Himachal Weather Update: दो दिन बाद फ‍िर सक्रिय होगा पश्चिमी विक्षोभ, बारिश-हिमपात से तापमान में भारी गिरावट

हिमाचल प्रदेश में अप्रैल के दूसरे पखवाड़े में हुई बारिश व बर्फबारी ने ठंड का अहसास करवा दिया।

Himachal Weather Update हिमाचल प्रदेश में अप्रैल के दूसरे पखवाड़े में हुई बारिश व बर्फबारी ने ठंड का अहसास करवा दिया। मौसम विभाग के अनुसार 18 व 19 अप्रैल को मौसम के साफ रहने के बाद पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने से अधिकतर स्थानों पर बारिश हो सकती है।

Rajesh Kumar SharmaSun, 18 Apr 2021 07:50 AM (IST)

शिमला/मनाली, जागरण टीम। Himachal Weather Update, हिमाचल प्रदेश में अप्रैल के दूसरे पखवाड़े में हुई बारिश व बर्फबारी ने ठंड का अहसास करवा दिया। मौसम विभाग के अनुसार 18 व 19 अप्रैल को मौसम के साफ रहने के बाद 20 से 22 अप्रैल को पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने से अधिकतर स्थानों पर बारिश हो सकती है। 20 व 21 अप्रैल को प्रदेश के कई जिलों में तेज हवा चलने के साथ ओलावृष्टि होने का यलो अलर्ट जारी किया गया है। बारिश और हिमपात के बाद न्यूनतम व अधिकतम तापमान में गिरावट आई है। अधिकतम तापमान में करीब 12 डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट दर्ज की गई है जो एक दिन में अब तक सबसे अधिक बताई जा रही है।

अधिकतर क्षेत्रों में शुक्रवार शाम से शुरू हुई बारिश शनिवार को भी दिनभर रुक-रुक कर जारी रही। वहीं, चोटियों पर हिमपात हुआ। मैदानी इलाकों को छोड़ दें तो यह बारिश कृषि और बागवानी के लिए फायदेमंद है। हालांकि मैदानी इलाकों में गेहूं की कटाई का कार्य चल रहा है जो बाधित हुआ है। फलों की सेटिंग के बाद अब जब फल बन रहे हैं तो इस बारिश से आकार बढऩे में मदद मिलेगी।

प्रदेश में एक बार फिर लोगों को गर्म कपड़े पहनने पड़ गए हैं। सुंदरनगर में अधिकतम तापमान 34.1 से गिर कर 22.1 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया है। दूसरे स्थानों पर चार से छह डिग्री तक की गिरावट दर्ज की गई है। सूखे की लगातार स्थिति के बाद इस बारिश से किसानों ने कुछ राहत महसूस की है।

एक फीट से अधिक हिमपात, मनाली-लेह मार्ग बंद

रोहतांग, कुंजम, बारालाचा व शिंकुला दर्रे में शनिवार को एक फीट से अधिक हिमपात हुआ। मनाली-लेह मार्ग अवरुद्ध हो गया है जबकि हिमपात से कुंजम व शिंकुला दर्रे की बहाली प्रभावित हुई है। लाहुल घाटी के ऊंचाई वाले ग्रामीण क्षेत्रों में हिमपात हुआ। कुल्लू जिले में शनिवार सुबह से बारिश का क्रम जारी रहा। लाहुल घाटी में मौसम के करवट बदलने से किसानों की दिक्कत बढ़ी है। ऊंचाई वाले क्षेत्रों में मटर की बिजाई अभी शेष है।

कहां कितनी बारिश हुई

स्थान, बारिश मिलीमीटर मंडी, 20 मनाली, 16 भुंतर, 13 डलहौजी, 12 धर्मशाला, 11 केलंग, 8.0 चंबा, 5.0 शिमला, 3.0 ऊना, 3.0

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.