Kangana Ranaut: रात को मनाली पहुंची कंगना, आज बेटी से मिलने के लिए मंडी से रवाना होंगे माता-पिता

Kangana Ranaut: रात को मनाली पहुंची कंगना, आज बेटी से मिलने के लिए मंडी से रवाना होंगे माता-पिता

Kangana Ranaut बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना सोमवार रात को मनाली पहुंची। कंगना कड़ी सुरक्षा के बीच मुंबई से रात आठ बजे मनाली पहुंची।

Rajesh SharmaTue, 15 Sep 2020 10:31 AM (IST)

मंडी/मनाली, जेएनएन। बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना सोमवार रात को मनाली पहुंची। कंगना कड़ी सुरक्षा के बीच मुंबई से रात आठ बजे मनाली पहुंची। चंडीगढ़ तक विमान में आईं। वहां से सीआरपीएफ व प्रदेश पुलिस की सुरक्षा में बहन रंगोली चंदेल, भाई अक्षत रनौत व मामा के बेटे शम्मी ठाकुर के साथ मनाली पहुंचीं। मनाली-चंडीगढ़ राष्ट्रीय राजमार्ग पर कीरतपुर से मनाली तक कई जगह कंगना का काफिला जाम में फंसा। कंगना मुंबई में पांच दिन बिताने के बाद मनाली पहुंची हैं। बेटी से मिलने पिता अमरदीप सिंह रनौत व मां आशा रनौत भी मंडी जिले के भांवला से मनाली जाएंगे। पिता अमनदीप ने खुशी जताई कि बेटी द्वारा लड़ी जा रही सच्चाई की लड़ाई में उन्हें देशभर से समर्थन मिल रहा है।

कंगना रनौत मनाली पहुंचने से पहले कुल्लू के शाढ़ाबाई स्थित बहन रंगोली के घर में रुकीं। मनाली से कुछ दूरी पर स्थित बहन के घर उन्होंने चाय पी। करीब दो घंटे रुककर थकान मिटाई।

कंगना ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पर फिर हमला बोला है। कई ट्वीट कर कहा 'दिल्ली के दिल को चीर कर वहां इस साल खून बहा है। सोनिया सेना ने मुंबई में आजाद कश्मीर के नारे लगवाए। आज आजादी की कीमत सिर्फ आवाज है, मुझे अपनी आवाज दो, नहीं तो वह दिन दूर नहीं जब आजादी की कीमत सिर्फ और सिर्फ खून होगी।'

कंगना ने कहा 'पहले मैं अकेली थी, लेकिन अब पूरे देश का समर्थन मेरे साथ है। मैंने फिल्म माफिया, सुशांत सिंह राजपूत की मौत और ड्रग्स रैकेट का राजफाश किया तो यह मेरा बड़ा अपराध हो गया। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के बेटे आदित्य ठाकरे भी माफिया के साथ हैं इसलिए अब वह मुझे ठीक करना चाहते हैं। ठीक है, देखते हैं कि कौन ठीक होता है। इससे पहले सोमवार सुबह मुंबई से रवाना होने से पहले कंगना ने ट्वीट किया कि 'भारी मन से मुंबई छोड़ रही हूं, जिस तरह से इन दिनों लगातार मुझे आतंकित किया गया था और मेरे काम की जगह के बाद मेरे घर को तोडऩे की कोशिश में लगातार हमले और गालियां दी गईं। मुझ पर हमले को लेकर सुरक्षाकर्मी अलर्ट थे। पीओके को लेकर कही गई मेरी बात सही थी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.