Corona Curfew In Himachal: हिमाचल प्रदेश में कल रात से कोरोना कर्फ्यू, प्रदेश भर में धारा 144

हिमाचल में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच सरकार ने कोरोना कफ्र्यू की घोषणा कर दी है।

Corona Curfew In Himachal हिमाचल में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच सरकार ने कोरोना कफ्र्यू की घोषणा कर दी है। 16 मई तक सख्त बंदिशें रहेंगी। सरकार ने संपूर्ण लॉकडाउन की बजाय कारोना कफ्यू लगाया है। अगले आदेश तक सभी सरकारी व गैर सरकारी संस्थान बंद रहेंगे।

Rajesh Kumar SharmaWed, 05 May 2021 06:02 AM (IST)

शिमला, राज्य ब्यूरो। Corona Curfew In Himachal: तेजी से बढ़ते कोरोना के मामलों के मद्देनजर अंतत: हिमाचल प्रदेश सरकार ने धारा 144 लागू कर दी है। पूरे प्रदेश में कल छह मई की रात से 16 मई तक पांच या उससे अधिक लोगों के एकत्रित होने पर पाबंदी लगा दी है। छह मई की रात से कोरोना कर्फ्यू लागू हो जाएगा। ये फैसले हिमाचल प्रदेश मंत्रिमंडल ने कुछ देर पहले लिए हैं। हालांकि शाम तक विस्तृत आदेश जारी होंगे। लेकिन संसदीय कार्यमंत्री सुरेश भारद्वाज ने बताया कि इस दौरान कृषि, बागबानी और निर्माण कार्य चलते रहेंगे। लेकिन सरकारी और निजी कार्यालय बंद रहेंगे और कर्मचारियों को घर से ही काम करना होगा।

यह भी पढ़ें: Corona Curfew Guidelines: शादी में शामिल हो सकेंगे 20 लोग, अस्पताल, बैंक व ढाबे भीे रहेंगे खुले, जानिए निर्देश

यह भी पढ़ें:  Himachal 10th Students Promote: दसवीं के छात्र प्रमोट, शिक्षा बोर्ड तैयार करेगा अंकों का फार्मूला

 

सभी शैक्षणिक संस्थान अगले आदेशों तक बंद रहेंगे। औद्योगिक प्रतिष्ठान कार्य करते रहेंगे। बाजार भी कुछ शर्तों के साथ खुलेंगे। संसदीय कार्यमंत्री के अनुसार, अनिवार्य सेवाएं जारी रहेंगी। परिवहन सेवाएं आधी क्षमता के साथ जारी रहेंगी। मंत्रिमंडल ने राज्य के कोविड अस्पतालों में बिस्तर और ऑक्सीजन उपलब्धता की भी समीक्षा की।

सुरेश भारद्वाज के मुताबिक, नए ऑक्सीजन प्लांट में से तीन ने काम करना शुरू कर दिया है। छह स्थानों पालमपुर, नाहन, खनेरी, रोहड़ू, मंडी और सोलन में नए ऑक्सीजन प्लांट लगेंगे। लोकनिर्माण विभाग से कहा गया है कि इन्हें युद्ध स्तर पर बनाए। इससे पहले मुख्यमंत्री ने एक सर्वदलीय बैठक भी की, जिसमें लॉकडाउन समेत कोरोना से जुड़े सभी विषयों पर चर्चा हुई।

दसवीं के छात्रों की परीक्षा रद कर दी गई है और तय किया गया है कि सीबीएसई के पैटर्न पर शिक्षा बोर्ड तय करेगा कि दसवीं कक्षा के विद्यार्थियों को कैसे प्रोमोट किया जाएगा।

हिमाचल में कोरोना संक्रमण के बढते मामलों के बीच सख्त कदम उठाने को लेकर सर्वदलीय बैठक के बाद कैबिनेट बैठक बुलायी थी । सीएम जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में हुयी बैठक में नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री, कांग्रेस की वरिष्ठ विधायक आशा कुमारी, माकपा विधायक राकेश सिंघा, कांग्रेस के विधायक धनीराम शांडिल, संसदीय कार्यमंत्री सुरेश भारद्वाज शामिल रहे। विपक्ष ने लॉकडाउन लगाने की सिफारिश की थी।

विपक्ष ने की लॉकडाउन लगाने की सिफारिश

नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने कहा प्रदेश की जनता को कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सरकार जो भी निर्णय लेगी विपक्ष उसका समर्थन करेगा। करीब दो घंटे चली सर्वदलीय बैठक के बाद बाहर आने पर नेता प्रतिपक्ष ने यह बयान दिया। उन्होंने कहा सरकार जो भी सख्त निर्णय लेगी विपक्ष उसका विरोध नहीं करेगा।

यह भी पढ़ें: हिमाचल में दिल्ली से दो गुणा से भी अधिक हुई एक्टिव मामलों की प्रतिशतता, नए मामलों में 25 गुणा व मौत में 17 गुणा की वृद्धि

यह भी पढ़ें: हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय HAS सहित NET और SET की कोचिंग देगा, प्रतियोगी परीक्षा के लिए मिलेगी कोचिंग

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.