दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

Mothers Day 2021: डेढ़ साल की बेटी के नेगेटिव होते ही कोविड ड्यूटी पर जुट गईं डाक्‍टर तेंजिन

सर्जरी विभाग की सीनियर रेजीडेंट डॉ. तेंजिन

Dr Tenjin कोरोना संक्रमित मरीजों का जीवन बचाने के लिए जिगर के टुकड़ों की देखरेख का जिम्मा नौकरानी के हवाले है। डेढ़ साल की बेटी संक्रमित थी उसके नेगेटिव होते ही ड्यूटी पर जुट गईं। 34 वर्षीय डॉ. तेंजिन के पति शरद केंद्रीय विद्यालय संधोल में प्राचार्य हैं।

Rajesh Kumar SharmaSun, 09 May 2021 09:32 AM (IST)

मंडी, मुकेश मेहरा। कोरोना संक्रमित मरीजों का जीवन बचाने के लिए जिगर के टुकड़ों की देखरेख का जिम्मा नौकरानी के हवाले है। डेढ़ साल की बेटी संक्रमित थी, उसके नेगेटिव होते ही ड्यूटी पर जुट गईं। लाल बहादुर शास्त्री मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल नेरचौक (मंडी) की सर्जरी विभाग की सीनियर रेजीडेंट डॉ. तेंजिन कोविड मरीजों को जिंदगी देने के लिए अपना फर्ज निभा रही हैं। लाहुल स्पीति की रहने वाली 34 वर्षीय डॉ. तेंजिन के पति शरद केंद्रीय विद्यालय संधोल में प्राचार्य हैं।

तीन साल का बेटा शिवा व डेढ़ साल की बेटी डालम की देखरेख का जिम्मा नौकरानी पर है। बेटी डालम कुछ समय पहले कोरोना से संक्रमित पाई गई थी। बेटे को अलग कर वह बेटी के साथ आइसोलेट हो गईं, लेकिन बेटी की रिपोर्ट नेगेटिव आते ही पुन: कोविड के खिलाफ मोर्चे पर डट गईं।

डा. तेंजिन बताती हैं कि कोविड ड्यूटी से आने के बाद वह कुछ समय के लिए खुद को आइसोलेट कर लेती हैं। उसके बाद ही अपने बच्चों से मिलती हैं। वह तेंजिन अब तक कई संक्रमित महिलाओं का सीजेरियन कर प्रसव करवा चुकी हैं।

बकौल डा. तेंजिन, कोविड ड्यूटी के सात दिन तक वह वीडियो कॉल के जरिए बच्चों से बात करती हैं। घर आने पर बच्चे एकदम उनके करीब न आएं इसके लिए खुद को अलग कर लेती हैं। हालांकि बेटा समझ जाता है, लेकिन बेटा कई बार जिद्द करती है। कोरोना संक्रमित मरीज भी हमारे सहारे हैं। यह भी हमारा परिवार ही हैं और इनकी देखरेख भी हमारी जिम्मेदारी है।

यह भी पढ़ें: हर कोरोना संक्रमित मरीज को रेमडेसिविर इंजेक्शन लगाना जरूरी नहीं, जानिए क्‍या कहते हैं विशेषज्ञ

यह भी पढ़ें: कोरोना महामारी के बीच अंबुजा सीमेंट कंपनी ने द‍िए 350 ऑक्‍सीजन सिलेंडर, रोजाना 10 टन उत्पादन संभव

यह भी पढ़ें: Himachal Covid Cases Update: कोरोना संक्रमण के एक्‍ट‍िव केस 31 हजार के पार, इन जिलों में बिगड़ रहे हालात

यह भी पढ़ें: कोरोना से बिगड़े हालात के बाद कांगड़ा सहित चार जिलों में बढ़ाई सख्‍ती, जान‍िए सरकार के नए दिशा निर्देश

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.