top menutop menutop menu

बरसात में सलूणी में मिलेगी निर्बाध बिजली आपूर्ति

----------

विद्युत उपमंडल सलूणी बरसात में पेश आने वाली चुनौतियों से निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार है। बरसात के दौरान यदि बिजली आपूर्ति में किसी तरह की दिक्कत आती है तो उसे जल्द हल करने का प्रयास किया जाएगा, ताकि उपभोक्ताओं को किसी प्रकार की परेशानी न आए। इसके अलावा बिजली बिल की समय पर अदायगी न करने वाले डिफाल्टर उपभोक्ताओं पर शिकंजा कसा जा रहा है। लो वोल्टेज की समस्या से निपटने के लिए भी कार्य किया जा रहा है। यह कहना है विद्युत उपमंडल सलूणी के सहायक अभियंता अनूप रणहोत्रा का। दैनिक जागरण ने उनसे क्षेत्र की विद्युत से जुड़ी समस्याओं व योजनाओं पर बातचीत की। पेश हैं बातचीत के मुख्य अंश : बरसात में बिजली की समस्या से निपटने के लिए विद्युत बोर्ड कितना तैयार है?

-बरसाती सीजन में पेश आने वाली दिक्कतों से निपटने के लिए विद्युत उपमंडल पूरी तरह से तैयार है। बिजली की तारों के साथ लगती पेड़ों की टहनियों की कटाई-छंटाई कर दी गई है। विद्युत लाइनों व सब स्टेशन की मरम्मत के कार्य भी किए जा रहे हैं। कुल मिलाकर बरसाती सीजन से निपटने के लिए विभाग अलर्ट है। विद्युत उपमंडल में कई स्थानों पर कम वोल्टेज की समस्या है। इसे दूर करने के लिए क्या कर रहे हैं?

-लो वोल्टेज की समस्या ध्यान में है। इससे उपभोक्ताओं को निजात दिलाने के लिए कार्य किया जा रहा है। इसी संदर्भ में 12 ट्रांसफार्मर अपग्रेड किए जा चुके हैं। अन्य ट्रांसफार्मरों को अपग्रेड करने का कार्य जारी है। आने वाले समय में किसी भी स्थान पर कम वोल्टेज की समस्या न रहे, इसके लिए बोर्ड लगातार कार्य कर रहा है। बिजली कट बहुत लगते हैं। उपभोक्ताओं की इस परेशानी को दूर करने के लिए क्या कदम उठाए हैं?

-बिजली कट लगाए जाने से पहले ही विभिन्न माध्यमों से लोगों तक सूचना पहुंचा दी जाती है। कट इसलिए लगाए जाते हैं, ताकि विद्युत व्यवस्था को बेहतर बनाए रखने के लिए कार्य किया जा सके। विद्युत बोर्ड का यही उद्देश्य है कि किसी भी सूरत में उपभोक्ताओं को परेशानी का सामना न करना पड़े। डिफाल्टर उपभोक्ताओं पर शिकंजा कसने के लिए क्या कार्रवाई की गई है?

-डिफाल्टर उपभोक्ताओं से उगाही के लिए नोटिस जारी किए जा रहे हैं। वर्तमान में करीब 250 डिफाल्टर उपभोक्ताओं को नोटिस जारी कर उन्हें जल्द बिल जमा करवाने को कहा है। यदि तय समय सीमा के भीतर बिल जमा नहीं करवाए जाते हैं तो उन्हें विभाग कड़ी कार्रवाई करेगा। कई स्थानों में पेड़ों पर तारें लटकने की शिकायतें आती हैं। ऐसा क्यों होता है?

-इस तरह की जब भी शिकायत विद्युत बोर्ड के पास आती है तो उसका तुरंत समाधान किया जाता है। यदि लोगों को किसी भी प्रकार की परेशानी आती है तो बोर्ड को अवगत करवाएं। कई बार स्टाफ की कमी से भी दिक्कतें पेश आती हैं। उपमंडल सलूणी में स्टाफ की काफी कमी है। इसे पूरा करने के लिए क्या किया जा रहा है?

यह सही है कि उपमंडल में स्टाफ की काफी कमी है। वह कार्यालय का स्टाफ हो या फील्ड का। इस कारण विभिन्न कार्यो को निपटाने में दिक्कतें पेश आ रही हैं। इस बारे में उच्चाधिकारियों को अवगत करवा दिया गया है। क्या उपमंडल में कोई ऐसा घर है, जिसमें बिजली सप्लाई न पहुंची हो?

वर्तमान में उपमंडल में ऐसा कोई घर नहीं है, जो विद्युत सुविधा से वंचित हो। शत प्रतिशत मकानों तक बिजली पहुंचाने का कार्य किया गया है, ताकि सभी घरों में उजाला किया जा सके। -विक्रांत ठाकुर, सलूणी

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.