हिमाचल प्रदेश के महाविद्यालयों में तैनात 214 सहायक आचार्यों को नियमितीकरण का तोहफा

Assistant Professors Regular हिमाचल प्रदेश के महाविद्यालयों में कार्यरत 214 सहायक आचार्यों को शिक्षा विभाग ने नियमितीकरण का तोहफा दे दिया है। सोमवार सुबह सचिव शिक्षा राजीव शर्मा की ओर से इस संबंध में अधिसूचना जारी कर दी गई है।

Rajesh Kumar SharmaMon, 22 Nov 2021 12:49 PM (IST)
हिमाचल प्रदेश के महाविद्यालयों में कार्यरत 214 सहायक आचार्यों को शिक्षा विभाग ने नियमितीकरण का तोहफा दे दिया है।

शिमला, जागरण संवाददाता। Assistant Professors Regular, हिमाचल प्रदेश के महाविद्यालयों में कार्यरत 214 सहायक आचार्यों को शिक्षा विभाग ने नियमितीकरण का तोहफा दे दिया है। सोमवार सुबह सचिव शिक्षा राजीव शर्मा की ओर से इस संबंध में अधिसूचना जारी कर दी गई है। शिक्षक पिछले काफी समय से नियमितीकरण की मांग विभाग के समक्ष उठा रहे थे। पहले आचार संहिता के चलते यह मामला लटक गया था। संघ का प्रतिनिधिमंडल हाल ही में इस मांग को लेकर मुख्यमंत्री व शिक्षा मंत्री से मिला था। नियमितीकरण में हो रही देरी को लेकर शिक्षा मंत्री ने विभाग के अधिकारियों की क्लास भी लगाई थी।

बीते वीरवार को राज्य सचिवालय में आयोजित समीक्षा बैठक में भी यह मामला उठा था। शिक्षा मंत्री ने पूछा था कि पदोन्नति में देरी क्यों हो रही है। नियमों के तहत 30 सितंबर को ये शिक्षक नियमित हो जाने चाहिए थे। मंत्री के निर्देशों के बाद सोमवार को नियमितीकरण के आदेश जारी कर दिए गए हैं।

बीएड कालेज बदलना है तो दो दिन में करें आवेदन

शिमला। हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय शिमला में बीएड कोर्स में आनलाइन प्रवेश लेने वाले अभ्यर्थी यदि आवंटित कालेज से संतुष्ट नहीं हैं तो दो दिन में बदलाव करने के लिए आवेदन कर सकते हैं। विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से अभ्यर्थियों को सूचित किया है कि महाविद्यालय आवंटन समिति ने जिनको जो महाविद्यालय दिए हैं, वे वहां पर प्रवेश ले सकते हैं। परीक्षा नियंत्रक ने कहा कि अभ्यर्थी कालेज में बदलाव करने के लिए विश्वविद्यालय में आकर कमेटी के समक्ष पक्ष रख सकते हैं। बीएड की दूसरे चरण की काउंसलिंग 23 नवंबर तक आनलाइन होगी। करीब 3700 सीटें भरी जा चुकी हैं। अभी पांच हजार से ज्यादा सीटें खाली हैं।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.