पर्यटकों के लिए यादगार बनेगा कालका शिमला ट्रैक का सफर, ट्रेनों के डिब्‍बे बदलेंगे, कांगड़ा घाटी को भी सौगात

केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल व मुख्‍यमंत्री जयराम ठाकुर शिमला में पत्रकारों से बातचीत करते हुए

Railway Minister Piyush Goyal कालका-शिमला हेरीटेज रेललाइन पर चलने वाली सभी रेलगाडि़यों के डिब्बों को बदला जाएगा और यह मॉर्डन डिब्बे होंगे जिसमें पर्यटक पहाड़ों के सौंदर्य का आंनद ले सकेंगे। इस रेललाइन पर सफर कर संतुष्टि नहीं मिली रेल के सभी डिब्बों को बदलने की आवश्यकता है।

Rajesh Kumar SharmaMon, 01 Mar 2021 01:55 PM (IST)

शिमला, जेएनएन। कालका-शिमला हेरीटेज रेललाइन पर चलने वाली सभी रेलगाडि़यों के डिब्बों को बदला जाएगा और यह मॉर्डन डिब्बे होंगे, जिसमें पर्यटक पहाड़ों के सौंदर्य का आंनद ले सकेंगे। इस रेललाइन पर सफर कर संतुष्टि नहीं मिली, रेल के सभी डिब्बों को बदलने की आवश्यकता है। इसका डिजाइन तैयार किया गया है। इसके साथ रेल की गति को बढ़ाने के लिए तीव्र मोड और जहां पर पुल और ओवरब्रिज आदि बनने हैं उन्हें बनाया जाएगा। यह सभी कार्य 15 अगस्त 2022 तक पूरे कर लिए जाएंगे। यह बात केद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने शिमला में मुख्यमंत्री आवास ओकओवर में पत्रकार वार्ता के दौरान कही। इस दौरान मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर उनके साथ मौजूद थे।

 

उन्होंने कहा डबल इंजन वाली जयराम सरकार के साथ रेलवे मंत्रालय विकास को गति देेने के लिए खड़ा हो गया है। इसी का परिणाम है कि पूर्व में कांग्रेस सरकार के समय हिमाचल के लिए दिए जाने वाले रेल बजट में मोदी सरकार ने सात गुणा वृद्धि की है। 108 करोड़ से बढ़ाकर 770 करोड़ किया है। हिमाचल में रेलवे के विस्तार कार्यों के लिए अलग से विशेष अधिकारी लगाया जाएगा और रेलवे मंत्रालय इसकी निगरानी करेगा।

कालका शिमला रेललाइन में आने वाले सभी स्टेशन में हॉपअप आदि की सुविधा दी जाएगी, जिससे पर्यटक या कोई भी बीच के स्टेशनों में घूम सकेंगे और वहां पर सैर कर रेल में सफर कर सकेंगे। रेलवे मंत्री ने कहा देश में हिमाचल एक मात्र राज्य है, जिसने ईज ऑफ डूइिंग बिजनेस में ऑन लाईन सुविधा और उसे आसान कर 16वें स्थान से सातवें स्थान पर पहुंचा है। चंडीगढ़-बद्दी रेल लाईन के कार्य में तेजी लाई जाएगी, इसके लिए 200 करोड़ रुपये का आबंटन किया है। इससे मालगाड़ी बद्दी तक आएगी। भानुपल्ली बिलासपुर रेललाइन के लिए 405 करोड़ दिए गए हैं और इसके कार्य में तेजी लाई जाएगी।

पठानेकोट-जागिंद्रनगर रेललाइन में एक-एक नया डिब्बा

पठानेकोट-जोगिंद्रनगर रेल लाइन में पुल और ओवर हेड ब्रिज के साथ यहां चलने वाली रेलगाडि़यों में एक-एक माडर्न डिब्‍बा जिसमें बड़े-बडे शीशे लगे होंगे लगाया जाएगा। इससे पर्यटक पालमपुर के चाय बागान को निहारने के साथ धौलाधार की ऊंची बर्फीली चोटियों को निहार सकेंगे।

पांवटा साहिब-जगाधरी के लिए रेललाइन के सर्वे के आदेश

औद्योगिक क्षेत्र पांवटा साहिब को रेलवे से जोड़ने के लिए पांवटा साहिब-जगाधरी रेल लाइन सर्वे के आदेश दे दिए हैं। इससे माल लाने और ले जाने में सुविधा होगी। इसका सर्वे किया जाएगा, इस संबंध में प्रस्ताव राज्य सरकार ने दिया है।

कोविड महामारी के दौर में रेलवे ने ढाेया रिकाॅर्ड माल

कोविड महामारी के दौरान जब अर्थव्यवस्था प्रभावित थी और लॉकडाउन रहा, इसमें भी रेलवे ने बीते एक वर्ष के दौरान 110 करोड़ टन माल ढोया है। 2019-20 में भी 110 करोड़ टन और इस वर्ष 31 मार्च तक बीते वर्ष से अधिक हो जाएगा।

हिमाचल में कांग्रेस विपक्ष का नेता बनाने लायक भी नहीं रहेगी

कांग्रेस किसानों और आम लोगों को बर्गलाती और गुमराह करती रही तो हिमाचल में कांग्रेस के ऐसे हाल होंगे कि विपक्ष का नेता भी बनाने के लायक नहीं रहेगी। देश और प्रदेश में विकास को गति दी जा रही है। बददी में अंतरराष्‍ट्रीय स्तर की लैब खोलने को मंजूरी प्रदान कर दी है। इसमें बद़दी में उत्पादित वस्तुओं का भारतीय मानक ब्यूरो प्राधिकरण द्वारा मान्यता दी जा सकेगी। अभी इसके लिए चंडीगढ़ में व्यवस्था है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.