पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह की हालत में सुधार, बेटे विक्रमादित्‍य ने शेयर की फोटो, टेस्‍ट की रिपोर्ट भी पहले से बेहतर

Virbhadra Singh Health Update हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता वीरभद्र सिंह की हालत में कुछ सुधार हुआ है। रविवार को आईजीएमसी प्रशासन ने उनका शुगर और कुछ रूटीन के टेस्ट किए इनकी रिपोर्ट पहले से बेहतर आई है।

Rajesh Kumar SharmaSun, 13 Jun 2021 02:00 PM (IST)
विधायक विक्रमादित्य सिंह ने फेसबुक पेज पर वीरभद्र सिंह की फोटो शेयर कर उनकी सेहत में सुधार की जानकारी दी

शिमला, जागरण संवाददाता। Virbhadra Singh Health Update, हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता वीरभद्र सिंह की हालत में कुछ सुधार हुआ है। रविवार को आईजीएमसी प्रशासन ने उनका शुगर और कुछ रूटीन के टेस्ट किए, इनकी रिपोर्ट पहले से बेहतर आई है। उनका ऑक्सीजन स्तर 98-99 के बीच में है। उनके पुत्र व शिमला ग्रामीण से विधायक विक्रमादित्य सिंह उनसे मिलने मेक शिफ्ट अस्पताल पहुंचे। उन्होंने अपने फेसबुक पेज पर वीरभद्र सिंह की फोटो शेयर कर उनकी सेहत में सुधार होने की जानकारी दी है।

उन्होंने लिखा है कि मां भीमाकाली और आप सभी की दुआ से वीरभद्र सिंह की स्थिति में सुधार है। वह जल्द ही पूरी तरह से स्‍वस्‍थ होंगे। वीरभद्र सिंह पिछले काफी दिनों से आईजीएमसी में दाखिल थे। बीते शुक्रवार को दूसरी बार उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इससे पहले एक बार वह कोरोना को मात दे चुके हैं। उस समय उनका मोहाली के निजी मैक्स अस्पताल में उपचार हुआ था। 30 अप्रैल को ठीक होकर शिमला लौटे थे। जिसके बाद उन्हें सांस लेने में परेशानी के कारण उसी शाम आईजीएमसी में भर्ती करवाया गया था। उसके बाद से वह लगातार अस्‍पताल में भर्ती हैं।

अफवाह फैलानी बंद नहीं की तो पुलिस करेगी कार्रवाई

शिमला। हिमाचल प्रदेश के पूूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के स्वास्थ्य के संबंध में फैलाई जा रही अफवाह से राज्य पुलिस मुख्यालय भी चिंतित हो गया है। शिमला स्थित पुलिस मुख्यालय से शनिवार को इस संबंध में प्रेस विज्ञप्ति जारी की है। इसके मुताबिक पुलिस के संज्ञान में आया है कि सोलन से संबंधित कुछ शरारती तत्वों द्वारा अफवाह फैलाई जा रही है। इस कारण पूरे प्रदेश में सनसनीपूर्ण स्थिति उत्पन्न हो रही है। एसपी कानून व्यवस्था भगत ठाकुर ने कहा कि वीरभद्र के शुभचिंतक पुलिस समेत अन्य सरकारी कार्यालय में फोन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस प्रकार की अफवाह फैलाना आपदा प्रबंधन अधिनियम एवं सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम की उल्लंघना है। एसपी ने चेतावनी दी कि अगर यह बंद नहीं किया तो दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.