मौसम ने अचानक बदली करवट और बरसीं राहत की बूंदें, ऊना में भी बरसे मेघ, गर्मी से मिली राहत

Himachal Weather Update हिमाचल प्रदेश में दो दिन से पड़ रही गर्मी से वीरवार सुबह लोगों को कुछ राहत मिल गई है। निचले हिमाचल में खासतौर पर ऊना व जिला कांगड़ा में अचानक मौसम ने करवट बदली व बारिश का दौर शुरू हो गया।

Rajesh Kumar SharmaThu, 24 Jun 2021 09:52 AM (IST)
हिमाचल प्रदेश में दो दिन से पड़ रही गर्मी से वीरवार सुबह लोगों को कुछ राहत मिल गई है।

धर्मशाला/गगरेट, जागरण टीम। Himachal Weather Update, हिमाचल प्रदेश में दो दिन से पड़ रही गर्मी से वीरवार सुबह लोगों को कुछ राहत मिल गई है। निचले हिमाचल में खासतौर पर ऊना व जिला कांगड़ा में अचानक मौसम ने करवट बदली व बारिश का दौर शुरू हो गया। धर्मशाला में काले बादलों ने आसमान को पूरी तरह से ढक दिया और झमाझम बारिश शुरू हो गई। हालांकि मौसम विभाग ने जानकारी दी थी कि पहली जुलाई से ही मानसून फिर से दस्तक देगा व कुछ दिन गर्मी पड़ेगी। लेकिन पश्चिमी हवाओं के सक्रिय होने से बारिश हो गई।

बारिश के कारण तापमान में गिरावट आ गई है और गर्मी से परेशान हो रहे लोगों ने कुछ राहत की सांस ली है। तापमान 25 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है, जबकि न्यूनतम तापमान 19 डिग्री सेल्सियस है। इसके अलावा तीन बजे तक बारिश के साथ-साथ बिजली चमकने व बिजली गिरने की संभावना मौसम विभाग ने जताई है। बारिश खरीफ फसल धान की बिजाई के लिए तो अच्छी है, क्योंकि इससे धान की खेतों में पानी की उपलब्धता रहती है और ऐसे में धान की पनीरी लगाना भी अनुकूल होती है। धान, मक्की व चरी बाजरा की फसल के लिए यह बारिश राहत की है।

हालांकि सप्ताह पहले हुई बारिश ने काफी नुकसान किया था, बिजली गिरने से पालमपुर के चार भेड़पालकाें थाेथी राम व संताेष कुमार निवासी ग्वालटिक्कर व कुलदीप सिंह व पप्पू निवासी बंदला की लगभग 350 भेड़ बकरियाें में से 275 भेड़ बकरियाें की माैत हाे गई है। इसके अलावा गगल के पास तियारा पंचायत में बिजली गिरने से एक महिला झुलस गई, जबकि उसकी गाय की मौत हो गई है। इसी तरह से पेड़ गिरने व मकान गिरने से सहित अन्य नुकसान हुए थे। हालांकि अब हो रही बारिश यहां पहुंचे पर्यटकों के लिए व किसानों को उनकी फसलों के लिए राहत भरी है।

ज़िला ऊना में मौसम ने ली करवट, तेज तूफान के साथ मूसलाधार बारिश

गगरेट। ज़िला ऊना में सुबह 8 बजे अचानक से घने बादल छाए और तेज हवा के साथ बारिश शुरू हो गई। अचानक से हुई इस तेज बारिश से तापमान में गिरावट भी दर्ज की गई है। मैदानी इलाकों में इस समय मक्की की बिजाई का कार्य बड़ी तेजी से चला हुआ है और मक्की के लिए ये बारिश अमृततुल्य मानी जा रही है। बादल इतने गहरे थे कि दिन के समय ही चारों तरफ अंधेरा छा गया। हालांकि पिछले चंद दिनों से जिला ऊना में तामपान लगातार बढ़ रहा था और इस बड़े हुए तामपान से अंदाज़ा लगाया जा रहा था कि मक्की की फसल की जो बिजाई चल रही है इस बढ़ते तापमान से उसे नुकसान हो सकता है। इस बारिश से अब खेत पूरी तरह मक्की की बिजाई के लिए तैयार हो गए हैं और अब किसान मक्की की फसल की बिजाई कर सकते हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.