टूट गई चेन लाई चैन

स्कूली बच्चों में बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामलों में त्योहारी सीजन राहत दे गया। सात दिन की

JagranMon, 08 Nov 2021 05:39 AM (IST)
टूट गई चेन लाई 'चैन'

स्कूली बच्चों में बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामलों में त्योहारी सीजन राहत दे गया। सात दिन की छुट्टियों का निर्णय बिल्कुल सही साबित हुआ है। इस अवधि में स्कूलों से कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने में बहुत मदद मिली है और इससे लोगों ने चैन की सांस ली है।

दो सप्ताह पहले हर रोज 40 से 50 स्कूली बच्चे संक्रमित हो रहे थे। पिछले सप्ताह विद्यार्थियों के संक्रमित होने का आंकड़ा सिर्फ 38 रह गया है। अभी तक शिक्षा विभाग व स्कूल प्रबंधन को सचेत रहने की जरूरत है। सोमवार से दोबारा स्कूल खुल रहे हैं। अब अगर लापरवाही बरती तो प्रदेश सरकार को दोबारा चेन तोड़ने के लिए छुट्टियां देने का निर्णय लेना भी संभव नहीं होगा। इसका मुख्य कारण यह है कि अब न तो स्कूल प्रबंधन, न ही विद्यार्थी और न ही अभिभावक स्कूल बंद करने के पक्ष में हैं।

..

400 से अधिक विद्यार्थी हो चुके हैं संक्रमित

27 सितंबर से स्कूल खुलने के बाद अब तक जिले में 170 स्कूलों के 410 विद्यार्थी और 55 अध्यापक वैश्विक महामारी की चपेट में आ चुके हैं। स्वास्थ्य विभाग ने टीकाकरण भी तेज कर दिया है। जिले में पहली डोज सौ फीसद हो चुकी है जबकि 61 फीसद लोग दोनों डोज ले चुके हैं। चिंता की बात यह है कि स्कूली बच्चे अभी तक टीकाकरण के लिए पात्र नहीं हैं। ..

इस सप्ताह सिर्फ 38 बच्चे हुए संक्रमित

31 अक्टूबर से छह नवंबर तक जिला कांगड़ा में कोरोना संक्रमण के कुल 316 मामले आए हैं। इनमें 38 स्कूली विद्यार्थी भी शामिल हैं। इसके विपरीत 22 से 28 अक्टूबर तक जिले में 162 विद्यार्थी संक्रमित हुए थे। एक-एक स्कूल से ही कम से कम 15 से 20 विद्यार्थी पाजिटिव हो रहे थे।

..

पुलिस जवान भी होने लगे संक्रमित

पिछले एक सप्ताह से कांगड़ा पुलिस के जवान भी कोरोना की चपेट में आ रहे हैं। पुलिस थानों व चौकियों के स्टाफ के बजाए पुलिस बटालियन सकोह के अधिक जवान हैं। पिछले सप्ताह 21 जवान संक्रमित हुए हैं। अधिकतर फतेहपुर उपचुनाव में ड्यूटी देकर लौटे हैं।

..

त्योहारी छुट्टियों के कारण स्कूली बच्चों में कोरोना संक्रमण के मामले निश्चय तौर पर कम हुए हैं। विभाग की ओर से रोजाना करीब तीन हजार से 3500 तक सैंपल लिए जा रहे हैं। जनता से अपील है कि कोरोना नियमों का पालन करें।

-डा. गुरदर्शन गुप्ता, मुख्य चिकित्सा अधिकारी, कांगड़ा।

..

एक सप्ताह का हाल

तिथि, नए मामले, स्वस्थ, मौत, सक्रिय, विद्यार्थी, पुलिस जवान

-31 अक्टूबर, 40, 108, 1, 817, 23, 2

-1 नवंबर, 59, 98, 2, 776, 3, 5,

-2 नवंबर, 67, 84, 3, 4, 756, 4, 9

-3 नवंबर, 44, 3, 2, 795, 5, 1

-4 नवंबर, 26, 146, 2, 673, 0, 0

-5 नवंबर, 36, 128, 0, 581, 2, 0

-6 नवंबर, 44, 98, 3, 524, 1, 4

..

ये बरतें सावधानी

-दूसरों से शारीरिक दूरी (कम से कम एक मीटर) बनाए रखें, भले ही वे बीमार न हों।

-सार्वजनिक स्थानों पर मास्क लगाएं। खास तौर पर इमारत के भीतर या जब शारीरिक दूरी बनाना संभव न हो।

-बंद के बजाय खुली व हवादार जगह चुनें। अगर किसी इमारत के भीतर हैं तो खिड़कियां खोलें।

-हाथों को बार-बार धोएं। हाथ धोने के लिए साबुन और पानी या एल्कोहल वाला हैंड रब इस्तेमाल करें।

-अपनी बारी आने पर टीका जरूर लगवाएं।

-खांसने या छींकते समय नाक और मुंह को कोहनी या रूमाल से ढंक लें।

-अगर आप अस्वस्थ महसूस कर रहे हैं तो घर पर ही रहें।

-अगर आपको बुखार व खांसी है और सांस लेने में परेशानी हो रही है तो डाक्टर के पास जाएं।

-प्रस्तुति : मुनीष गारिया, धर्मशाला

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.