दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

मुख्‍यमंत्री ने की अपील, बिना पंजीकरण वैक्सीनेशन सेंटर पर नहीं आएं, टीकाकरण सत्र 24, 27 और 31 मई को

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने आग्रह किया कि बिना पंजीकरण वैक्सीनेशन सेंटर पर टीका लगाने के लिए न आएं।

CM Jairam Thakur Appeal मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने 18 से 44 वर्ष की आयु वर्ग के लोगों से आग्रह किया कि भीड़ को कम करने के लिए बिना पंजीकरण वैक्सीनेशन सेंटर पर टीका लगाने के लिए न आएं।

Rajesh Kumar SharmaTue, 18 May 2021 10:12 AM (IST)

शिमला, राज्य ब्यूरो। CM Jairam Thakur Appeal, मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला छोटा शिमला, कसुम्पटी में सोमवार को 18 से 44 वर्ष की आयु वालों के लिए कोरोना टीकाकरण अभियान का शुभारंभ किया। उन्होंने इस आयु वर्ग के लोगों से आग्रह किया कि भीड़ को कम करने के लिए बिना पंजीकरण वैक्सीनेशन सेंटर पर टीका लगाने के लिए न आएं। टीकाकरण के लिए 213 सेंटर स्थापित किए गए हैं। अब तक 21090 लोगों ने अपनी सारिणी बुक करवा दी है। उन्होंने लोगों से सेंटर पर कोरोना नियम मानने का आह्वान किया। इस आयु वर्ग के लिए टीकाकरण की अगली तिथि 20 मई निर्धारित की गई है, जिसके लिए 18 मई को कोविन पोर्टल सत्र की जानकारी उपलब्ध करवा दी जाएगी। अन्य सत्र 24, 27 और 31 मई,  2021 को आयोजित किए जाएंगे।

उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश 31 प्रतिशत जनसंख्या का टीकाकरण कर देश के अग्रणी राज्य के रूप में उभरा है। अब तक लोगों को वैक्सीन की 2150353 डोज दी जा चुकी हैं। उन्होंने कहा कि महामारी की रोकथाम के लिए अधिक संख्या में लोग टीकाकरण के लिए आगे आ रहे हैं, जो संतोष का विषय है।

राज्य वैक्सीन भंडार-1 और क्षेत्रीय वैक्सीन भंडार-2 सहित राज्य में 386 कोल्ड चेन प्वाइंट स्थापित किए गए हैं, जिनके माध्यम से इन टीकों का वितरण किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इलेक्ट्रॉनिक वैक्सीन इंटेलिजेंस नेटवर्क (ईवीआइएन) के आधार पर इन कोल्ड चेन प्वाइंट की निगरानी की जा रही है।

शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज, स्वास्थ्य मंत्री डा. राजीव सैजल, शिमला नगर निगम की महापौर सत्या कौंडल, स्वास्थ्य सचिव अमिताभ अवस्थी, उपायुक्त शिमला आदित्य नेगी सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी इस अवसर पर उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें: कांगड़ा में मां की मृत्यु के पांच दिन बाद कोरोना ने बेटे की भी ले ली जान, टांडा मेडिकल कॉलेज में तोड़ा दम

यह भी पढ़ें: अस्‍पताल देरी से जाने और लक्षणों की अनदेखी के कारण गंभीर हालत में पहुंच रहे मरीज, जानिए विशेषज्ञों की राय

यह भी पढ़ें: कोरोना को हराने लगा हौसला, हिमाचल में कर्फ्यू के दौरान स्‍वस्‍थ होने की दर 75.50 फीसद हुई, देखिए आंकड़े

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.