भलेई मंदिर में 1400 भक्तों ने नवाया शीश

चंबा के भलेई माता मंदिर में मां की मूर्ति। जागरण

देवी के नौवें स्वरुप सिद्धिदात्री को समर्पित नवम नवरात्र पर भद्रकाली भलेई मंदिर में सर्वाधिक भक्तों की आमद हुई। मंदिर में शीश नवाने के लिए जिलाभर से लोग पहुंचे थे। वहीं कई परिवारों ने नवम नवरात्र पर अपने परिवारों के छोटे बच्चों के मुंडन संस्कार भी मंदिर में करवाए।

Vijay BhushanWed, 21 Apr 2021 04:30 PM (IST)

डलहौजी, संवाद सहयोगी। देवी के नौवें स्वरुप सिद्धिदात्री को समर्पित नवम नवरात्र पर भद्रकाली भलेई मंदिर में सर्वाधिक भक्तों की आमद हुई। मंदिर में शीश नवाने के लिए जिलाभर से लोग पहुंचे थे। वहीं कई परिवारों ने नवम नवरात्र पर अपने परिवारों के छोटे बच्चों के मुंडन संस्कार भी मंदिर में करवाए। स्वजन के साथ जातर लेकर पहुंचे लोगों के चलते बुधवार को मंदिर में खूब रौनक रही। लोगों ने कोरोना वायरस से बचाव के उपायों का पालन करते हुए गर्भगृह के बाहर से ही मां भलेई के दर्शन किए। वहीं मुंडन संस्कारों दौरान भी कोविड नियमों का पालन सुनिश्चित किया गया। नवविवाहित जोड़ों ने भी मां भलेई के दर्शन कर आशीर्वाद ग्रहण किया। मंदिर प्रबंधक समिति के अनुमान के अनुसार नौवें नवरात्र पर मंदिर में लगभग 1400 श्रद्धालुओं ने शीश नवाया। उल्लेखनीय है कि नवरात्र के दौरान मंदिर प्रबंधक समिति द्वारा विशेष प्रबंध किए गए थे। इसके तहत मंदिर परिसर में विभिन्न स्थानों पर हाथों को सैनेटाइज करने की व्यवस्था सहित, मंदिर परिसर को दिन में दो से तीन बार सैनेटाइज करवाने की पूर्ण व्यवस्था रही। श्रद्धालुओं को मंदिर में बिना मास्क के प्रवेश नहीं करने दिया गया, जो भक्त ङ्क्षकन्हीं कारणों से मास्क पहनकर नहीं आए ते उन्हें मंदिर प्रबंधक समिति द्वारा निशुल्क मास्क उपलब्ध करवाए गए। वहीं पुलिस कर्मचारियों व मंदिर प्रबंधक समिति के सदस्यों द्वारा मंदिर परिसर में शारीरिक दूरी का पालन भी सुनिश्चित करवाया गया। समिति ने मां भलेई के दर्शन गर्भगृह के बाहर से ही करवाने की व्यवस्था की थी। नवरात्र के दौरान मंदिर परिसर में भक्तों के लिए विभिन्न व्यवस्थाओं करवाने व कोविड-19 के नियमों का पालन सुनिश्चित करवाने व सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद रखने सहित पेयजल, विद्युत आदि की व्यवस्थाओं के लिए मंदिर प्रबंधक समिति के अध्यक्ष कमल ठाकुर ने समिति की ओर से जिला पुलिस कप्तान एस अरुल कुमार, उपमंडलाधिकारी(ना.) सलूणी किरण भड़ाना, थाना खैरी व पुलिस चौकी ब्रंगाल के स्टाफ, विद्युत परिषद, जल शक्ति विभाग, लोक निर्माण विभाग, स्थानीय लोगों व समिति के स्वयंसेवियों का समिति पदाधिकारियों की ओर से आभार जताया। ठाकुर ने कहा कि नवरात्र सुचारु रुप से संपूर्ण हुए और नवरात्र के दौरान रोजाना हुई विशेष पूजा व दुर्गा सप्तशती के पाठ दौरान विश्व कल्याण व कोरोना महामारी से मुक्ति के लिए मां भगवती भलेई से प्रार्थना की गई।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.