बेरोजगारी और चोर दरवाजे से भर्तियों पर कांग्रेस का वाकआउट, सराज और धर्मपुर में दिए रोजगार पर श्‍वेत पत्र जारी करे सरकार

Himachal Vidhan Sabha Monsoon Session हिमाचल प्रदेश विधानसभा के मानसून सत्र में प्रश्नकाल शुरू होने से पहले विपक्षी कांग्रेस विधायकों ने हंगामा कर दिया। विपक्ष ने प्रदेश में बेरोजगारी की स्थिति और सरकारी विभागों में चोर दरवाजे से हो रही भर्तियों को लेकर प्‍वाइंट आफ आर्डर का मामला उठाया।

Rajesh Kumar SharmaWed, 04 Aug 2021 11:28 AM (IST)
हिमाचल प्रदेश विधानसभा के मानसून सत्र में प्रश्नकाल शुरू होने से पहले विपक्षी कांग्रेस विधायकों ने हंगामा कर दिया।

शिमला, राज्य ब्यूरो। Himachal Vidhan Sabha Monsoon Session, हिमाचल प्रदेश विधानसभा के मानसून सत्र में प्रश्नकाल शुरू होने से पहले विपक्षी कांग्रेस विधायकों ने हंगामा कर दिया। विपक्ष ने प्रदेश में बेरोजगारी की स्थिति और सरकारी विभागों में चोर दरवाजे से हो रही भर्तियों को लेकर प्‍वाइंट आफ आर्डर का मामला उठाया। विधानसभा अध्यक्ष की ओर से चर्चा की मंजूरी न दिए जाने के विरोध में विपक्ष ने वॉकआउट किया। बुधवार को विधानसभा सत्र शुरू होने से ठीक पहले नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री खड़े हुए। उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष विपिन सिंह परमार से राज्य में बेरोजगारी की स्थिति और सरकारी विभागों में चोर दरवाजे से हो रही नियुक्तियों का मामला उठाना चाहा।

इस पर विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि इस मामले पर आज सुबह 9:47 पर नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री आशा कुमारी इंद्र दत्त लखन पाल राजेंद्र राणा की ओर से नियम-67 के तहत चर्चा मांगी गई। विपक्ष चाहता था कि यह गंभीर मामला है और इस मामले पर सरकार को चर्चा करनी चाहिए।

विपक्षी कांग्रेस सदस्यों द्वारा वाकआउट करने के बाद मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा विपक्ष ने तो रसम बना ली है, बिना कारण ही वकआउट कर रहे हैं। सदन की गंभीरता को विपक्ष भूल गया है। जानबूझकर विधानसभा की कार्यवाही में विघ्‍न डाला जाता है। ऐसा पहली बार नहीं हो रहा है कि सरकार के विभिन्न उपक्रमों में आउट सोर्स पर भर्तियां हो रही हैं। एक क्षेत्र विशेष में भर्तियों को लेकर लगाए जा रहे आरोप बिल्कुल निराधार हैं। चर्चा करने के लिए प्रस्‍ताव लाना सदस्यों का अधिकार है। लेकिन अकारण ही सदन की कार्यवाही को बाधित करना एक आदत बन चुकी है। कांग्रेसी विधायक केवल विधानसभा में खबर बनाने के लिए आते हैं, इसलिए वॉकआउट करते हैं, कांग्रेस का यही रवैया बन चुका है।

विधानसभा अध्यक्ष विपिन सिंह परमार ने कहा कि विपक्षी कांग्रेस द्वारा लाए गए बेरोजगारी की समस्या और प्रदेश सरकार के विभिन्न विभागों में चोर दरवाजे से हो रही भर्तियों पर लाया गया प्रस्ताव मैं स्वीकार नहीं करूंगा। विपक्षी कांग्रेस के वॉक आउट करने के बाद प्रश्नकाल चलता रहा कांग्रेस विधायकों की अनुपस्थिति में उनके प्रश्नों की गैरहाजरी लगी।

मुकेश अग्निहोत्री ने उठाई श्वेत पत्र की मांग

नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने सरकार से मांग की है कि बेरोजगारी व सराज और धर्मपुर विधानसभा क्षेत्र के लोगों को सरकारी क्षेत्र में दी गई नौकरियों के संदर्भ में श्वेत पत्र जारी करे। क्या प्रदेश में केवल 2 विधानसभा क्षेत्र के लोगों के लिए ही सरकार में रोजगार के अवसर रह गए हैं। उन्होंने मांग की है कि सरकार ने इस संबंध में श्वेत पत्र नहीं लाया तो कांग्रेस अदालत का दरवाजा खटखटाएगी। उनका कहना है मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के विधानसभा क्षेत्र सराज से और सरकार में नंबर दो मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर के विधानसभा क्षेत्र धर्मपुर से 6 हजार लोगों को सरकारी क्षेत्र में रोजगार दिए गए हैं, जबकि प्रदेश के 66 विधानसभा क्षेत्रों को नजरअंदाज किया गया है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.