दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

जयराम ठाकुर बोले, अस्पतालों में आक्सीजन की पर्याप्त आपूर्ति, इन अस्‍पतालों में संयंत्र हुए क्रियाशील

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने कहा प्रदेश के स्वास्थ्य संस्थानों में आक्सीजन की पर्याप्त आपूर्ति की जा रही है।

Oxygen Plants in Himachal मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने कहा प्रदेश के स्वास्थ्य संस्थानों में आक्सीजन की पर्याप्त आपूर्ति की जा रही है। उन्होंने कहा और आक्सीजन संयंत्र स्थापित कर आपूर्ति बढ़ाने तथा मरीजों की सुविधा के लिए बिस्तर क्षमता बढ़ाने के लिए निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं।

Rajesh Kumar SharmaWed, 12 May 2021 09:30 AM (IST)

शिमला, राज्य ब्यूरो। Oxygen Plants in Himachal, मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने कहा प्रदेश के स्वास्थ्य संस्थानों में आक्सीजन की पर्याप्त आपूर्ति की जा रही है। उन्होंने कहा और आक्सीजन संयंत्र स्थापित कर आपूर्ति बढ़ाने तथा कोविड मरीजों की सुविधा के लिए स्वास्थ्य संस्थानों में बिस्तर क्षमता बढ़ाने के लिए निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा वर्तमान में क्षेत्रीय अस्पताल धर्मशाला, दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल शिमला, मेडिकल काॅलेज चम्बा, शिमला, टांडा, नेरचौक, हमीरपुर तथा एमएमयू कुमारहट्टी में ऑक्सीजन संयंत्र क्रियाशील हैं। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा राज्य के लिए स्वीकृत आक्सीजन संयंत्र डीआरडीओ द्वारा नागरिक अस्पताल पालमपुर, क्षेत्रीय अस्पताल मंडी, जिला शिमला के नागरिक अस्पताल खनेरी तथा रोहडू, क्षेत्रीय अस्पताल सोलन तथा मेडिकल काॅलेज नाहन में शीघ्र स्थापित किए जाएंगे।

जयराम ठाकुर ने कहा हाल ही में केन्द्र सरकार ने प्रदेश के लिए 13 और पीएसए आक्सीजन संयंत्र स्वीकृत किए हैं, जो पालमपुर, मंडी, घुमारवीं, हमीरपुर, रिकांगपिओ, रत्ती, रामपुर, सराहन, कुल्लू, दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल शिमला, आईजीएमसी शिमला, धर्मशाला तथा नेरचैक में स्थापित किए जाएंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा प्रदेश में प्रतिदिन 75.81 मीट्रिक टन आक्सीजन का उत्पादन किया जा रहा है, जबकि प्रतिदिन 27.83 मीट्रिक टन आक्सीजन का उपयोग हो रहा है। प्रदेश में वर्तमान में 4728 डी-टाइप आक्सीजन सिलेंडर तथा 1535 बी-टाइप आक्सीजन सिलेंडर उपलब्ध हैं। उन्होंने कहा प्रदेश में निजी क्षेत्र में आक्सीजन के उत्पादन के लिए 8 औद्योगिक इकाइयां कार्य कर रही हैं तथा प्रतिदिन 57.03 मीट्रिक टन आक्सीजन उत्पादन किया जा रहा है।

उन्होंने कहा प्रदेश सरकार ने केंद्र सरकार से राज्य को 5000 डी-टाइप तथा 3000 बी-टाइप आक्सीजन सिलेंडर प्रदान करने का आग्रह किया है। उन्होंने कहा कि केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने प्रदेश को 75000 पीपीई किट तथा 75000 एन-95 मास्क प्रदान किए है।

जयराम ठाकुर ने कहा प्रदेश सरकार अस्पतालों में कोविड के मरीजों की बढ़ती संख्या के दृष्टिगत बिस्तर क्षमता बढ़ाने के भी हर संभव प्रयास कर रही है। वर्तमान में प्रदेश के विभिन्न स्वास्थ्य संस्थानों में करीब 3700 बिस्तर क्षमता है तथा इनमें से करीब 50 फीसद बिस्तर अभी भी मरीजों के लिए उपलब्ध हैं। प्रदेश में 244 आईसीयू तथा 1804 आक्सीजनयुक्त बिस्तरों की भी सुविधा उपलब्ध है। शीघ्र ही मेकशिफ्ट अस्पतालों में 1100 बिस्तरों की बढ़ोतरी की जाएगी।

डाॅ. साधना ठाकुर ने युवाओं से वैक्सीन लगने से पहले किया रक्तदान का आग्रह

हिमाचल प्रदेश राज्य रेडक्राॅस अस्पताल कल्याण शाखा की अध्यक्ष डाॅ. साधना ठाकुर ने लोगों से विशेषकर 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के युवाओं, जिन्हें अभी कोरोना वैक्सीन लगनी है, से रक्तदान का आग्रह किया है। उन्होंने कहा कि टीकाकरण से पहले किया गया रक्तदान कई बहुमूल्य जीवन बचाने में सहायक होगा। डाॅ. साधना ठाकुर ने कहा यह कोरोना महामारी का दौर है। इस महामारी में वैक्सीन ही बचाव में कारगर सिद्ध हो रही है। शीघ्र ही प्रदेश में 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के लोगों के लिए भी वैक्सीन लगाने का कार्य आरम्भ हो रहा है। यदि वैक्सीन लगवाने से पूर्व रक्तदान किया जाता है तो आने वाले समय में रक्त की कमी को पूरा किया जा सकता है। इच्छुक रक्तदाता राज्य रेडक्राॅस के दूरभाष नंबरों 0177-2621868 व 0177-2629969 पर संपर्क कर सकते हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.