देहरा में 34 बीडीसी वार्ड सदस्‍यों की जीत के लिए राजनीतिक दलों ने लगाया जोर, कल 27 पंचायतों में मतदान

विकास खंड देहरा के अंतर्गत 34 बीडीसी सदस्यों के निर्वाचन के लिए रविवार को मतदान होगा।

Panchayat Chunav विकास खंड देहरा के अंतर्गत 34 बीडीसी सदस्यों के निर्वाचन के लिए रविवार को मतदान होगा। यहां थिल बीडीसी वार्ड से एक सदस्य को पहले ही निर्विरोध चुना जा चुका है जबकि अन्यों पर मतदान होना है।

Publish Date:Sat, 16 Jan 2021 01:50 PM (IST) Author: Rajesh Kumar Sharma

ज्वालामुखी, प्रवीण कुमार शर्मा। विकास खंड देहरा के अंतर्गत 34 बीडीसी सदस्यों के निर्वाचन के लिए रविवार को मतदान होगा। यहां थिल बीडीसी वार्ड से एक सदस्य को पहले ही निर्विरोध चुना जा चुका है, जबकि अन्यों पर मतदान होना है। रविवार को विकास खंड के तहत कुल 79 पंचायतों में से 27 पंचायतों के 155 वार्डों के मतदाता पंचायत, बीडीसी व जिला परिषद के लिए भी मतदान करेंगे। मतदान के दूसरे चरण में 19 जनवरी को भी 155 वार्डों के मतदाता 27 पंचायतें चुनेंगे, जबकि 21 जनवरी को 141 वार्डों के वोटर 25 पंचायत प्रतिनिधियों के साथ बीडीसी सदस्यों के लिए भी मतदान करेंगे। हालांकि पंचायतों में भी राजनीतिक माहौल पूरी तरह चरम पर है। लेकिन बीडीसी सदस्यों के मनोनयन से बनने वाले चेयरमैन के लिए अभी से राजनीतिक दलों की चहलकदमी बढ़ी है।

देहरा बिकास खंड के 34 बीडीसी सदस्यों पर चेयरमैन चुनने का दारोमदार रहता है। बेशक यह चुनाव राजनीतिक दलों के चुनाव चिन्ह पर ना हो रहे हों, लेकिन चुनाव के बाद बीडीसी तथा जिला परिषद चेयरमैन चुनने के लिए सबसे अधिक राजनीतिक उठापठक होती है। विकास खंड के चेयरमैन की हॉट सीट के लिए 34 में से 18 बीडीसी सदस्य जिस दल को समर्थन देंगे, उनका ही अध्यक्ष व उपाध्यक्ष इन पदों पर विराजमान होगा। यही कारण है कि राजनीतिक दल बाहर से न सही अंदरखाते इन चुनावों में अपने अपने उम्मीदवार को जीताने का दम लगाते हैं, ताकि बाद में अध्यक्ष व उपाध्यक्षों की कुर्सी पर अपनों को बिठा सकें।

बीडीसी की कुल 34 सीटों के लिए  ठाकुरद्वारा, खबली, हरिपुर, खैरियां की 4 सीटें इस चुनाव में अनुसूचित जाति की महिला के लिए आरक्षित हैं, जबकि नाहलियां, उम्मर, त्रिपल की तीन सीटें अनुसूचित जाति के लिए ओपन हैं। कमलोटा, सीहोरपाई व मूहल तीन सीटों को ओबीसी महिला के लिए आरक्षित रखा गया है जबकि भाटी बोहन, बनगोली सीटें अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए खुली हैं।

डोला खरियाणा, सलिहार, सियालकड, अधबानी, हिरण, द्रंग घलौर, कथोग, म्योल, कलर बीडीसी सीटें महिला उम्मीदवार के लिए खुली हैं, जबकि थिल, बग्ग, खुंडिया, टिहरी, पीहड़ी, मझीन, सिलह, गुगाणा, जखोटा, धवाला, डओहग देहरियां व नोशहरा सीटें ओपन हैं।

भाजपा तथा कांग्रेस 34 सीटों में से कितने अपने समर्थकों को जीताकर बीडीसी सदस्य बनवा पाती है, यह बाद की बात है। लेकिन बीडीसी अध्यक्ष व उपाध्यक्ष उनके बनें, इसके लिए राजनीतिक बिसात बिछ चुकी है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.