दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

Earthquake in Himachal: कोरोना महामारी के खौफ के बीच धर्मशाला में भूकंप के झटकों से हिली धरती

हिमाचल प्रदेश में कोरोना महामारी के खौफ के बीच भूकंप के झटकों ने लोगों डरा दिया।

Earthquake in Himachal हिमाचल प्रदेश में कोरोना महामारी के खौफ के बीच भूकंप के झटकों ने लोगों डरा दिया। बताया जा रहा है धर्मशाला क्षेत्र में भूकंप के झटके महसूस किए गए व रिक्‍टर पैमाने पर तीव्रता तीन रही।

Rajesh Kumar SharmaSat, 08 May 2021 09:48 AM (IST)

धर्मशाला, एएनआइ। Earthquake in Himachal, हिमाचल प्रदेश में कोरोना महामारी के खौफ के बीच भूकंप के झटकों ने लोगों डरा दिया। बताया जा रहा है धर्मशाला क्षेत्र में भूकंप के झटके महसूस किए गए व रिक्‍टर पैमाने पर तीव्रता तीन रही। सुबह के समय भूकंप के झटके महसूस होने से लोग दहशत में आ गए व कई लोग घरों से बाहर निकल आए। हालांकि इस दौरान क‍िसी तरह के नुकसान की कोई सूचना नहीं है। धर्मशाला क्षेत्र संवेदनशील जोन पांच में आता है व यहां अकसर भूकंप का खतरा बना रहता है। जिला कांगड़ा का अधिकतर क्षेत्र जोन पांच में ही आता है। 1905 में  यहां भयंकर भूकंप हुआ था। हिमाचल प्रदेश के चंबा और कांगड़ा जिला में सबसे ज्‍यादा भूकंप के झटके महसूस क‍िए जाते हैं। बीते कुछ महीनों का आंकड़ा देखें तो चंबा में कांगड़ा से भी ज्‍यादा बार भूकंप के झटके आए।

यह भी पढ़ें: Himachal Weather Update: आज छह जिलों में बारिश व आंधी का अलर्ट, तापमान में 10 ड‍िग्री तक गिरावट

भूकंप की दृष्टि से संवदेनशील क्षेत्र

जम्मू-कश्मीर का सांबा, हिमाचल का कांगड़ा, धर्मशाला, मैक्लोडगंज, मंडी, कुल्लू, चंबा, सोलन, उत्तराखंड व नेपाल भूकंप की दृष्टि से संवेदनशील क्षेत्र हैं।

1905 के भूकंप में मारे गए थे हजारों लोग

4 अप्रैल, 1905 को कांगड़ा जिले में भूकंप आया था और इसकी तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 7.8 मापी गई थी। उस समय मरने वालों का आंकड़ा करीब 20 हजार पहुंचा था और एक लाख भवन तबाह हो गए थे।

यह भी पढ़ें: हिमाचल में अमिताभ और ट्रंप के नाम का पास जारी होने के बाद बदला सॉफ्टवेयर, अब आसान नहीं एंट्री

यह भी पढ़ें: Himachal Covid Cases Update: प्रदेश में एक्टिव केस 30 हजार के करीब पहुंचे, कांगड़ा में टूट रहे रिकॉर्ड

यह भी पढ़ें: हिमाचल में कोरोना कर्फ्यू के दूसरे द‍िन एचआरटीसी की तीन सौ के करीब बसें ही दौड़ेंगी, सवारियां न होने पर फैसला

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.