रैत के द्रोणाचार्य कालेज का बड़ा फैसला, बोह में भूस्खलन से बेघर हुए इतने बच्चों को मुफ्त देगा शिक्षा

द्रोणाचार्य शिक्षण स्नातकोत्तर महाविद्यालय रैत के कार्यकारी निदेशक डा. बीएस पठानिया ने जानकारी दी कि कांगड़ा की बोह घाटी में आए भूस्खलन से बेघर हुए चार बच्चों की पढ़ाई महाविद्यालय मुफ्त करवाएगा। बोह घाटी के परिवारों को उनके पुनर्वास के लिए भी महाविद्यालय मदद करेगा।

Virender KumarFri, 16 Jul 2021 05:21 PM (IST)
द्रोणाचार्य शिक्षण स्नातकोत्तर महाविद्यालय रैत ।जागरण आर्काइव

शाहपुर, संवाद सूत्र। द्रोणाचार्य शिक्षण स्नातकोत्तर महाविद्यालय रैत के कार्यकारी निदेशक डा. बीएस पठानिया ने जानकारी दी कि कांगड़ा की बोह घाटी में आए भूस्खलन से बेघर हुए चार बच्चों की पढ़ाई महाविद्यालय मुफ्त करवाएगा। इसी के साथ बोह घाटी के परिवारों को उनके पुनर्वास के लिए भी महाविद्यालय मदद करेगा। वहीं, कोरोना महामारी के दौरान जिन बच्चों ने अपने माता-पिता को खो दिया है उनके लिए मुफ्त शिक्षा का प्रविधान किया जाएगा।

शैक्षणिक अधिष्ठाता डा. प्रवीण शर्मा, विभागाध्यक्ष बीबीए मुकेश शर्मा व विभागाध्यक्ष बीसीए राजेश राणा, ट्रेङ्क्षनग एंड प्लेसमेंट सेल की संयोजक मेघना पठानिया ने बताया कि महाविद्यालय की ओर से एससी, एसटी व अन्य वर्गों से संबंधित छात्रों के लिए विशेष स्कालरशिप व फीस कटौती का भी प्रविधान रहेगा। इसके तहत महाविद्यालय केंद्रीय तथा राज्य सरकार की ओर से प्रस्तावित विभिन्न छात्रवृत्तियां भी प्रदान की जाएंगी। जिसमें कल्पना चावला छात्रवृत्ति योजना, महर्षि बाल्मीकि छात्रवृत्ति योजना, आइआरडीपी छात्रवृत्ति योजना, पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति योजना के जरिए छात्रों को लाभान्वित किया जाता है। महाविद्यालय की ओर से गरीब व जरूरतमंद बच्चों को अपने स्तर पर भी फीस में कटौती दी जाती है। महाविद्यालय की ओर से मेधावी छात्रों के लिए 'उत्कृष्ट छात्रवृत्तिÓ प्रतियोगिता का वार्षिक आयोजन किया जाता है जिसमें छात्रों के लिए एक लाख की छात्रवृत्ति पाने का अवसर रहता है।

इस वर्ष भी उत्कृष्ट छात्रवृत्ति प्रतियोगिता का आयोजन 24 जुलाई को किया जा रहा है, जिसमें जमा दो उत्तीर्ण विद्यार्थी भाग ले सकते हैं। महाविद्यालय की ओर से विश्वविद्यालय स्तर पर टापर रहने वाले विद्यार्थिओं को 31 हजार, द्वितीय को 21 हजार, तृतीय को 11 हजार का नकद इनाम दिया जाता है। वहीं बीबीए, बीसीए कोर्स में दाखिला लेने वाले विद्यार्थियों को जिनके जमा दो में 90 प्रतिशत अंक से अधिक हैं उनको भी नि:शुल्क शिक्षा दी जाती है। महाविद्यालय में 100 फीसद प्लेसमेंट की व्यवस्था है। महाविद्यालय की ओर से समय-समय पर व्यवस्थित प्लेसमेंट कार्यक्रमों के जरिए अपने छात्रों को बहुप्रतिष्ठित कंपनियों (विप्रो, इनफोसिस, टीसीएस, डीएलएफ, गूगल, सिप्ला, हिप्पोप्राइवेट इत्यादि) में चयनित करवाया जाता है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.