तलाई में नाबालिग लापता, किरायेदारों पर अगवा करने का शक

बिलासपुर जिले के पुलिस थाना तलाई के तहत नाबालिग लड़की के लापता होने का मामला सामने आया है। स्वजन ने किरायेदार के रूप में रह रहे दो लोगों पर नाबालिग को अगवा करने शक जाहिर भी किया है।

Virender KumarSun, 28 Nov 2021 04:08 PM (IST)
तलाई में नाबालिग के लापता होने पर किरायेदारों पर अगवा करने का शक है। जागरण आर्काइव

बिलासपुर, संवाद सहयोगी। बिलासपुर जिले के पुलिस थाना तलाई के तहत नाबालिग लड़की के लापता होने का मामला सामने आया है। स्वजन ने किरायेदार के रूप में रह रहे दो लोगों पर उसको अगवा करने शक जाहिर भी किया है।

मिली जानकारी के अनुसार, पुलिस थाना तलाई के तहत शनिवार को नाबालिग लड़की सुबह 11 बजे दादी के पास जाने के लिए घर से निकली थी तथा रात को जब वह घर वापस नहीं आई तो उन्होंने लड़की के दादा-दादी से संपर्क किया तो उन्हें पता चला कि लड़की उनके घर पहुंची ही नहीं है। इस पर उन्होंने रिश्तेदारों में खोज की। इस पर उन्होंने किरायेदारों को देखा तो वह भी कमरे में नहीं थे। बताया जा रहा है कि यह लड़के उनके घर में ही रह रहे थे तथा घास काटने का काम करते थे।

बताया जा रहा है कि यह पिछले करीब तीन महीनों से उनके घर में रह रहे थे, लेकिन पुलिस थाना में पंजीकरण नहीं करवाया गया था। सूत्रों की मानें तो मकान मालिक के पास न तो इनके कोई दस्तावेज थे और न ही फोटो जिससे उनकी पहचान हो पाती है। आसपास में सुरक्षा को लेकर भी कोई पुख्ता प्रबंध नहीं है जिसकी छानबीन कर उनके बारे में पहचान की जा सके।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, पुलिस की टीम ने शिकायत मिलने पर छानबीन शुरू कर दी है। पंजीकरण न होने के कारण किराये पर रह रहे लोगों की पहचान करना भी मुश्किल है। यदि उनका पंजीकरण थाने में होता तो उनकी पहचान की जा सकती थी।

वहीं, इस बारे में एसपी एसआर राणा ने बताया कि मामले की छानबीन की जा रही है। उन्होंने लोगों से अपील की कि किसी भी व्यक्ति को किरायेदार रखने से पूर्व उसकी छानबीन कर लें तथा उसका पंजीकरण नजदीकी थाने में जरूर करवाएं।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.