दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

जोगेंद्रनगर उपमंडल में अब तक ठीक हुए 1356 कोरोना संक्रमित: एसडीएम

जोगेंद्रनगर उपमंडल में अब तक कोराना संक्रमण से 1356 लोग स्वस्थ्य हो चुके हैं

वैश्विक महामारी कोविड 19 के चलते जोगेंद्रनगर उपमंडल में अब तक कुल 2041 कोरोना संक्रमण के मामले सामने आ चुके हैं। जिनमें से1356 लोग स्वस्थ्य हो चुके हैं एवं 666 मामले सक्रिय हैं। जबकि 20 लोगों की कोरोना संक्रमण के चलते मौत भी हो चुकी है।

Richa RanaTue, 11 May 2021 03:00 PM (IST)

राजेश शर्मा, जोगेंद्रनगर। वैश्विक महामारी कोविड 19 के चलते जोगेंद्रनगर उपमंडल में अब तक कुल 2041 कोरोना संक्रमण के मामले सामने आ चुके हैं। जिनमें से1356 लोग स्वस्थ्य हो चुके हैं एवं 666 मामले सक्रिय हैं। जबकि 20 लोगों की कोरोना संक्रमण के चलते मौत भी हो चुकी है।

उपमंडल में कोरोना संक्रमित व्यक्तियों को घर में ही आइसोलेट किया जा रहा है तथा गंभीर स्थिति में उन्हें प्राथमिक उपचार प्रदान करने के बाद कोविड अस्पतालों को रेफर किया जा रहा है। साथ ही संबंधित ग्रामीण स्तर पर आशा कार्यकर्ताओं एवं आयुर्वेद विभाग के माध्यम से संक्रमित व्यक्तियों की नियमित तौर पर निगरानी भी सुनिश्चित की जा रही है।

 

इस बात की पुष्टि एसडीएम अमित मैहरा ने की। उन्‍होंने बताया कि जोगेंद्ररनगर उपमंडल में अब तक आए कुल 2041 कोरोना संक्रमण के मामलों में से 1356 लोग स्वस्थ्य हो चुके हैं जबकि 666 मामले सक्रिय हैं तथा 20 लोगों की कोरोना संक्रमण के चलते मौत हो चुकी है। कोरोना संक्रमित मरीजों को उनके घरों में ही आईसोलेट किया जा रहा है तथा संबंधित विभागों के माध्यम से इनकी लगातार निगरानी सुनिश्चित बनाई जा रही है।

उन्होंने बताया कि ग्रामीण स्तर पर आशा कार्यकर्ताओं के माध्यम से नियमित तौर पर कोरोना संक्रमित लोगों पर नजर रखी जा रही है तथा किसी भी आपातकालीन स्थिति में गंभीर रोगियों को प्राथमिक उपचार प्रदान करने के उपरान्त उन्हें कोविड अस्पतालों को एंबुलेंस के माध्यम से रेफर किया जा रहा है। गंभीर रूप से कोविड 19 संक्रमित मरीजों के लिए सिविल अस्पताल जोगेंद्रनगर में विशेष आपातकालीन कक्ष स्थापित किया गया है। जिसमें ऑक्सीजन की सुविधा भी उपलब्ध है। इसके अलावा कोविड संक्रमित मरीजों को लाने व ले जाने के लिए दो एंबुलेंस को पूरी तरह से तैयार कर लिया गया है। जिसमें से एक सिविल अस्पताल जोगिन्दर नगर व दूसरी सिविल अस्पताल लडभड़ोल में तैनात कर दी गई है।

आयुर्वेद विभाग के डॉक्टर नियिमत तौर पर कर रहे कोरोना संक्रमित मरीजों की निगरानी

उन्होंने बताया कि ग्रामीण स्तर पर होम आइसोलेशन में रह रहे कोरोना संक्रमित मरीजों पर संबंधित आशा कार्यकर्ताओं के साथ आयुर्वेद विभाग की विशेष टीमें नियमित तौर पर निगरानी कर रही है। वर्तमान में जोगेंद्रनगर उपमंडल के अंतर्गत पधर व लडभड़ोल विकास खंडों के लिए 6 आयुर्वेद डॉक्टर एवं 6 फॉर्मासिस्ट की तीन टीमें गठित की गई हैं जो अपने-अपने ब्लॉक में कोरोना संक्रमित मरीजों की निगरानी कर रही हैं। साथ ही आयुर्वेद विभाग के डॉक्टर नियमित अंतराल के बाद कोरोना संक्रमित मरीजों से मोबाइल फोन के माध्यम से भी संपर्क स्थापित कर रहे हैं तथा उनके स्वास्थ्य को लेकर पूरी जानकारी एकत्रित कर रहे हैं।

इस संदर्भ में किसी भी प्रकार की स्वास्थ्य संबंधी दिक्कत पाये जाने पर मामले की जानकारी को उच्च अधिकारियों को प्रेषित किया जा रहा है तथा गंभीर संक्रमित रोगियों को कोविड अस्पतालों में रेफर करने में भी मदद की जा रही है। इसके अतिरिक्त आशा कार्यकर्ताओं के माध्यम से हेल्थ किट भी वितरित की जा रही है जिसमें आवश्यक दवाईयां, पल्स ऑक्सीमीटर इत्यादि शामिल हैं।

 

97 प्रतिशत मरीज घर में ही हो रहे ठीक, धैर्य व संयम के साथ करें बीमारी से मुकाबला

अमित मैहरा ने कहा कि कोविड 19 संक्रमित लगभग 97 प्रतिशत मरीज घर में ही रहकर ठीक हो रहे हैं, ऐसे में वे इस बीमारी से घबराएं नहीं बल्कि धैर्य व संयम के साथ इसका मुकाबला रहें। साथ ही होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों से कोविड प्रोटोकॉल की सख्ती से अनुपालना सुनिश्चित करने का भी आहवान किया है। उनके इस कदम से न केवल वे स्वयं सुरक्षित रहेंगे बल्कि परिवार व समाज के दूसरे लोगों को भी सुरक्षित रख पाएंगे। साथ ही कहा कि यदि कोई गंभीर समस्या उत्पन्न होती है तो इसकी सूचना तुरंत स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को देना सुनिश्चित करें ताकि उन्हें तुरंत चिकित्सीय सहायता उपलब्ध हो सके।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.