जवालामुखी में चार जिला पार्षदों के लिए धवाला और संजय रत्तन की प्रतिष्ठा दांव पर

जवालामुखी में कांग्रेस और भाजपा में चुनावी घमासान तेज हो गया है।

नगर परिषद जवालामुखी में भाजपा को करारी हार का स्वाद चखाने के बाद जिला परिषद के चार वार्डों के लिए कांग्रेस और भाजपा में चुनावी घमासान तेज हो गया है। चार वार्डों के नतीजों पर धवाला व पूर्व कांग्रेसी विधायक संजय रत्न की प्रतिष्ठा दांव पर लगी हुई है।

Publish Date:Fri, 15 Jan 2021 01:03 PM (IST) Author: Richa Rana

ज्वालामुखी, प्रवीण कुमार शर्मा। नगर परिषद जवालामुखी में भाजपा को करारी हार का स्वाद चखाने के बाद जिला परिषद के चार वार्डों के लिए कांग्रेस और भाजपा में चुनावी घमासान तेज हो गया है। प्रसंगवश चार वार्डों के नतीजों पर मौजूदा विधायक रमेश धवाला व पूर्व कांग्रेसी विधायक संजय रत्न की प्रतिष्ठा दांव पर लगी हुई है।

भाजपा को जहां प्रदेश में अपनी सरकार होने का सहारा है तो कांग्रेस 2022 के विधानसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए चारों वार्डों के नतीजों को सेमीफाइनल के तौर पर देख रही है। धवाला व संजय रत्तन दोनों ने चुनावी परिणाम अपने उम्मीदवारों के पक्ष में करने के लिए ताकत झोंक रखी है। ज्वालामुखी विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले जिला परिषद वार्ड टिहरी, सीहोरपाई, धवाला व मझीन में 17, 19, 21 जनवरी को मतदान होना है। चार वार्डों में सीहोरपाई व धवाला वार्ड अनुसूचित जाति की महिला उम्मीदवारों के लिए आरक्षित हैं, जबकि मझीन अनुसूचित जाति के उम्मीदवार के लिए खुली सीट है। जिप के चारों के अधीन आने वाली 68 पंचायतों के 88 हजार से अधिक मतदाता चुनेंगे अपने प्रतिनिधि।

टिहरी वार्ड महिला के लिए ओपन है। चार में से तीन वार्डों में भाजपा की सीधी टक्कर है, जबकि टिहरी में पांच उम्मीदवारों के बीच भाजपा की मीना राणा, कांग्रेस की आशा राणा व पूर्व जिला पार्षद रहे विजेंद्र धीमान कि धर्मपत्नी सुदेश कुमारी ने दोनों उम्मीदवारों को कड़ी चुनोती देते हुए चुनाव दिलचस्प बना दिया है। करीब 25 साल से पंचायतीं राजनीति के धुरंधर विजेंद्र कुमार की इलाके में मजबूत पैठ होने से कांग्रेस, भाजपा दोनों इस वार्ड को गंभीरता से देख रहे हैं।

टिहरी वार्ड के जिला परिषद चुनाव के लिए ग्राम पंचायत टिहरी, अलुहा, टिप्प, सुराणी, सलिहार, बग्ग, हरदीपपुर, लगड़ू, थिल, देहरु, पुखरू, बारी, महादेव, घरना, छिलगा, खुंडिया, डोला खरियाणा की कुल 18 पंचायतों के 22000 के करीब मतदाता अपना प्रतिनिधि चुनेंगे।

मझीन वार्ड में भाजपा के जगदीश चंद व कांग्रेस के कुलदीप सिंह में आमने सामने की टक्कर है। यहां प्रतिनिधि चयन के लिए ग्राम पंचायत कोपडा, हिरण, पीहडी, सिल्ह, धतेहड़, नाहलियां, गुगाणा, टिप्परी, फतेहड़, मझीन, जरुंदी, लुथान, सियालकड, दरीन व कमलोटा को मिलाकर कुल 17 पंचायतों के 24000 के करीब मतदाता अपना जिला पार्षद चुनेंगे।

विधानसभा के सीहोरपाई वार्ड के जिला पार्षद को चुनने के लिए बदौली, घलौर, गाहलियां, जखोटा, कथोग, नाहरवन, हाड़ोली, सिल्ह, द्रंग, अधबानी, ठाकुर द्वारा पंचायतों में मतदान होना है। यहां भाजपा की कमला कौशल, कांग्रेस की सीमा देवी तथा निर्दलीय मीनाक्षी आमने सामने हैं। इस वार्ड में भी 21000 के करीब मतदाता 17,19,21 को मतदान कराएंगे।

जिला पार्षद के चौथे वार्ड धवाला में कांग्रेस की नीतू व भाजपा की पुष्पा देवी के बीच जोर आजमाइश लगी हुई है। यहां पर भाटी बोहन, सकडयालु, गुम्मर, उम्मर, डोहग देहरियां, राजोल, मूहल, जालंधर लाहड़, पाईसा खास, सिहोरी खुर्द, ख़बली, शिवनाथ, बाड़ी, धवाला की कुल 15 पंचायतों क़े 19500 मतदाता मतदान करेंगे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.