सभी परिसरों में लगेंगी बायोमीट्रिक मशीनें

जागरण संवाददाता धर्मशाला हिमाचल प्रदेश केंद्रीय विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. एसपी बंसल ने कहा है कि शैक्षणिक और गैरशैक्षणिक स्टाफ की उपस्थिति का रिकार्ड रखने के लिए धर्मशाला शाहपुर और देहरा परिसरों में जल्द बायोमीट्रिक मशीनें लगाई जाएंगी।

JagranFri, 13 Aug 2021 05:00 AM (IST)
सभी परिसरों में लगेंगी बायोमीट्रिक मशीनें

जागरण संवाददाता, धर्मशाला : हिमाचल प्रदेश केंद्रीय विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. एसपी बंसल ने कहा है कि शैक्षणिक और गैरशैक्षणिक स्टाफ की उपस्थिति का रिकार्ड रखने के लिए धर्मशाला, शाहपुर और देहरा परिसरों में जल्द बायोमीट्रिक मशीनें लगाई जाएंगी। इसके अलावा सभी अध्ययन कार्यक्रमों में विद्यार्थियों के लिए कई निकास विकल्प होंगे।

विद्यार्थियों को कार्यक्रम के छह माह के अध्ययन के बाद प्रमाणपत्र या उसी कार्यक्रम में अध्ययन के एक वर्ष के बाद डिप्लोमा या अनिवार्य दो वर्ष पूरा होने के बाद पीजी डिग्री प्रदान की जा सकेगी। विद्यार्थियों के प्लेसमेंट के लिए एक माह तय किया जाएगा और उस दौरान प्लेसमेंट के लिए कंपनियों को आमंत्रित किया जाएगा। कुलपति वीरवार को सीयू के धौलाधार परिसर में विवि के सभी अधिष्ठाता, विभागाध्यक्ष व शोध निदेशकों की बैठक को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा, विवि को और ऊंचाइयों पर ले जाना है। फैकेल्टी सरकारी-गैरसरकारी संस्थानों के साथ एमओयू साइन करें। सभी परिसर समन्वयक परिसर के सुंदरीकरण (इंटीरियर डिजाइनिग सहित) पर एक अवधारणा नोट पेश करें। विश्वविद्यालय सभी ईसी/एसी बैठकों के लिए होटल-संस्कृति पर रोक लगाएगा। यह सुनिश्चित करने के लिए विश्वविद्यालय अतिथि गृह विकसित करेगा ताकि शैक्षणिक कार्यों के लिए विश्वविद्यालय का दौरा करने वाले विषय विशेषज्ञों को होटलों का रुख न करना पड़े। कुलपति ने कहा कि फूलों के गुलदस्ते नहीं दिए जाएंगे उसके स्थान पर कोई पौधा/पुस्तक दी जा सकती है। उन्होंने निर्देश दिए कि खरीद संबंधी मामलों में पारदर्शिता का पालन किया जाए। जहां स्टाफ कम है वहां जेआरएफ और शोधकर्ताओं की मदद ली जाए। बैठक में उन्होंने विश्वविद्यालय के लिए सांस्कृतिक एवं खेलकूद का कैलेंडर तैयार करने के भी निर्देश दिए। साथ ही एनएसएस इकाइयों को मजबूत करने व विश्वविद्यालय में एनसीसी इकाइयों के गठन की पैरवी की।

....................

चैतड़ू में दो साल में बनेगा आइटी पार्क

जागरण संवाददाता, धर्मशाला : विधानसभा क्षेत्र धर्मशाला के तहत चैतडू में दो साल में आइटी पार्क बनकर तैयार होगा। 11 जून को सूचना प्रौद्योगिकी विभाग ने साफ्टवेयर टेक्नोलाजी पा‌र्क्स आफ इंडिया के साथ समझौता ज्ञापन हस्ताक्षरित किया है।

विधानसभा में तकनीकी शिक्षा मंत्री रामलाल मारकंडा ने विधायक विशाल नैहरिया ने प्रश्न के जवाब में कहा कि चैतडू में आइटी पार्क बनना प्रस्तावित है। पार्क का कार्य 30 जून, 2023 तक पूरा कर लिया जाएगा। विशाल नैहरिया ने कहा कि आइटी पार्क बनने से रोजगार के द्वार खुलेंगे। वर्तमान में प्रदेश के बहुत से युवा बाहरी राज्यों में नौकरी कर रहे हैं। कोरोना काल में कई युवाओं को नौकरी से हाथ धोना पड़ा है। ऐसे में चैतडू में आइटी पार्क बनने से बेरोजगार के लिए रोजगार के द्वार खुलेंगे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.