top menutop menutop menu

अब टेन पैरामीटर स्टिप किट के जरिये होगी 10 तरह की स्वास्थ्य जांच

अवनीश कुमार, यमुनानगर

अब स्वास्थ्य जांच के लिए मरीजों को ज्यादा दूरी तय नहीं करनी पड़ेगी। नजदीकी पीएचसी और उपस्वास्थ्य केंद्रों पर ही मरीजों की 10 तरह की जांच होगी। वह भी एक किट के जरिए। टेन पैरामीटर स्टिप नाम की नई किट अब सभी स्वास्थ्य केंद्रों को मिलेगी। सिविल सर्जन डॉ. कुलदीप सिंह ने बताया कि टेन पैरामीटर स्टिप से यूरोबलोनोजन, विलूरिबून, कीटोनबॉडी, ब्लड, प्रोटीन, नाइट्राइट, सफेद कणिकाएं, ग्लूकोज, स्पेसिक ग्रेविटी की एक साथ जांच होगी। इसका सबसे अधिक फायदा गर्भवती महिलाओं को होगा। इस संबंध में सरकार की ओर से आदेश मिल गए हैं।

मरीजों को अलग-अलग तरह की जांच के लिए कभी सिविल अस्पताल, कभी निजी अस्पताल या लैब के चक्कर काटने पड़ते थे। सभी जांच एक जगह ही न होने की वजह से मरीजों को परेशानी उठानी पड़ती थी। इसमें सबसे अधिक दिक्कत गर्भवती महिलाओं को होती थी, क्योंकि गर्भावस्था में सबसे अधिक जांच की जरूरत महिलाओं को होती है। उनका नियमित चेकअप होना अनिवार्य होता है। ऐसे में परिवार के लोगों को गर्भवती महिला की जांच कराने में परेशानी उठानी पड़ती है। अलग-अलग जांच के लिए भी उन्हें निजी अस्पताल या फिर लैब में चक्कर काटना पड़ता है। अब ऐसा नहीं होगा। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग को एक किट मिली है। इसमें ही 10 तरह की जांच होगी।

सभी पीएचसी व उपकेंद्रों पर होगी जांच

अब तक उपकेंद्रों व पीएचसी पर जांच की सुविधा नहीं थी, लेकिन टेन पैरामीटर स्टिप सभी पीएचसी व उपकेंद्रों पर उपलब्ध होगी। यमुनानगर जिले में 19 पीएचसी हैं। इनमें ग्रामीण एरिया में अलाहर, मुगलवाली, हैबतपुर, कोट, खारवन, बूड़िया, कलानौर, रसूलपुर, भंभौल, खदरी व अरनौली और शहरी एरिया में आजादनगर, गांधीनगर, पुराना हमीदा, सरोजनी कॉलोनी, कैंप, गंगानगर, मुखर्जी पार्क में है। उपकेंद्रों की बात करें, तो चाहडवाला, कलावड़, मुसिबल, धनौरा, कप्तान माजरी, लेदी, जयधर, मिर्जापुर, गढ़ी बंजारा, कलेसर, बाक्करवाला, भंगेड़ा, तिम्मो, संधाली, तिगरा और हाफिजपुर में उपस्वास्थ्य केंद्र हैं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.