ऊना अस्‍पताल में मरीज की मौत होने पर परिवार के सदस्‍यों ने किया हंगामा, इमरजेंसी वार्ड के शीशे तोड़े

Dispute in Una Hospital जिला मुख्यालय पर क्षेत्रीय अस्पताल में एक बुजुर्ग की मौत को लेकर स्वजनों ने जमकर हंगामा किया। इस हंगामे के दौरान भारी संख्या में मौजूद स्वजनों ने तोड़फाेड़ करते हुए इमरजेंसी कक्ष के शीशे तोड़ डाले। अस्पताल में काफी देर तक तनावपूर्ण माहौल बना रहा।

Rajesh Kumar SharmaTue, 14 Sep 2021 12:32 PM (IST)
जिला मुख्यालय पर क्षेत्रीय अस्पताल में एक बुजुर्ग की मौत को लेकर स्वजनों ने जमकर हंगामा किया।

ऊना, जागरण संवाददाता। Dispute in Una Hospital, जिला मुख्यालय पर क्षेत्रीय अस्पताल में एक बुजुर्ग की मौत को लेकर स्वजनों ने जमकर हंगामा किया। इस हंगामे के दौरान भारी संख्या में मौजूद स्वजनों ने तोड़फाेड़ करते हुए इमरजेंसी कक्ष के शीशे तोड़ डाले। अस्पताल में काफी देर तक तनावपूर्ण माहौल बना रहा। स्वास्थ्य कर्मी काफी भयभीत हो गए। अस्पताल प्रबंधन ने सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस को सूचित किया। सूचना मिलने पर सिटी पुलिस चौकी की टीम अस्पताल में पहुंची। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर स्थिति का नियंत्रण में करने का काफी प्रयास किया। उधर अस्पताल में स्थिति का जायजा लेने के लिए खुद जिला के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रवीण धीमान भी पहुंचे।

लेकिन मृतक वृद्व के स्जवन किसी की भी सुनने को तैयार नहीं थे।

स्वजनों ने चिकित्सक पर उपचार के दौरान लापरवाही बरतने का आरोप लगाया व इस पर खूब हंगामा किया। 60 वर्षीय हरिदास पुत्र बावू राम निवासी नंगल सलांगड़ी का अस्‍पताल में निधन हुआ है। पुलिस ने हंगामा करने पर मामला दर्ज कर आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है।

ऊना के क्षेत्रीय अस्पताल में मंगलवार सुबह करीब 5.30 बजे नंगल सलांगड़ी गांव के बुजुर्ग को डिस्क समस्या के उपचार के लिए 108 एंबुलेंस से लाया गया था। भर्ती कराया गया। बुजुर्ग की उपचार के दौरान साढ़े दस बजे के करीब मौत हो गई। बुजुर्ग की अचानक मौत होने के कारण स्वजनों ने गुस्से में आकर क्षेत्रीय अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड के दरवाजे का शीशा तोड़ दिया। वहीं मौके पर मृतक के स्‍वजन बंटी ने आरोप लगाया कि चिकित्सक ने सही उपचार नहीं किया। जिसके चलते उनके पिता की मौत हुई है।

वहीं इस संबंध में क्षेत्रीय अस्पताल के एमएस डाक्‍टर निर्दोष भारद्वाज का कहना है कि बुजुर्ग की इलाज के दौरान ही मौत हुई है। चिकित्सक व स्टाफ के साथ अभद्र व्यवहार किया गया। इसलिए तोड़फोड़ करने वालों के खिलाफ एफआइआर दर्ज करवाई जाएगी।

उधर जिला के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रवीण धीमान ने कहा क्षेत्रीय अस्पताल में एक बुजुर्ग की मौत के बाद किए गए हंगामे व तोड़फोड़ के कारण पहुंचे थे। उन्होंने कहा इस मामले की गंभीरता से जांच करने के निर्देश दिए गए हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.