प्रशासन के प्रतिबंध के बावजूद चोरी छुपे किन्नर कैलाश यात्रा पर गए 11 लोगों को पुलिस ने पहुंचाया थाने

Kinner Kailash Yatra प्रशासन के अधिकारिक तौर पर किन्नर कैलाश यात्रा पर प्रतिबंध लगाने के बावजूद लोग नहीं मान रहे हैं। करीब 11 लोग चोरी छिपे किन्नर कैलाश यात्रा के लिए निकल गए। पुलिस को जब इसका पता लगा सभी को पकड़कर बुधवार सुबह रिकांगपिओ थाने में पेश किया गया।

Rajesh Kumar SharmaThu, 29 Jul 2021 08:45 AM (IST)
जिला किन्नौर प्रशासन के अधिकारिक तौर पर किन्नर कैलाश यात्रा पर प्रतिबंध लगाने के बावजूद लोग नहीं मान रहे हैं।

रिकांगपिओ, संवाद सहयोगी। जिला किन्नौर प्रशासन के अधिकारिक तौर पर किन्नर कैलाश यात्रा पर प्रतिबंध लगाने के बावजूद लोग नहीं मान रहे हैं। करीब 11 लोग चोरी छिपे किन्नर कैलाश यात्रा के लिए निकल गए। पुलिस को जब इसका पता लगा सभी को पकड़कर बुधवार सुबह रिकांगपिओ थाने में पेश किया गया। एसपी किन्नौर ने बताया पुलिस को सूचना मिली थी कि कुछ लोग किन्नर कैलाश यात्रा पर गए हैं। पुलिस थाना रिकांगपिओ के तहत एक तीन सदस्यीय दल बनाया और इन लोगों की तलाश के लिए किन्नर कैलाश रास्ते की ओर भेजा गया।

पुलिस दल ने पाया कि जिला सिरमौर, सोलन व शिमला से संबंधित 11लोग किन्नर कैलाश के समीप टेंंट लगाकर रुके थे। इनको रिकांगपिओ लाया गया है और पूछताछ की गई। एसपी ने बताया कि दूसरे राज्यों से आने वाले श्रद्धालुओं को इस विषय में जानकारी देने के लिए किन्नर कैलाश यात्रा मार्ग पर दो स्थानों पर पुलिस व गृह रक्षा विभाग के जवान भी तैनात किए गए हैं। फिर भी कई श्रद्धालु चोरी छिपे किन्नर कैलाश यात्रा पर निकल कर अपना जीवन संकट में डाल रहे हैंं। उन्होंने बताया कि इस वर्ष भी किन्नर कैलाश यात्रा पर प्रतिबंध लगाया गया है।

सैलानियों को नदियों और खड्डों के किनारे न जाने की सलाह

प्रशासन ने स्थानीय लोगों और सैलानियों से नदियों व खड्डों के किनारे न जाने की अपील की है। उपायुक्त आदित्य नेगी ने कहा कि जिले में 24 घंटों के दौरान हो रही बारिश से अब तक 10 मुख्य सड़क मार्गों सहित 49 संपर्क मार्ग बाधित हुए हैं। इन सड़कों को खोलने का काम किया जा रहा है। जिले में चार घरों को नुकसान पहुंचा है।

शिमला जिले में 49 सड़कें बंद, 13 पेयजल परियोजनाएं प्रभावित

शिमला। जिला शिमला में दो दिन से हो रही बारिश से काफी ज्यादा नुकसान हुआ है। शिमला शहर में गाडिय़ों पर पत्थर गिर रहे हैं। जिले में 10 मुख्य सहित 49 संपर्क मार्ग बंद पड़े हैं। इसके अलावा 13 पेयजल परियोजनाओं को नुकसान हुआ। जिला प्रशासन ने सभी एसडीएम को सतर्क रहने के निर्देश जारी किए है।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.