केंद्रीय टीम ने लिया बरसात से हुए नुकसान का जायजा

जागरण संवाददाता धर्मशाला बारह जुलाई को मूसलधार बारिश से हुए जानी नुकसान का मौल भले ही कोई नहीं चुका सकता है लेकिन अन्य जख्मों पर मरहम लगाने के लिए केंद्रीय टीम वीरवार को जिला कांगड़ा पहुंची। सेंट्रल वाटर कमीशन से भूपेश कुमार व डिस्ट्रीब्यूशन पालिसी एंड रेगुलेशन उपनिदेशक माया कुमारी के नेतृत्व में टीम ने बोह घाटी के रुलेहड़ धर्मशाला में शीला चैतडू शाहपुर के राजोल अनसुई व मैक्लोडगंज में हुए नुकसान का जायजा लिया।

JagranFri, 26 Nov 2021 03:52 AM (IST)
केंद्रीय टीम ने लिया बरसात से हुए नुकसान का जायजा

जागरण संवाददाता, धर्मशाला : बारह जुलाई को मूसलधार बारिश से हुए जानी नुकसान का मौल भले ही कोई नहीं चुका सकता है, लेकिन अन्य जख्मों पर मरहम लगाने के लिए केंद्रीय टीम वीरवार को जिला कांगड़ा पहुंची। सेंट्रल वाटर कमीशन से भूपेश कुमार व डिस्ट्रीब्यूशन पालिसी एंड रेगुलेशन उपनिदेशक माया कुमारी के नेतृत्व में टीम ने बोह घाटी के रुलेहड़, धर्मशाला में शीला, चैतडू, शाहपुर के राजोल, अनसुई व मैक्लोडगंज में हुए नुकसान का जायजा लिया। टीम सदस्यों ने जल शक्ति विभाग की परियोजनाओं तथा सड़कों को हुए नुकसान का आकलन किया। बोह में बाढ़ और भूस्खलन से प्रभावित क्षेत्र का दौरा भी किया।

..

अरबों रुपये बह गए हैं पानी में

उपायुक्त कांगड़ा डा. निपुण जिदल ने बताया कि जिले में 13 जून से 26 सितंबर तक लोक निर्माण विभाग को 93 करोड़ 28 लाख रुपये के करीब नुकसान हुआ है। जल शक्ति विभाग की पेयजल व सिचाई योजनाओं को 81 करोड़ 82 लाख रुपये की क्षति हुई है। नुकसान की रिपोर्ट पहले ही विभागों के माध्यम से राज्य सरकार को भेज दी है। टीम के साथ एडीएम रोहित राठौर, एसडीएम धर्मशाला शिल्पी बेक्टा, एसडीएम शाहपुर डाक्टर मुरारी लाल सहित जल शक्ति, पीडब्ल्यूडी व कृषि विभाग के अधिकारी भी थे।

..

नुकसान का ब्योरा

जिले में विद्युत बोर्ड को एक करोड़ 96 लाख व एनएच को 23 लाख रुपये की चपत लगी है। कृषि विभाग के तहत 56 लाख रुपये के करीब नुकसान आंका गया है। नगर निगम धर्मशाला के तहत दो करोड़ 80 लाख रुपये की क्षति हुई है।

..

36 लोगों को गंवानी पड़ी है जान

मानसून सीजन के दौरान जिले में 36 लोगों को जान गंवानी पड़ी है। बोह घाटी के रुलेहड़ में हुए भूस्खलन में 10 लोग मलबे की चपेट में आ गए थे। अन्य स्थानों पर लोग खड्डों व नालों की चपेट में आकर बहे हैं। बरसात से 37 पक्के घर व 60 कच्चे घर पूर्ण रूप से क्षतिग्रस्त हुए हैं। इसके साथ ही 137 कच्चे घर आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त हुए हैं। 199 पशुशालाएं क्षतिग्रस्त हुई हैं और करीब 2 करोड़ 90 लाख रुपये का नुकसान हुआ है।

.

प्रभावित परिवारों को दी जाए सहायता

प्रदेश कांग्रेस के महासचिव केवल सिंह पठानिया ने टीम सदस्यों से राजोल, अनसूई, रुलेहड़, खड़ीबेही, रावा व कनोल के लाहड़ी गांव की स्थिति बाबत चर्चा की। उन्होंने टीम सदस्यों को बताया कि काफी लोगों की संपत्ति बारिश में तबाह हो गई है। उन्होंने प्रभावित परिवारों को तत्काल आर्थिक सहायता मुहैया करवाने की पैरवी की।

..

केंद्रीय टीम ने बारिश व बाढ़ से प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया है। टीम ने अधिकारियों व स्थानीय लोगों से भी चर्चा की है।

-डा. निपुण जिदल, उपायुक्त कांगड़ा

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.