहुल स्पीति-32.50

मंडी,222.15,58.82

शिमला,26269.98,3268.92

सिरमौर,234.48,0.00

सोलन,630.24350.93

ऊना,43.40,1697.25

कुल,30020.95,7672.90

(नुकसान लाख रुपये में। किन्नौर व लाहुल स्पीति जिलों में बागवानी को नुकसान की रिपोर्ट अभी बागवानी विभाग के पास नहीं आई है।)

हिमाचल में आंधी व ओलावृष्टि से 300.20 करोड़ रुपये से अधिक का नुकसान हो चुका है।

-डा. जेपी शर्मा, बागवानी निदेशक, हिमाचल प्रदेश

आंधी व ओलावृष्टि के कारण प्रदेश में कृषि को 76.72 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। मानसून के दौरान भी हुए नुकसान की रिपोर्ट बनाने के निर्देश दिए गए हैं।

-नरेश ठाकुर, निदेशक, कृषि विभाग

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.