हिमाचल के पांगी उपमंडल का संपर्क कटा, साच पास में ताजा हिमपात, छह महीने तक नहीं होती आवाजाही

Himachal Tribal Area Pangi हिमाचल प्रदेश जिला चंबा में जनजातीय क्षेत्र पांगी का शेष राज्‍य से संपर्क कट गया है। साच पास में ताजा हिमपात से जिला चंबा के विकास खंड पांगी के लिए आवाजाही ठप हो गई है। पांगी में चोटियों पर हिमपात शुरू हो गया।

Rajesh Kumar SharmaThu, 23 Sep 2021 01:56 PM (IST)
हिमाचल प्रदेश जिला चंबा में जनजातीय क्षेत्र पांगी का शेष राज्‍य से संपर्क कट गया है।

पांगी, कृष्‍ण चंद राणा। Himachal Tribal Area Pangi, हिमाचल प्रदेश जिला चंबा में जनजातीय क्षेत्र पांगी का शेष राज्‍य से संपर्क कट गया है। साच पास में ताजा हिमपात से जिला चंबा के विकास खंड पांगी के लिए आवाजाही ठप हो गई है। बुधवार देर शाम को पांगी में मौसम खराब होने से अचानक आई तापमान में गिरावट के बाद चोटियों पर हिमपात शुरू हो गया। पांगी के निचले क्षेत्र में बारिश हो रही है। एक और लोग इस बारिश को बिजाई के लिए लाभदायक मान रहे हैं। दूसरी ओर अगर बर्फबारी ज्‍यादा होती है तो लगी हुई फसलों बागवानी और कृषि को नुकसान हो सकता है।

पांगी में बगीचों में सेब की फसल पककर तैयार हो गई है। सेब तोड़ने का कार्य अक्टूबर में किया जाता है। सेब के  साथ आलू, मक्की, भंगड़ी और फूलण की फसल भी किसानों द्वारा खेतों से निकाली जानी है। पांगी में सितंबर माह में होने वाली बर्फबारी के कारण कई बार किसानों बागवानों को नुकसान उठाना पड़ा है।

बुजुर्गों का कहना है सितंबर 15 के बाद पांगी में किसी भी समय बर्फबारी हो सकती है। इस दौरान पांगी उपमंडल का जिला व प्रदेश से पूरी तरह से संपर्क कट जाएगा। अप्रैल माह में तापमान में बदलाव होने व बर्फ पिघलने पर साच पास से आवाजाही सुचारू हो पाती है। इन दिनों पांगी के लोग आगामी छह माह के लिए राशन व ईंधन इत्‍यादि जुटाने में जुट गए हैं।

यह भी पढ़ें: Snowfall In Himachal: मनाली-लेह मार्ग पर सफर कर रहे हैं तो रहें सावधान, दर्रों में हो रहा हिमपात

बस अड्डा प्रभारी पांगी संजय कुमार शर्मा का कहना है चंबा से किलाड़ बस आज नहीं भेजी गई है। मौसम खराब होने के कारण साच पास में हल्‍का हिमपात हुआ है। किलाड़ चंबा बस सेवा सरकारी तौर पर 15 अक्टूबर तक चलती है।

जानिए पांगी के बारे में

पांगी उपमंडल भौगोलिक परिस्थितियों के कारण सर्दी के मौसम में छह महीने तक शेष जिला व राज्‍य से कट जाता है। यहां से वाया जम्‍मू होकर सफर का विकल्‍प रहता है। लेकिन यह मार्ग भी बर्फबारी के कारण अकसर बंद हो जाता है। इस मार्ग पांगी से चंबा का सफर करने के लिए छह सौ किलोमीटर से ज्‍यादा सफर करना पड़ता है। जबकि पांगी से वाया साच पास चंबा की दूरी दो सौ किलोमीटर से भी कम है। आपदा व विपरीत परिस्थिति में सरकार की ओर से हेलिकाप्‍टर की व्‍यवस्‍था की जाती है। पांगी की जनसंख्‍या 24 हजार से ज्‍यादा है।

प्रशासनिक व्‍यवस्था

पांगी में (आरसी) आवासीय आयुक्‍त की तैनाती है। इसके अलावा एसडीएम व विकास खंड अधिकारी का कार्यालय भी है। इसके अलावा स्‍कूल, कालेज सहित अन्‍य सभी आवश्‍यक कार्यालय भी हैं। पांगी क्षेत्र भरमौर विधानसभा क्षेत्र के तहत आता है। मौजूदा समय में यहां के विधायक जिया लाल हैं।

यह भी पढ़ें: Himachal Weather Update: हिमाचल में ताजा बर्फबारी व बारिश से तापमान में आई गिरावट, होने लगा ठंड का अहसास

यह भी पढ़ें: Kalka-Shimla Heritage Train: कालका से शिमला जा रही रेल कार पटरी से उतरी, देखिए तस्‍वीरें

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.