सुचारू विद्युत आपूर्ति के लिए लगाए 53 ट्रांसफार्मर

सुचारू विद्युत आपूर्ति के लिए लगाए 53 ट्रांसफार्मर

बिलासपुर में लोगों को विद्युत आपूर्ति सुचारू रूप से उपलब्ध करवाने क

Publish Date:Thu, 21 Jan 2021 06:02 PM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, बिलासपुर : बिलासपुर में लोगों को विद्युत आपूर्ति सुचारू रूप से उपलब्ध करवाने के लिए 74 ट्रांसफार्मर लगाए जा रहे हैं। इनमें से 53 लगाए जा चुके हैं। जिला में 3165 पुराने लकड़ी के पोल बदलने का लक्ष्य रखा गया है, जिसमें से 1841 बदले जा चुके है।

यह बात अतिरिक्त मुख्य सचिव राम सुभग सिंह ने विद्युत, उद्योग, खनन और हिम ऊर्जा के विभागीय अधिकारियों के साथ विभिन्न कार्यों की समीक्षा बैठक के दौरान कही।

उन्होंने बताया कि बरठीं तथा जुखाला में 33/11 केवी सब-स्टेशन का कार्य प्रगति पर है। नसवाल, स्वारघाट तथा बैरी विद्युत उपकेंद्र की विद्युत क्षमता को बढ़ाया जा रहा है। जिला में दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण ज्योति योजना के अंतर्गत 223 लाख रुपये व्यय कर कार्य पूर्ण कर लिया गया है। एकीकृत विद्युत विकास योजना (आइपीडीएस) के अंतर्गत शहरी क्षेत्रों में 1013 लाख रुपये व्यय करके कार्य पूरा कर लिया गया है। जिला बिलासपुर में चालू वित्त वर्ष में राष्ट्रीय सोलर मिशन के अंतर्गत 600 सोलर लाइटें और 14वें वित्तायोग में 561 सोलर लाइटें लगाई जा चुकी हैं। अनुसूचित जाति उपयोजना के तहत इस वर्ष 41 सोलर लाइटें लगाई जाएंगी। महिला पुलिस लाइन बस्सी, पुलिस लाइन बिलासपुर के अतिरिक्त अन्य उपभोक्ताओं को सोलर गीजर के 15 सिस्टम बिलासपुर में लगाए जाएंगे। बिलासपुर में सोलर पावर प्लांट निजी क्षेत्र में साढे़ चार मेगावाट के नौ प्लांट हिम ऊर्जा के माध्यम से लगाए जा रहे हैं। एक सोलर पावर प्लांट 500 किलोवाट क्षमता का गांव धार टटोह में लगाया जा चुका है और बिजली उत्पादन कर रहा है। उन्होंने बंदला हाइड्रो इंजीनियरिग कॉलेज में सोलर पावर प्लांट की संभावनाएं तलाशने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए।

खनन अधिकारी को निर्देश दिए कि जिला की जो छोटी-छोटी खड्डें व नाले गोबिंदसागर झील में मिलते हैं तथा बरसात के समय बहुत सा खनिज बहकर झील में मिल रहा है, उसे भाखड़ा बांध प्रबंधन से संपर्क कर सहायक खड्डों व नालों की मैपिग कर बीबीएमबी क्षेत्र में जमा गाद को निकालने के लिए आवश्यक चर्चा करें।

------------

इस अवसर पर ये रहे मौजूद

उपायुक्त रोहित जम्वाल, एससी विद्युत पंकज शर्मा, महाप्रबंधक उद्योग उत्तम राम वर्मा, जिला खनन अधिकारी बिदिया रानी और हिम ऊर्जा जिला परियोजना अधिकारी ई. एमएल कपूर आदि।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.