अब शक्ति सिंह पर दो लोगों से 50-50 लाख की रंगदारी मांगने के आरोप में केस

अब शक्ति सिंह पर दो लोगों से 50-50 लाख की रंगदारी मांगने के आरोप में केस

फेसबुक पर जातिसूचक गालियां देने व समाज में घृणा फैलाने वाले वीडियो भ्काल कर धमकी दी है।

JagranMon, 10 May 2021 07:20 AM (IST)

संवाद सहयोगी प्रतापनगर :

फेसबुक पर जातिसूचक गालियां देने व समाज में घृणा फैलाने वाले वीडियो डालने के आरोपित शक्ति सिंह पर अब रंगदारी मांगने का भी आरोप लगा है। दो अलग-अलग लोगों से आरोपित ने 50-50 लाख रुपये की रंगदारी मांगी है। आरोपित विदेश में रहता है और वहीं से वीडियो पोस्ट करता है। पहले भी उस पर केस दर्ज हो चुका है। अब रंगदारी मांगने के आरोप में प्रतापनगर व बूड़िया थाना पुलिस ने दो केस दर्ज किए हैं।

प्रतापनगर निवासी नीलम कुमार जैन की प्रतापनगर बस स्टैंड के पास कपड़े की दुकान है। करीब 28 सालों से वह दुकान कर रहा है। शनिवार की शाम करीब साढ़े सात बजे वह घर से दवाई लेने के लिए मेडिकल स्टोर पर गया था। जब वह वीरेंद्र मोहन गीता विद्या मंदिर से थोड़ा आगे पहुंचा, तो कार में आए एक व्यक्ति ने उसे रोक लिया। उसने मुंह पर मास्क लगाया हुआ था। उसके साथ दो और लोग बैठे हुए थे। उन्होंने भी मास्क पहना हुआ था। आरोपित कार से नीचे उतरा और उसे कट्टा दिखाते हुए कहा कि शक्ति नंबरदार ने भेजा है। रविवार की शाम तक 50 लाख रुपये का इंतजाम कर लेना। यदि शाम तक पैसे न दिए और पुलिस को शिकायत दी, तो दोनों बेटों को खत्म कर देंगे। इस दौरान कार में बैठे दो युवकों ने भी नीलम कुमार को धमकी दी कि आजकल नशे का धंधा कर बहुत पैसे कमा रखे हैं। इसमें से शक्ति का हिस्सा निकाल दो। यह क्षेत्र उसी का है। नीलम ने आरोपितों से कहा कि वह इस तरह का कोई गलत काम नहीं करता। जिस पर आरोपितों ने धमकी देते हुए उसे चुप कर दिया और वहां से चले गए। नीलम कुमार का कहना है कि लॉकडाउन की वजह से सड़क पर किसी की आवाजाही नहीं थी। किसी तरह से वह घर पहुंचा और इस बारे में स्वजनों को बताया। जिस पर पुलिस को शिकायत दी गई। दमोपुरा की निर्वतमान सरपंच के पति से भी मांगे 50 लाख

जासं, यमुनानगर

दमोपुरा की निवर्तमान सरपंच के पति बलराम को भी फेसबुक मैसेंजर से शक्ति सिंह ने कॉल की। उनसे भी 50 लाख रुपये की रंगदारी मांगी गई है। बलराम के पास सात मई की रात करीब 12 बजे मैसेंजर एप पर कॉल आई। दूसरी और से कॉल करने वाले ने अपना नाम शक्ति बताया। आरोपित ने उन्हें अपशब्द कहे। अगले दिन दोपहर करीब डेढ़ बजे फिर शक्ति ने कॉल की और गालियां दी। धमकी देते हुए कहा कि सट्टे का काम कर खूब पैसे कमा रहा है। इसलिए उसके बंदों को 50 लाख रुपये दो। 15 मिनट बाद दोबारा आरोपित की कॉल आई। उसने शाम तक पैसों का इंतजाम करने के लिए कहा। पैसों का इंतजाम न होने पर जान से मारने की धमकी दी। उसी दिन शाम को करीब सात बजे खदरी गांव से होते हुए बलराम सिंह देवधर जा रहे थे। जब वह खदरी और तेलीपुरा गांव के बीच पहुंचे, तो एक कार उनके बराबर में लग गई। जिसमें मुंह लपेटे चार लोग थे। उन्होंने शीशा नीचे उतारा और कहा कि शक्ति सिंह का काम नहीं किया। यह सुनते ही बलराम सिंह घबराकर वहां से भागकर प्रतापनगर पहुंच गए। बलराम सिंह का कहना है कि आरोपितों के पास देसी कट्टे भी थे। इससे पहले आरोपी शक्ति सिंह फेसबुक पर उन्हें गालियां दे चुका है। फेसबुक के संचालकों पर कार्रवाई होनी चाहिए। वह ऐसे लोगों की वीडियो को डिलीट नहीं कर रहे हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.