हिमाचल पुलिस के वाहनों का बेड़ा बढ़ा, मुख्‍यमंत्री ने 61 वाहनों को दी हरी झंडी, पूर्व सरकार पर लगाया आरोप

Himachal Police New Vehicles हिमाचल प्रदेश पुलिस विभाग के पास वाहनों का बेड़ा और बढ़ गया हैं। इनमें 61 वाहन और शामिल किए गए हैं। बुधवार को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने सरकारी आवास ओक ओवर से इन वाहनों को प्रदेशभर के लिए रवाना किया।

Rajesh Kumar SharmaWed, 22 Sep 2021 11:27 AM (IST)
हिमाचल पुलिस मुख्‍यालय पहुंचे मुख्‍यमंत्री जयराम ठाकुर।

शिमला, राज्य ब्यूरो। Himachal Police New Vehicles, हिमाचल प्रदेश पुलिस विभाग के पास वाहनों का बेड़ा और बढ़ गया हैं। इनमें 61 वाहन और शामिल किए गए हैं। बुधवार को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने सरकारी आवास ओक ओवर से इन वाहनों को प्रदेशभर के लिए रवाना किया। इनमें 58 मोटरसाइकिल, दो ट्रक और एक बस शामिल है। इनके माध्यम से पुलिस मौका- ए- वारदात पर जल्द पहुंच सकेगी। चाहे मामला कानून व्यवस्था से जुड़ा हुआ हो या कहीं अपराध घटित होने की इत्तलाह का हो, पुलिस तुरंत मौके पर पहुंचकर कार्रवाई आरंभ कर सकेगी।

इस मौके पर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने वाहनों को हरी झंडी दिखाई। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश सरकार लगातार पुलिस को आधुनिक तकनीक से जोड़ रही है। कोशिश यही है कि पुलिस विभाग के कर्मचारियों, अधिकारियों को पहले से बेहतर सुविधाएं प्रदान की जाएं, जब सुविधाएं होंगी तो इससे इनके कामकाज में भी बेहतरी आएगी। वे पूरी दक्षता, क्षमता के साथ कार्य कर सकेेंगे। उन्होंने कहा आज जिन वाहनों को रवाना किया है, उनका उचित उपयोग हो सकेगा।

उन्होंने आरोप लगाया आज से पूर्व पुलिस को सुविधाएं देने के बारे में गंभीरता से नहीं सोचा गया। उन्होंने इस आरोप के जरिये खासकर पूर्व कांग्रेस सरकार को कटघरे में खड़ा किया। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कम सुविधाओं के बावजूद पुलिस ने पूर्व में भी अच्छा कार्य किया है। अब सरकार पुलिस को अधिक साधन और सुविधाएं मुहैया करवाएगी। इस दिशा में लगातार कार्य हो रहा है। साधन और सुविधाओं के लैस पुलिस कानून व्यवस्था की हालत को नियंत्रित करने में सक्षम हो सकती है। सरकार सुविधाएं देने में कोई भी कोर कसर नहीं रखेगी। उन्होंने हिमाचल की कानून व्यवस्था पर संतोष जताया। इस मौके पर डीजीपी संजय कुंडू भी माैजूद रहे।

यह भी पढ़ें: सहारा वृद्ध आश्रम में पहुंचे मंत्री गोविंद ठाकुर, बुजुर्ग बोले- हमारे अपने हाल पूछने भी नहीं आते, मंत्री भी भावुक हुए

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.