केंद्रीय विश्‍वविद्यालय में आज से शुरू होगा काव्य उत्सव, राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय स्‍तर के कवि लेंगे भाग

हिमाचल प्रदेश केंद्रीय विश्‍वविद्यालय धर्मशाला की ओर से महाराजा दाहिर सेन सप्त सिंधु काव्य उत्सव का आयोजन किया जा रहा है। 19 20 और 21 जून को आयोजित होने वाले इस उत्सव में काफी संख्या में देश-विदेश से कवि भाग ले रहे हैं।

Richa RanaSat, 19 Jun 2021 11:42 AM (IST)
केंद्रीय विश्‍वविद्यालय धर्मशाला की ओर से महाराजा दाहिर सेन सप्त सिंधु काव्य उत्सव का आयोजन किया जा रहा है।

धर्मशाला, जागरण संवाददाता। हिमाचल प्रदेश केंद्रीय विश्‍वविद्यालय धर्मशाला की ओर से महाराजा दाहिर सेन सप्त सिंधु काव्य उत्सव का आयोजन किया जा रहा है। 19, 20 और 21 जून को आयोजित होने वाले इस उत्सव में काफी संख्या में देश-विदेश से कवि भाग ले रहे हैं। आनलाइन होने वाले इस तीन दिवसीय उत्सव का आयोजन हर रोज शाम पांच बजे से लेकर शाम सात बजे तक होगा।

इस काव्य पाठ के संयोजक पंजाबी और डोगरी विभाग के डा. नरेश कुमार और डा. हरजिंद्र सिहं रहेंगे। आयोजन समिति में अध्यक्ष डा. बृहस्पति मिश्र, डा. नारायण सिंह राव और डा. नंण्डूरी राजगोपाल शामिल हैं। इस संबंध में विवि के कुलपति डा. रोशन लाल शर्मा ने आयोजन समिति को इस काव्य उत्सव के आयोजन के लिए शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने कहा कि इस तरह के आयोजन होते रहने चाहिए। कविता एक एसा माध्यम है जो सरदहों से परे है, कोई बंदिश उस पर लागू नहीं होती है। विचारों का आदान-प्रदान होता रहना चाहिए। विश्‍वविद्ययालय में इस तरह का पहला आयोजन किया जा रहा है।

 

19 जून को उत्सव के शुभारंभ पर बतौर मुख्य अतिथि विवि के कार्यकारी कुलपति डा. रोशन लाल शर्मा शामिल होंगे। बीज भाषण अंतरराष्ट्रीय हिंदू विवि वर्धा के पूर्व कुलपति प्रो. कपिल कपूर देंगे। उत्सव की अध्यक्षता संपूर्णानंद संस्कृत विवि वाराणसी के कुलपति प्रो. हरेराम त्रिपाठी करेंगे और बतौर विशेष अतिथि सरदार उत्तम सिंह निज्जर फाऊंडेशन के चेयरमैन डा. सतनाम सिंह निज्जर मौजूद रहेंगे। अतिथियों का स्वागत प्रमुख भाषा संकाय डा. बृहस्पति मिश्र और केंद्रीय विवि के पंजाबी और डोगरी के प्रभारी डा. नरेश कुमार उत्सव के संचालक रहेंगे। 20 जून को होने वाले कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि पंजाब भवन, सरी, कनेडा के संस्थापक सुखी बाठ और विशेष अतिथि आईपीएस डा. मनमोहन भाग लेंगे।

इस दौरान होने वाले काव्य प्रस्तुति में जापान से परमिंद्र सोढी, कैनेडा से सुरिंदऱ गीत, अमेरिका से सुखविंद्र कंबोज, अमेरिका से कुलविंद्र, दिल्ली से डा. वनीता, मानसा से डा. वरिंद्र कौर, मोहाली से जगदीप सिद्धु, अमेरिका से राज लाली, दलवीर दिल निज्जर, कैनेडा से सुरजीत, डा. मोहन त्यागी, शिमला से ठाकुर इंद्र सिंह, फरीदकोट से कुमार जगदेव सिंह, फरीदकोट से दविंद्र सैफी अपनी काव्य रचनाएं पेश करेंगे। पंजाबी और डोगरी विभाग के प्रभारी डा. नरेश कुमार सभी अतिथियों का स्वागत करेंगे। कार्यक्रम का संचालन सहायक प्रोफेसर डा. हरजिंद्र सिंह करेंगे और अतिथियों का धन्यवाद सप्त सिंधु परिसर के निदेशक डा. नारायण सिहं राव करेंगे।

 

21 जून को कायर्क्रम में बतौर मुख्य अतिथि पंजाब केंद्रीय विवि भटिंडा के कुलपति डा. जगबीर सिंह भाग लेंगे। भारतीय साहित्य अकादमी दिल्ली के उपाध्यक्ष माधव कौशिक और पाकिस्तान से निदेशक, अदारा, पंजाबी भाषा और संस्कृति डा. शुगरासदफ बतौर विशिष्ट अतिथि भाग लेंगे। कार्यक्रम की अध्यक्षता गुरभजन गिल करेंगे और सभी अतिथियों का स्वागत हिंदी और अंग्रेजी भाषा के विभाग अध्यक्ष डा नंण्डूरी राजगोपाल करेंगे। कार्यक्रम का संचालन हिंदी विभाग के सहायक प्रोफेसर डा ओम प्रकाश प्रजापति करेंगे।

इस दौरान होने वाली काव्य प्रस्तुति में डा. सरबजीत कौर सोहल, पाकिस्तान से ताहिरा सरा, साफिया हयात, सरदार पंछी, पठानकोट से पूरन अहसान, पंचकूला से डा. पूनम द्वेदी, लुधियाना से त्रिलोचन लोची, शिराजा जम्मू के संपादक पोपिंद्र पारस, हिमाचल से नंदिता शर्मा और लुधियाना से मनजिंद्र धनोवा भाग लेंगे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.