बारिश व बर्फबारी से शीतलहर तेज, पांगी घाटी का शेष विश्व से संपर्क कटा

बारिश व बर्फबारी से शीतलहर तेज, पांगी घाटी का शेष विश्व से संपर्क कटा

चंबा जिला में तीन दिनों से मौसम के तेवर कड़े हैं।

Publish Date:Wed, 25 Nov 2020 07:45 PM (IST) Author: Jagran

जागरण टीम, चंबा/पांगी/भरमौर : चंबा जिला में तीन दिनों से मौसम के तेवर कड़े हैं। सोमवार को शुरू हुआ बर्फबारी व बारिश का दौर मंगलवार को कुछ थमने के बाद बुधवार को फिर शुरू हो गया। जिले के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी जबकि मध्यम ऊंचाई व निचले क्षेत्रों में पूरा दिन बारिश हुई। बारिश व बर्फबारी के कारण जिले में शीतलहर तेज हो गई है। बर्फबारी के कारण पांगी घाटी का शेष विश्व से संपर्क कट गया है।

उपमंडल मुख्यालय किलाड़ में आठ इंच बर्फबारी हुई। पांगी घाटी में अन्य स्थानों पर भारी बर्फबारी होने के कारण लोग घरों के अंदर ही रहने को मजबूर हो गए हैं। बुधवार को दिनभर घाटी में बर्फबारी का दौर जारी रहने से यातायात व्यवस्था बाधित हुई। वहीं, चंबा जिला के जोत, पोहलानी माता, तीसा, भरमौर व सलूणी की पहाड़ियों पर बर्फबारी हुई।

---------------

सतर्क रहें लोग

चंबा जिला में बारिश व बर्फबारी का दौर बुधवार को जारी रहा। इसलिए लोगों को सतर्क रहने की जरूरत है। विभिन्न विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि व्यवस्था को बेहतर बनाया जाए ताकि लोगों को दिक्कतों का सामना न करना पड़े।

डीसी राणा, उपायुक्त चंबा।

------------------- पांगी घाटी में बर्फबारी का दौर शुरू हुआ है जो फरवरी तक जारी रह सकता है। इसलिए लोगों से अपील है कि वे एहतियात बरतें। लोगों को किसी प्रकार की परेशानी आती है तो वे प्रशासन से संपर्क करें ताकि उसे दूर किया जा सके।

सुखदेव सिंह राणा, आवासीय आयुक्त, पांगी।

----------------

पांगी में कहां कितनी बर्फबारी

क्षेत्र,बर्फबारी

साच पास,साढ़े तीन फीट

चस्क भटौरी,दो फीट

सुराल भटौरी,डेढ़ फीट

कुमार परमार,डेढ़ फीट

परमार भटौरी,डेढ़ फीट

हुंडान भटौरी,एक फीट

प्रेग्रां,13 इंच

थांदल,11 इंच

किलाड़,आठ इंच

सेचू,आठ इंच

------ प्रमुख स्थानों पर बर्फबारी

गढ़ माता,सात इंच

कुगति,पांच इंच

बड़ी जुम्महार,चार इंच

रोहनियार वैली,तीन इंच

हड़सर,दो इंच

ग्रीमा,दो इंच

मलकौता,एक इंच

सचूईं,एक इंच

पूलन,एक इंच

----------- कालाटोप में डेढ़ इंच बर्फबारी

संवाद सहयोगी, डलहौजी : उपमंडल डलहौजी में बुधवार को ऊपरी क्षेत्रों में बर्फबारी व निचले क्षेत्रों में बारिश हुई। डैनकुंड, लक्कड़ मंडी व कालाटोप में डेढ़ इंच तक बर्फबारी हुई। बर्फबारी व बारिश के कारण ठंड बढ़ने से बाजार से भी रौनक गायब हो गई है। देश के विभिन्न राज्यों से पर्यटक डलहौजी में व्हाइट क्रिसमस मनाने व नववर्ष के स्वागत का जश्न मनाने के लिए डलहौजी पहुंचते हैं। ऐसे में नवंबर में ही डलहौजी के ऊपरी क्षेत्रों में बर्फबारी शुरू हो जाना दिसंबर में पर्यटन सीजन के लिए वरदान साबित होगा। पर्यटन व्यवासायियों को उम्मीद है कि बर्फ के आकर्षण में कई पर्यटक डलहौजी पहुंचेंगे जिससे पर्यटन कारोबार बेहतर होगा।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.