जानिये हिमाचल में जयराम की कैबिनेट में किसकी होगी जय

चंबा, सुरेश ठाकुर। भाजपा को एक लाख से ज्यादा की लीड दिलाकर जिला चंबा ने मंत्री पद के लिए मजबूत दावेदारी ठोंक दी है। पांचों विधानसभा क्षेत्रों से भाजपा को बड़ी बढ़त मिली है। ऐसे में मुख्यमंत्री अगर अपने वादे पर कायम रहे तो चंबा को मंत्री पद दे सकते हैं।

चंबा जिले के चार विधानसभा क्षेत्र कांगड़ा-चंबा व एक विधानसभा क्षेत्र मंडी लोकसभा क्षेत्र में पड़ता है। ऐसे में कांगड़ा संसदीय सीट पर ही पहली बार चंबा जिले से भाजपा एक लाख से ज्यादा मतों की लीड देने में कामयाब रही है। जिसमें चुराह से 23,418, चंबा से 28,523, डल्हौजी से 28,422 और भटियात हलके से 29,973 मतों की लीड भाजपा प्रत्याशी किशन कपूर को मिली।

वहीं, मंडी संसदीय क्षेत्र में शामिल भरमौर हलके से रामवरूप शर्मा को 19,726 मतों की लीड प्राप्त हुई है। भरमौर को छोड़कर सभी हलकों से वहां के विधायक 20 हजार से ज्यादा की लीड दिलाने में कामयाब हुए हैं। ऐसे के लगभग बराबर लीड दिलाने पर मंत्री पद की प्रतिस्पर्धा भी रोचक हो गई है।

भाजपा के सभी कार्यकर्ताओं ने एकजुट होकर कार्य किया है। इस कारण हिमाचल में भाजपा को चारों सीटों में रिकार्ड बहुमत मिला है। चंबा जिले में कार्यकर्ताओं व सभी विधायकों व जिला अध्यक्ष सहित मंडल अध्यक्ष बूथ अध्यक्ष, महिला मंडल, युवा युवा मोर्चा ने दिनरात कार्य किया है। जहां तक मंत्री पद का सवाल है तो चंबा का पक्ष मुख्यमंत्री के समक्ष जरूर रखा जाएगा। अंतिम निर्णय मुख्यमंत्री का होगा।

-राजीव भारद्वाज, चंबा भाजपा प्रभारी

 मुख्यमंत्री ने कहा था, परफॉरर्मेंस पर मिलेगा पद

लोकसभा चुनाव में प्रचार के दौरान चंबा दौरे के दौरान मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर भी एलान कर चुके हैं कि परफॉरर्मेंस के आधार पर चंबा को मंत्री पद मिल सकता है। हालांकि, चुराह के विधायक हंसराज इस दौड़ में आगे बताए जा रहे हैं, लेकिन पवन नैयर व बिक्रम जरयाल भी मजबूत दावेदार हैं। ऐसे में देखना दिलचस्प होगा कि जयराम की कैबिनेट में किसकी ‘जय’ होती है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.