400 मीटर के चार चक्‍कर लगाते फूल गईं 86 फीसद युवाओं की सांसें, सेना अधिकारियों ने बताई वजह

सेना में भर्ती होने आ रहे 86 फीसद युवाओं की सांसें दौड़ में फूल रही हैं।

Army Bharti Palampur सेना में भर्ती होने आ रहे 86 फीसद युवाओं की सांसें दौड़ में फूल रही हैं। साथ ही कम ऊंचाई व अन्य शारीरिक क्षमता में भी पहाड़ के युवा पिछड़ने लगे हैं। 400 मीटर के चार चक्कर लगाना भी युवाओं पर भारी पड़ रहा है।

Tue, 23 Feb 2021 05:01 AM (IST)

पालमपुर, कुलदीप राणा। देशसेवा का जज्बा लिए सेना में भर्ती होने आ रहे 86 फीसद युवाओं की सांसें दौड़ में फूल रही हैं। साथ ही कम ऊंचाई व अन्य शारीरिक क्षमता में भी पहाड़ के युवा पिछड़ने लगे हैं। भर्ती के दौरान मैदान में 400 मीटर के चार चक्कर लगाना भी युवाओं पर भारी पड़ रहा है। सैन्य अधिकारियों व चिकित्सकों की मानें तो इसका मुख्य कारण व्यायाम में कमी और खेलों से रुख मोड़ना है। साथ ही फास्ट फूड भी युवाओं को अनफिट बनाने में अहम भूमिका निभा रहा है। दौड़ में पास होने वाले युवाओं को न्यूनतम 10 बीम लगाने के साथ नौ फीट लंबा गड्ढा कूदना होता है।

शरीर के संतुलन जांच के लिए जिगजैग से गुजरना होता है। इससे पहले लंबाई, सीना और वजन के नाप से गुजरना होता है। इसमें खरा उतरने वालों के दस्तावेजों के सत्यापन के बाद अगली प्रक्रिया में मेडिकल जांच की जाती है। मेडिकल जांच में पास होने के बाद ही सेना की ओर से लिखित परीक्षा में पास होने वालों को ही देशसेवा का मौका दिया जाता है।

कृषि विवि पालमपुर के मैदान में 14 से 25 फरवरी तक कांगड़ा व चंबा के युवाओं को सेना में भर्ती होने का अवसर दिया जा रहा है। हैरानी की बात यह है कि 14 फीसद युवा ही 1600 मीटर की दौड़ में सफल हो रहे हैं।

14 फरवरी को पहले दिन धीरा, नगरोटा बगवां, चुराह व होली तहसीलों के 2579 युवाओं ने भाग लिया व 219 ही चयनित हुए। 15 फरवरी को इंदौरा, धर्मशाला व भलेई से 2667 युवाओं के पंजीकरण उपरांत 2126 ने दौड़ लगाई व 285 ही उत्तीर्ण हुए। 16 फरवरी को पालमपुर और भरमौर के पंजीकृत 2966 युवाओं में से 2463 ने भाग लिया और 205 युवा ही दौड़ पूरी कर सके। 17 फरवरी को फतेहपुर व शाहपुर के पंजीकृत 3008 में से 2464 युवाओं ने शिरकत की। इस दिन मात्र 174 युवा ही ग्राउंड पास कर सके। 18 फरवरी को नूरपुर, सिहुंता व पांगी के 3033 युवाओं ने पंजीकरण करवाया व 2522 ही मैदान में पहुंच सके। इनमें से 239 ने प्रथम चरण पास किया।

19 फरवरी को खुंडियां व जवाली से आने वाले 3080 में से 2539 ने दौड़ लगाई व 212 पास हुए। 20 फरवरी को कांगड़ा, सलूणी व ज्वालामुखी तहसीलों के 3065 युवाओं ने पंजीकरण करवाया था। इस दिन 2477 युवाओं की दौड़ में 204 आगे निकल पाए। 21 को देहरा व बैजनाथ के लिए आयोजित सेना भर्ती में पंजीकृत 3088 युवाओं से 2439 दौड़े व 206 ही अगले दौर में प्रवेश कर पाए। 22 फरवरी को चंबा, हारचक्कियां व जय¨सहपुर के युवाओं की शारीरिक परीक्षा हुई। पंजीकृत 3059 युवाओं में से 2346 ही पहुंच पाए। दौड़ के बाद सोमवार को 199 युवाओं को फिट पाया गया। उधर, सेना भर्ती कार्यालय पालमपुर के निदेशक कर्नल संदीप सिरोही ने बताया कि दौड़ के दौरान युवाओं पर विशेष निगरानी रखी जा रही है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.