वीरता में हुई खूनी झड़प में एक व्‍यक्ति की मौत के बाद फि‍र सड़क पर उतरे ग्रामीण, पुलिस पर उठाए सवाल Kangra News

Birta Bloody Clash वीरता में दो गुटों में हुई खूनी झड़प में एक व्‍यक्ति की मौत के बाद ग्रामीण शनिवार को भी सड़क पर उतर आए हैं। मृतक के स्‍वजनों व ग्रामीणों ने कांगड़ा मिनी सचिवालय में प्रदर्शन शुरू कर दिया है।

Rajesh Kumar SharmaSat, 19 Jun 2021 12:39 PM (IST)
खूनी झड़प में एक व्‍यक्ति की मौत के बाद ग्रामीण शनिवार को भी सड़क पर उतर आए हैं।

कांगड़ा, संवाद सहयोगी। Birta Bloody Clash, वीरता में दो गुटों में हुई खूनी झड़प में एक व्‍यक्ति की मौत के बाद ग्रामीण शनिवार को भी सड़क पर उतर आए। मृतक के स्‍वजनों व ग्रामीणों ने कांगड़ा मिनी सचिवालय में प्रदर्शन किया। जमीनी विवाद को लेकर चले तेजधार हथियारों के हमले से 53 वर्षीय सुभाष पुत्र धर्मपाल निवासी ग्राम वीरता तहसील व जिला कांगड़ा की शनिवार सुबह मौत हो गई। जिसकी सूचना मिलने के साथ ही मृतक के स्वजनों ने आज कांगड़ा मिली सचिवालय में धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया। उनकी मांग है कि हत्यारों को तत्काल सजा दी जाए व उन्हें न्याय दिलाया जाए।

स्वजनों का आरोप है कि शिकायत पर पुलिस कार्रवाई समय पर कर देती तो आज ऐसा दिन न देखना पड़ता। धरना प्रदर्शन को देखते हुए एसडीएम कांगड़ा अभिषेक वर्मा व डीएसपी कांगड़ा सुनील राणा भी मौके पर पहुंच गए।

इस दौरान सैकड़ों ग्रामीणों ने पुलिस मुर्दाबाद के नारे लगाने शुरू कर दिए व रोष प्रदर्शन करने लगे, जिससे मामले की गंभीरता को देखते हुए कांगड़ा प्रशासन ने अतिरिक्त पुलिस बल मिनी सचिवालय में तैनात कर दिया। रोष प्रदर्शन के बीच मृतक के परिजन एसडीएम कांगड़ा को ज्ञापन सौंपने पहुंचे। आक्रोशित लोगों का कहना था कि कांगड़ा पुलिस ने 3 दिन पहले दी गई दरख्वास्त पर कार्रवाई की होती तो न तो सुभाष की मौत होती और न ही इतने लोग घायल होते लोगों ने मांग की कि दोषी पुलिस हेड कांस्टेबल को सस्पेंड किया जाए तथा अगर इस मामले में कोई अन्य पुलिस अधिकारी या कर्मचारी दोषी है तो उसे भी सस्पेंड किया जाए।

लोगों ने कहा ऐसे अपराधिक लोग राजनीतिक संरक्षण में हैं, जिस वजह से पुलिस ने कार्रवाई नहीं की है। ग्रामीणों ने आक्रोशित होते हुए कहा कि अगर दोषी पुलिस कर्मचारियों पर कार्रवाई न की गई तो वह मृतक के शव  को नेशनल हाईवे पर रखकर चक्का जाम कर धरना देंगे। आक्रोशित लोगों का कहना था कि सुभाष की मौत से उनके परिवार की कमर टूट गई है और अब  उसके बच्चों का पालन पोषण कैसे होगा? बताया जा रहा है मृतक सुभाष कांगड़ा में ही टैक्सी कैब चलाते थे और अपने परिवार का पालन पोषण करते थे। ऐसे में सरकार गरीब परिवार की सहायता करे।

ज्ञापन में यह भी मांग की गई कि इस मामले की स्थानीय पुलिस ठीक ढंग से तफ्तीश करे तथा आरोपियों को किसी भी सूरत में जमानत न मिले। लोगों द्वारा दिए गए ज्ञापन को एसडीएम कांगड़ा अभिषेक वर्मा ने पढ़कर लोगों को आश्वासन दिया कि इस मामले की जांच निष्पक्ष तरीके से होगी तथा पुलिस कर्मचारियों की गलती पाए जाने पर उनके खिलाफ उचित कार्रवाई भी होगी। इस बारे में जिलाधीश तथा पुलिस अधीक्षक से बात की जा रही है। एसडीम कांगड़ा ने लोगों की मांग पर आश्वासन दिया कि आपके ज्ञापन को मुख्यमंत्री कार्यालय को भी भेजा जाएगा। इस दौरान पुलिस उप अधीक्षक सुनील राणा भी मौजूद थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.