धर्मपुर को पीडब्ल्यूडी सर्कल, रोजगार उपकार्यालय की सौगात

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि प्रदेश सरकार समाज के प्रत्येक वर्ग के कल्याण और राज्य के प्रत्येक क्षेत्र का चहुंमुखी विकास सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध है। कोविड के बावजूद प्रदेश के 42 हलकों में लगभग 4500 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किए गए हैं।

Neeraj Kumar AzadMon, 29 Nov 2021 10:05 PM (IST)
मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर धर्मपुर हलके में 381 करोड़ के विकास कार्यों का शिलान्यास व लोकार्पण किया। जागरण

धर्मपुर, सहयोगी। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि प्रदेश सरकार समाज के प्रत्येक वर्ग के कल्याण और राज्य के प्रत्येक क्षेत्र का चहुंमुखी विकास सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध है। कोविड महामारी के बावजूद प्रदेश के 42 हलकों में लगभग 4500 करोड़ रुपये की विभिन्न विकास परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किए गए हैं। जयराम ठाकुर ने सोमवार को धर्मपुर हलके के दौरे के दौरान 381 करोड़ के 96 विकास कार्यों के लोकार्पण व शिलान्यास किए। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर धर्मपुर में लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) का वृत्त (सर्कल) कार्यालय, रोजगार उपकार्यालय व श्रम निरीक्षक कार्यालय खोलने की घोषणा की।

इन विकास कार्यों की घोषणा

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मंडप को स्तरोन्नत कर 50 बिस्तर का अस्पताल बनाने, स्योह में स्थित पशु औषधालय को स्तरोन्नत कर पशु अस्पताल बनाने, दारपा में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र खोलने, बनेरड़ी में पशु औषधालय खोलने, धर्मपुर से दिल्ली तक लग्जरी बस सेवा शुरू करने, क्षेत्र के तीन अन्य प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों को स्तरोन्नत कर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का दर्जा देने और क्षेत्र की दो राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशालाओं में विज्ञान संकाय की कक्षाएं शुरू करने की घोषणा की। जयराम ठाकुर ने संधोल और तनिहार में हेलीपैड के निर्माण, धर्मपुर स्थित क्षेत्रीय प्रबंधक कार्यालय भवन की मरम्मत के लिए 10 लाख रुपये, क्षेत्र की चार सड़कों के लिए 10-10 लाख रुपये और धर्मपुर बस अड्डे पर इंटरलाकिंग टाइल्स के लिए 15 लाख रुपये प्रदान करने की भी घोषणा की।

इन विकास कार्यों का शुभारंभ

मुख्यमंत्री ने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र डरवाड़ में 45 लाख रुपये की लागत से निर्मित कर्मचारी आवास, धर्मपुर बस अड्डा के समीप 1.15 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित 62 मीटर लंबे पैदल पुल, 28 लाख रुपये की लागत से उपकेंद्र मझयार, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला मंडप में 58 लाख रुपये की लागत से निर्मित चार कमरों, राजकीय उच्च पाठशाला छात्र पिपली में 58 लाख रुपये की लागत से निर्मित चार कमरों, आठ करोड़ रुपये से निर्मित राजकीय महाविद्यालय संधोल, चुरु रा बल्ह में 10.62 करोड़ रुपये से निर्मित 142 मीटर लंबे पुल, हलोग से पैहड़ सड़क पर मकर नाला पर 2.90 करोड़ रुपये की लागत से 16.75 मीटर लंबे पुल, पट्टी झंझैल कठियाली वाया दारकु सड़क पर सोन खड्ड पर 8.90 करोड़ से 75 मीटर लंबे पुल, 65 लाख रुपये से निर्मित धर्मपुर से सतरेहड़ वाया मठी बनवाड़ सड़क, सयाठी सड़क पर 45 लाख रुपये से निर्मित नालड पुल, 1.74 करोड़ रुपये से निर्मित हुक्कल से सुन खड्ड सड़क, 4.45 करोड़ रुपये से निर्मित डबरोट से अरली परयाल सड़कए 3.50 करोड़ रुपये से निर्मित खोपौण से चुरु रा बल्ह सड़क, 3.34 करोड़ रुपये से स्तरोन्नत लौंगणी से सज्याओ सड़क और 3 करोड़ रुपये से स्तरोन्नत पारछू से सज्याओ सड़क का शुभारंभ किया। लौंगणी पंचायत के नालड में एक करोड़ रुपये से निर्मित गोसदन का भी लोकार्पण किया।

इन कार्यों का शिलान्यास

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने जलशक्ति विभाग के मंडप उपमंडल के अंतर्गत 17.08 करोड़ रुपये की विभिन्न पेयजल आपूर्ति योजनाओं के नवीनीकरण कार्यों, जलशक्ति उपमंडल टिहरा में 15.58 करोड़ रुपये से विभिन्न उठाऊ जलापूर्ति योजनाओं, जलशक्ति मंडल सरकाघाट के अंतर्गत रोपड़ी चौक और अन्य विभिन्न गांवों के लिए जलजीवन मिशन की योजनाओं के जल स्रोतों के सुदृढ़ीकरण के लिए 5.40 करोड़ रुपये के कार्य और 9.88 करोड़ रुपये के एकीकृत मधुमक्खी विकास केंद्र जलेड़ा सहित कई अन्य योजनाओं का शिलान्यास किया।

जल्द आदर्श क्षेत्र बनेगा धर्मपुर

जलशक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने कहा चार साल में धर्मपुर में अभूतपूर्व विकास हुआ है। इसका श्रेय मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को जाता है। यह क्षेत्र प्रदेश के आदर्श विधानसभा क्षेत्र के रूप में तेजी से उभर रहा है। प्रदेश के निचले क्षेत्रों में बागवानी विकास सुनिश्चित करने के लिए राज्य के लिए 1688 करोड़ रुपये की शिव परियोजना स्वीकृत की गई है। उन्होंने क्षेत्र की विभिन्न विकासात्मक मांगों की भी विस्तृत जानकारी दी। भाजपा के सह मीडिया प्रभारी रजत ठाकुर ने धर्मपुर क्षेत्र में करोड़ों रुपये की विकासात्मक परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास करने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। यह क्षेत्र कभी चंगर क्षेत्र के रूप में गिना जाता था, आज धर्मपुर क्षेत्र में लगभग हर घर में नल से जल की सुविधा उपलब्ध है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.