कांग्रेस सह प्रभारी ने उपचुनाव और 2022 विधानसभा चुनाव के लिए रणनीति तैयार करने का दिया निर्देश

Himachal Vidhan Sabha Chunav प्रदेश कांग्रेस सेवादल के अध्यक्ष अनुराग शर्मा ने प्रदेश कांग्रेस सह प्रभारी संजय दत्त से राजीव भवन शिमला में मुलाकात की। अनुराग शर्मा ने सेवादल की कार्यप्रणाली नगर निगम चुनाव व कोरोना में की गई गतिविधियों से संजय दत्त को अवगत करवाया।

Rajesh Kumar SharmaSun, 13 Jun 2021 08:17 AM (IST)
कांग्रेस सेवादल के अध्यक्ष अनुराग शर्मा ने प्रदेश कांग्रेस सह प्रभारी संजय दत्त से राजीव भवन शिमला में मुलाकात की।

शिमला, जागरण संवाददाता। Himachal Vidhan Sabha Chunav, प्रदेश कांग्रेस सेवादल के अध्यक्ष अनुराग शर्मा ने प्रदेश कांग्रेस सह प्रभारी संजय दत्त से राजीव भवन शिमला में मुलाकात की। अनुराग शर्मा ने सेवादल की कार्यप्रणाली, नगर निगम चुनाव व कोरोना में की गई गतिविधियों से संजय दत्त को अवगत करवाया। संजय दत्त ने मंडी लोकसभा उपचुनाव, फतेहपुर व जुब्बल कोटखाई विधानसभा उपचुनाव सहित 2022 के विधानसभा चुनाव के लिए अनुराग शर्मा को सेवादल की रणनीति तैयार करने को कहा। अनुराग शर्मा ने आश्वस्त किया कि सेवादल पूरी तरह से तैयार है, वहीं जिला व ब्लाक स्तर पर संगठन व पार्टी की मजबूती के लिए दिन-रात काम कर रहा है।

अनुराग शर्मा ने पदाधिकारियों से की बैठक

शिमला। प्रदेश कांग्रेस सेवादल के अध्यक्ष अनुराग शर्मा ने राजीव भवन में सेवादल के प्रदेश, जिला व ब्लाक पदाधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने निर्देश दिया कि सभी पदाधिकारी उपचुनाव और मिशन 2022 के लिए जमीनी स्तर पर काम करें। इस दौरान उन्होंने सेवादल में नियुक्तियां भी की। इनमें बलविंदर कुमार को जिला शिमला शहरी और भारत भूषण गोयल को जिला सिरमौर का कार्यकारी अध्यक्ष बनाया। वहीं, ब्लाक बिलासपुर सदर का अध्यक्ष राजेंद्र पाल ठाकुर को बनाया गया। इस अवसर पर सेवादल के उपाध्यक्ष सुशील ठाकुर, महासचिव गोपाल शर्मा, सचिव रविंद्र पाल सिंह, सुरेंद्र वर्मा आदि मौजूद रहे।

कोरोना टेस्ट की अनिवार्यता खत्म करना प्रदेश के लिए खतरा : राठौर

शिमला। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने बाहर से आने वाले लोगों और पर्यटकों के लिए आरटीपीसीआर टेस्ट की अनिवार्यता खत्म करने पर हैरानी जताई है। यहां जारी बयान में राठौर ने कहा कि देश में अभी कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर खत्म नहीं हुई है, ऐसे में अगर बाहर से कोई संक्रमित व्यक्ति यहां आता है तो यह प्रदेश के लिए एक बड़ा खतरा साबित हो सकता है। राठौर ने कहा कि सरकार को इस फैसले पर दोबारा विचार करना चाहिए। कोरोना टेस्टिंग के साथ प्रदेश में वैक्सीनेशन का कार्य तेज करने की बहुत जरूरत है। उन्होंने कहा कि पहले दौर में जब कोरोना संक्रमण में कुछ कमी आई थी तो उसके बाद सरकार लापरवाह हो गई थी। उस कारण आज प्रदेश में 3500 से अधिक लोगों की मौत हुई है। कोरोना का संकट अभी टला नहीं है, ऐसे में भीड़भाड़ से बचने की बहुत ही आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि सभी बसों को सही ढंग से सैनिटाइज किया जाना चाहिए।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.