हाईड्रो इंजीनियरिग कॉलेज के निर्माणकार्य को समय पर पूरा करने के निर्देश

हाईड्रो इंजीनियरिग कॉलेज के निर्माणकार्य को समय पर पूरा करने के निर्देश
Publish Date:Sat, 31 Oct 2020 04:10 PM (IST) Author: Jagran

संवाद सहयोगी, बिलासपुर : उपायुक्त रोहित जम्वाल ने राजकीय हाईड्रो इंजीनियरिग कॉलेज बंदला में चल रहे नेशनल प्रोजेक्ट कंस्ट्रशन कंपनी लिमिटेड (एनपीसीसी) व निर्माण कंपनी मेसर्स पीएसके इंजीनियरिग को निर्माण कार्य को मुख्य शैक्षणिक ब्लॉक को निर्धारित समयावधि मार्च, 2021 तक पूर्ण करने के निर्देश दिए।

उन्होंने कॉलेज, भवनों की संपूर्ण निर्माण प्रगति का निरीक्षण किया तथा सभी संबंधित अधिकारियों को अपने काम में तेजी लाने का निर्देश दिए, ताकि आगामी शैक्षणिक सत्र जुलाई, 2021 से राजकीय हाईड्रो इंजीनियरिग कॉलेज बंदला की कक्षाओं को बंदला (बिलासपुर) के अपने परिसर में स्थानांतरित किया जा सके।

मुख्य अभियंता जलशक्ति ने उपायुक्त को बताया कि राजकीय हाईड्रो इंजीनियरिग कॉलेज बंदला की पेयजल परियोजना को पहले ही एम्स पेयजल आपूर्ति योजना के साथ जोड़ा गया है, जो मार्च, 2021 तक पूरा हो जाएगी। निदेशक तकनीकी शिक्षा विवेक चंदेल ने निर्माण कार्य की प्रगति और अन्य संबंधित मुद्दों के बारे में उपायुक्त को परियोजना की जानकारी देते हुए बताया कि यह हाइड्रो सेक्टर 105 करोड़ रुपये की धनराशि से बनाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि वर्तमान में कांगड़ा जिला के नगरोटा भंगवा में हाईड्रो इंजीनियरिग के दो ट्रेड की कक्षाएं चल रही है जिसमें 480 प्रक्षिशु अध्ययनरत हैं। उन्होंने बताया कि होईड्रो इंजीनियरिग कॉलेज में चार ट्रैड में इंजीनियरिग की डिग्री मिलेगी जिसमें कंप्यूटर साइंस, मेकेनिकल, सिविल और इलेक्ट्रिल इंजीनियरिग स्ट्रीम को मंजूरी दी गई है।

इस अवसर पर डीएफओ सरोज भाई पटेल, एसडीएम सदर रामेश्वर, निदेशक एवं प्राधानाचार्य हाईड्रो इंजीनियरिग कॉलेज आरके अवस्थी, एसई विद्युत पंकज शर्मा व आजेश कुमार के अतिरिक्त अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.