विकास अधिकारी मनाेज कुंवर की टीम काे कुफरी में मिला सम्मान

भारतीय जीवन बीमा निगम शिमला मंडल ने 201 करोड़ का सिंगल प्रीमियम बजट करके रिकॉर्ड स्थापित किया है।

भारतीय जीवन बीमा निगम शिमला मंडल ने 201 करोड़ का सिंगल प्रीमियम बजट करके रिकॉर्ड स्थापित किया है वही 2.08 लाख पालिसी बजट के लक्ष्य में से अब तक शिमला डिवीज़न 1.58 लाख पालिसी कर चुका है। 62 हजार पालिसी करने के प्रति शिमला डिवीज़न कृतसंकल्प है।

Richa RanaWed, 03 Mar 2021 05:01 PM (IST)

पालमपुर, जेएनएन। भारतीय जीवन बीमा निगम शिमला मंडल ने 201 करोड़ का सिंगल प्रीमियम बजट करके रिकॉर्ड स्थापित किया है, वही 2.08 लाख पालिसी बजट के लक्ष्य में से अब तक शिमला डिवीज़न 1.58 लाख पालिसी कर चुका है। वहीं मार्च में हम शेष 50000 पालिसी के लक्ष्य के मुकाबले 62 हजार पालिसी करने के प्रति शिमला डिवीज़न कृतसंकल्प है।

यह बात कुफरी में आयोजित शिमला मंडल की विकास अधिकारी व अभिकर्ता सम्मान समारोह में पालमपुर के विकास अधिकारीयों व अभिकर्ताओं सहित शिमला के लगभग 100 अभिकर्ताओं को सम्मानित करते हुए वरिष्ठ मंडल प्रबंधक अरुण राजदान ने विपणन प्रबंधक अशोक ठाकुर,प्रबंधक विक्रय देसराज ठाकुर व जयकृष्ण रैणा ने कही। राजदान ने कहा कि शिमला डिवीज़न अभी तक 376 करोड़ प्रथम प्रीमियम आय अर्जित कर चुका है। वही दावा भुगतान में भी शिमला मंडल अब तक 756 करोड़ रुपये का भुगतान इस वितीय वर्ष में किया है।

वरिष्ठ मंडल प्रबंधक अरुण राजदान ने शिमला डिवीज़न के सभी अभिकर्ताओं को मार्च में 62000 पालिसी के लक्ष्य में पूर्णाहुति डालने का आह्वान किया वही उन्होंने ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को बीमा के लाभ एवं आवश्यकता के बारे में जागरूक करने तथा इससे लाभान्वित करने के लिए सघन अभियान चलाने का आह्वान किया।

 

इस अवसर पर पालमपुर के विकास अधिकारी मनोज कुंवर, आयुष व्यास के साथ साथ देहरा के नवदीप कश्यप, सुशील कुमार, बिलासपुर से दिलवान सिंह राणा, चंबा से संजीव वासुदेवा, अंब से देवराज, शिमला से मनदीप कुंवर व अन्य विकास अधिकारियों के साथ अभिकर्ताओं में सीमा चौधरी, संजय सूद, अजय पठानिया, शिमला देवी, सुमन, रेणु, सीमा, डायरेक्ट मार्केटिंग की चीफ ऑर्गनाइजर अनिता तपन, हेमराज गौतम, गंगा राम व अन्य अभिकर्ताओं को सम्मानित किए गए।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.