जिला कांगड़ा में चतुर्थ श्रेणी उम्मीदवारों के चार हजार आवेदनों के फार्म रद्द, बड़ा झटका

कोरोना महामारी के कारण लटकी रही जिला कांगड़़ा में पशुपालन विभाग चतुर्थ श्रेणी पदों की भर्ती की प्रक्रिया अब शुरू हो गई है। अब जब प्रक्रिया शुरू हुई है तो जिला के आवेदकों के लिए निराशाजनक खबर है। जिला कांगड़ा के बेरोजगार युवाओं को झटका लगा है।

Richa RanaWed, 01 Dec 2021 05:15 PM (IST)
जिला कांगड़ा में पशुपालन विभाग चतुर्थ श्रेणी पदों की भर्ती की प्रक्रिया अब शुरू हो गई है।

धर्मशाला, जागरण संवाददाता। कोरोना महामारी के कारण लटकी रही जिला कांगड़ा में पशुपालन विभाग चतुर्थ श्रेणी पदों की भर्ती की प्रक्रिया अब शुरू हो गई है। अब जब प्रक्रिया शुरू हुई है तो जिला के आवेदकों के लिए निराशाजनक खबर है। जिला के कुल 59 पदों के लिए आए साढ़े आठ हजार से अधिक आवेदनं में से चार हजार पद सीधे तौर पर रिजेक्ट हो गए हैं। आवेदनों के रिजेक्ट होने का कारण या तो आवेदन फार्म अधूरा भरना, गलत जानकारी व फीस जमा न होना आदि है। ऐसे में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी बनने की तैयारी कर रहे जिला कांगड़ा के बेरोजगार युवाओं को झटका लगा है।

बताया जा रहा है कि पशुपालन विभाग ने प्रदेश में चतुर्थ श्रेणी पदों की भर्ती के लिए आवेदन मांगे थे, लेकिन उस समय कोरोना महामारी के चलते भर्ती प्रक्रिया पूरी नहीं हो सकी थी। प्रदेश में 239 पद भरे जाने हैं, जिनमें से जिला कांगड़ा 59 पदों के लिए आए 8731 आवेदनों में से छंटनी में 4000 आवेदन सीधे तौर पर रद्द हो गए हैं। हालांकि संंबंधित उम्मीदवारों को तीन दिसंबर तक का समय दिया गया है वह उपनिदेशक पशुपालन कार्यालय में आकर अपनी आपत्तियां दे सकते हैं, ताकि किसी का भी मौका अकारण न छूट जाए।

यह बोले पशुपालन विभाग के उपनिदेशक

पशुपालन विभाग के उपनिदेशक डा. संजीव धीमान ने बताया कि चार हजार आवेदन रिजेक्ट हुए हैं, अभ्यर्थी तीन दिसंबर तक उनके कार्यालय में आकर अपने दावे प्रस्तुत कर सकते हैं ताकि कोई भी व्यक्ति गलती से भर्ती प्रक्रिया से न छूटे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.