Himachal By Election: मंडी संसदीय क्षेत्र सहित फतेहपुर, अर्की व जुब्‍बल कोटखाई में 30 अक्‍टूबर को होगा मतदान

Himachal By Election हिमाचल प्रदेश में उपचुनाव की घोषणा कर दी गई है। मंडी संसदीय क्षेत्र सहित फतेहपुर अर्की व जुब्‍बल कोटखाई विधानसभा क्षेत्र में उपचुनाव होने हैं। चुनाव आयोग ने सभी जगह उपचुनाव करवाए जाने की घोषणा कर दी है।

Rajesh Kumar SharmaTue, 28 Sep 2021 10:35 AM (IST)
हिमाचल प्रदेश में उपचुनाव की घोषणा कर दी गई है।

शिमला, प्रकाश भारद्वाज। Himachal By Election, हिमाचल प्रदेश में उपचुनाव करवाने को लेकर अटकलों का दौर खत्म हो गया। प्रदेश के चार उपचुनाव के लिए 30 अक्टूबर को मतदान होगा। दो नवंबर को मतों की गिनती होगी और मंडी लोकसभा क्षेत्र को निर्वाचित सांसद मिलेगा। इसी तरह से प्रदेश के तीन विधानसभा क्षेत्रों फतेहपुर, अर्की व जुब्बल-काेटखाई के लोगों को उनकी नुमाइंदगी करने वाला जनप्रतिनिधि प्राप्त होगा। भारतीय चुनाव आयोग की ओर से उपचुनाव को लेकर अधिसूचना जारी कर दी गई है। आज सुबह चुनाव आयोग की ओर से उपचुनाव की घोषणा कर दी गई। राज्य में उपचुनाव को लेकर आदर्श आचार संहिता पहली अक्टूबर से लागू होगी।

मंडी लोकसभा क्षेत्र देश में दूसरा बड़ा संसदीय क्षेत्र

देश में आकार के हिसाब से दूसरा सबसे बड़ा लोकसभा क्षेत्र मंडी है। चुनाव आयोग की ओर से जारी कार्यक्रम के अनुसार पहली अक्टूबर को उपचुनाव राजपत्र में अधिसूचित होंगे। आठ अक्टूबर को मंडी संसदीय सीट के लिए नामांकन पत्र दाखिल कर सकेंगे। 11 अक्टूबर को नामांकन पत्रों की जांच होगी और 13 अक्टूबर को नामांकन पत्र वापस लिए जा सकेंगे। मतदान तीस अक्टूबर को होगा और मतों की गिनती दो नवंबर को होगी।

विधानसभा उपचुनाव के लिए 16 अक्टूबर को नाम वापस ले सकेंगे

भारतीय चुनाव आयोग की ओर से उपचुनाव के लिए जारी कार्यक्रम के अनुसार लोकसभा व विधानसभा उपचुनाव में नाम वापस लेने का दिन भिन्न है। प्रदेश के तीन विधानसभा क्षेत्रों के लिए होने वाले उपचुनाव के दौरान सोलह अक्टूबर को नाम वापस लिए जा सकते हैं। तेरहवीं विधानसभा के तहत कांगड़ा जिला के तहत आने वाले फतेहपुर विधानसभा सीट से कांग्रेस विधायक सुजान सिंह पठानिया का निधन होने के कारण राज्य में पहली विधानसभा सीट रिक्त हुई थी। उसके बाद शिमला जिला के तहत आने वाली जुब्बल-कोटखाई विधानसभा सीट से विधानसभा में मुख्य सचेतक एवं वरिष्ठ भाजपा विधायक नरेंद्र बरागटा का निधन हुआ था और अगस्त में सोलन जिला के तहत आने वाली अर्की विधानसभा सीट से पूर्व मुख्यमंत्री एवं दिग्गज कांग्रेस विधायक वीरभद्र सिंह का निधन हो गया था।

चुनाव आयोग पहले त्‍योहारी सीजन के बाद चुनाव करवाने की बात कर रहा था। क्‍यास लगाए जा रहे थे कि चुनाव अब चार नवंबर दीपावली के बाद ही होंगे। लेकिन आयोग ने अब एकाएक से उपचुनाव की घोषणा कर दी है। हिमाचल के दो प्रमुख राजनीति दल भाजपा व कांग्रेस के नेता चुनावी मोड में आ चुके हैं।

यह भी पढ़ें: Mandi By Election: भाजपा व कांग्रेस के लिए आसान नहीं मंडी का रण, बगावत से बिगड़ सकते हैं राजनीतिक समीकरण

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.