लॉरेंस स्कूल सनावर को बॉलीवुड में लोकेशन की तरह प्रमोट करेंगे फ‍िल्‍म निर्देशक अपूर्व लाखिया, पढ़ें पूरा मामला

कसौली पहुंचे बॉलीवुड फ‍िल्‍म निर्देश अपूर्व लाखिया। जागरण

Film Director Apoorva Lakhiaदी लॉरेंस स्कूल सनावर की सुंदरता को बॉलीवुड में एक लोकेशन की तरह प्रमोट करूंगा ताकि सनावर भी फिल्म निर्माताओं व निर्देशकों को अपनी ओर खींच सके। सनावर स्कूल की वादियां व बेहतरीन लोकेशन फिल्मों की शूटिंग के लिए उपयुक्त हैं।

Rajesh SharmaTue, 29 Sep 2020 10:24 AM (IST)

सोलन, मनमोहन वशिष्ठ। दी लॉरेंस स्कूल सनावर की सुंदरता को बॉलीवुड में एक लोकेशन की तरह

प्रमोट करूंगा, ताकि सनावर भी फिल्म निर्माताओं व निर्देशकों को अपनी ओर खींच सके। सनावर स्कूल की वादियां व बेहतरीन लोकेशन फिल्मों की शूटिंग के लिए उपयुक्त हैं। बहुत सी फिल्मों में कॉलेज व स्कूलों की लोकेशन चाहिए होती है, इसलिए सनावर में फिल्म निर्माताओं को भेजेंगे। यह कहना है कि बॉलीवुड के मशहूर फिल्म निर्देशक व ओल्ड सनारियन अपूर्व लाखिया का। फ‍िल्‍म निर्देशक अपूर्व कसौली स्थित देश के प्रतिष्ठित व दुनिया के सबसे पुराने स्कूलों में शुमार दी लॉरेंस स्कूल सनावर से पासआउट हैं। अपूर्व द्वारा निर्देशित एक्शन से भरपूर क्रैकडाउन वेब सीरीज 23 सितंबर को वूट सेलेक्ट एप रिलीज हुई है। इसको दर्शकों द्वारा बहुत पसंद किया जा रहा है।

क्रैकडाउन के सेकेंड पार्ट की शूटिंग के लिए आएंगे कसौली

अपूर्व लाखिया ने कहा कि हिमाचल में फिल्म शूट करने का बहुत मजा आया। यहां के लोग बहुत अच्छे हैं। अपने पसंदीदा स्कूल को पर्दे पर दिखाने के लिए क्रैकडाउन की शूटिंग सनावर स्कूल में की। इसके अलावा कसौली व आसपास के क्षेत्रों की विभिन्न लोकेशन पर इसके शॉटस को फिल्माया गया है। इसमें ओल्ड सनारियन व अभिनेता इकबाल खान, बिक्रमजीत कंवरपाल व प्रताप सिंह बाजवा ने भी अभिनय किया है। उन्होंने कहा क्रैकडाउन दर्शकों के बीच बहुत पंसद की जा रही है। क्रिटिक्स के रिव्यू भी बहुत अच्छे मिल रहे हैं, इसलिए हम सेकेंड सीरीज बनाने की सोच रहे हैं और यदि दूसरा पार्ट बनता है ताे सनावर व कसौली में फिर से शूटिंग के लिए आना पड़ेगा। उन्होंने बताया क्रैकडाउन की शूटिंग कसौली व सनावर में भी हुई है। यह आठ एपिसोड की सीरीज है।

सनावर स्कूल से 1986 बैच के पासआउट हैं अपूर्व लाखिया

अपूर्व लाखिया ने बताया उन्होंने दस वर्ष सनावर स्कूल में बिताए हैं। वह 1986 बैच से पासआउट हैं। स्कूल में वह हिमालया हाउस में थे। वह स्कूल में होने वाले शो में भाग लेते थे। बकौल अपूर्व लाखिया उन्होंने सनावर

स्कूल में 10वीं कक्षा में ही सोच लिया था कि फिल्मों में जाना है। एक्टिंग तो करनी नहीं थी, इसलिए निर्देशक या एसोसिएट बनना था। अपूर्व लाखिया इससे पहले एक अजनबी, शूटआउट एट लोखंडवाला, मुंबई से आया मेरा दोस्त, दस कहानियां, मिशन इस्तानबुल, जंजीर व हसीना पारकर जैसी हिट फिल्मों का निर्देशन कर चुके हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.