पांगी में कहीं आग लगे तो सब राम भरोसे

जिला चंबा के कबायली क्षेत्र पांगी घाटी के लोग वर्षों से अग्निशमन केंद्र ख

JagranSun, 21 Nov 2021 05:21 PM (IST)
पांगी में कहीं आग लगे तो सब राम भरोसे

संवाद सहयोगी, पांगी : जिला चंबा के कबायली क्षेत्र पांगी घाटी के लोग वर्षों से अग्निशमन केंद्र खुलने का इंतजार कर रहे हैं। यहां पर लोगों की इस ज्वलंत मांग की लगातार अनदेखी की जा रही है। विधानसभा क्षेत्र भरमौर के तहत पांगी घाटी में 16 पंचायतों के हजारों लोग रहते हैं, लेकिन आज तक अग्निशमन केंद्र नहीं खुल पाया है। इस कारण क्षेत्र में अगर कोई आग की घटना हो जाती है तो समझो कुछ भी नहीं बच पाता है। हाल ही में पांगी मुख्यालय किलाड़ से करीब तीन किलोमीटर दूर करयास पंचायत के मंझालु गांव में आग लगने से मकान की एक मंजिल जल गई थी। गनीमत यह रही थी कि लोगों को समय रहते आग लगने के बारे में पता चल गया तथा उन्होंने अपने स्तर पर इस पर काबू पा लिया। यदि ऐसा न होता तो पूरा मकान आग भी भेंट चढ़ सकता था। इस अग्निकांड में लाखों रुपये की संपत्ति राख हो गई।

पांगी घाटी में ऐसा पहला मामला नहीं है जब मेहनत से बनाए घर आग की भेंट चढ़ गए हों। इससे पहले भी कई बार इसी प्रकार की घटनाएं हो चुकी हैं। लेकिन न तो प्रदेश सरकार और न ही भरमौर व पांगी प्रशासन की आंख खुली है। 2003 में पांगी घाटी की रेई पंचायत में अग्निकांड में एक साथ 35 मकान जलकर राख हो गए थे। इसके बाद प्रशासन ने सरकार के समक्ष अग्निशमन केंद्र खोलने की मांग प्रमुखता से उठाई, लेकिन समय के बाद मामला शांत हो गया। इस कारण लोगों को आग की घटना में काफी नुकसान झेलना पड़ता है। पांगी घाटी वर्ष में छह माह तक बर्फबारी के कारण इसका संपर्क जिला मुख्यालय से कट जाता है। इससे चुराह से अग्निशमन विभाग की गाड़ी नहीं पहुंचाई जा सकती है। पांगी घाटी के लोग यहां की भौगोलिक स्थिति व पिछड़ेपन का दंश घाटी के झले रहे हैं।

------

मुख्यमंत्री कर चुके हैं घोषणा

उपचुनाव से पहले मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने पांगी दौरे के दौरान यहां अग्निशमन केंद्र खोलने की घोषणा की थी। हालांकि अग्निशमन केंद्र खुलता और अग्निशमन वाहन पांगी पहुंचते, इससे पहले चार परिवारों का लाखों रुपये का नुकसान हो गया। क्षेत्रवासियों का कहना है कि अग्निशमन विभाग की गाड़ियां होती तो इतना ज्यादा नुकसान नहीं होता। इन परिवारों के सर्दियों के लिए इकट्ठी की गई खाद्य सामग्री के साथ पशुओं का चार भी आग की भेंट चढ़ गया है। ----------

घाटी में अग्निशमन विभाग की चौकी खोलने के बारे में सरकार से प्रमुखता से मांग की गई है। पांगी में अग्निशमन विभाग की चौकी खोली जाएगी, ताकि आने वाले समय में इस तरह की घटना होने पर आग को तुरंत काबू किया जा सके।

जिया लाल कपूर, विधायक भरमौर-पांगी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.