Coronavirus Vaccination: प्रदेश के सबसे बड़े अस्‍पताल आइजीएमसी में एमएस जनक राज को दी सबसे पहले वैक्‍सीन

आइजीएमसी शिमला में अस्‍पताल के चिकि‍त्‍सा अधीक्षक डाक्‍टर जनक राज ने सबसे पहले कोरोना वैक्‍सीन का टीका लगवाया।

Coronavirus Vaccination Shimla कोरोना वायरस से लोगों को बचाने के आइजीएमसी में सबसे बड़ा टीकाकरण का अभियान शुरू कर दिया है। प्रदेश के सबसे बड़े अस्‍पताल आइजीएमसी शिमला में अस्‍पताल के चिकि‍त्‍सा अधीक्षक डाक्‍टर जनक राज ने सबसे पहले कोरोना वैक्‍सीन का टीका लगवाया।

Publish Date:Sat, 16 Jan 2021 11:38 AM (IST) Author: Rajesh Kumar Sharma

शिमला, जेएनएन। कोरोना वायरस से लोगों को बचाने के आइजीएमसी में सबसे बड़ा टीकाकरण का अभियान शुरू कर दिया है। प्रदेश के सबसे बड़े अस्‍पताल आइजीएमसी शिमला में अस्‍पताल के चिकि‍त्‍सा अधीक्षक डाक्‍टर जनक राज ने सबसे पहले कोरोना वैक्‍सीन का टीका लगवाया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संबोधन को सुनने के लिए राज्य के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, शहरी विकास मंत्री सुरेश भारदाज, सचिव स्वास्थ्य अमिताभ अवस्थी सहित अस्पताल प्रशासन के अधिकारी मौजूद रहे। सुबह से ही नए ब्लाक में इसको लेकर पूरी तैयारी कर ली गई थी। अस्पताल प्रशासन की ओर से प्रिंसिपल डाॅक्‍टर रजनीश पठानिया, एमएस डाॅक्‍टर जनक राज सहित अन्य चिकित्सक भी मौजूद रहे।

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने इस मौके पर कहा कि अब कोरोना से जंग के बाद बचाव का समय आ गया है। जंग के दौरान हिमाचल के लोगों ने सरकार का भरपूर सहयोग दिया है। आगे भी इसी तरह से कोरोना की वैक्सीन लगाकर इसे पूरी तरह से खत्म करने में सहयोग दे। वैक्सीन पहले चरण में स्वास्थ्य क्षेत्र में सेवाएं दे रहे लोगों को लगाई जानी है। इसी तरह से दूसरे चरण में कोरोना योदाओं को वैक्सीन लगेगी। वैक्सीन के दौरान कुछ सावधानियां रखनी है। इन सावधानियों को रखते हुए कोरोना को पूरी तरह से खत्म करने में सहयोग करना चाहिए।

यह भी पढ़ें: Coronavirus Vaccination: कोरोना वैक्‍सीन की पहली और दूसरी डोज में होगा 28 दिन का अंतराल, पढ़ें पूरा मामला

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.