बाबा साहेब के बनाए संविधान में सभी को बराबरी का अधिकार : कंवरपाल

बाबा साहेब के बनाए संविधान में सभी को बराबरी का अधिकार : कंवरपाल

भारत रत्न डा. भीमराव आंबेडकर के बनाए संविधान में सभी को बराबर का अधिकार दिया गया है।

JagranMon, 12 Apr 2021 08:10 AM (IST)

जागरण संवाददाता, यमुनानगर :

भारत रत्न डा. भीमराव आंबेडकर के बनाए संविधान में सभी को बराबरी का अधिकार दिया गया है। सभी को अपनी बात रखने का अधिकार दिया गया है। बावजूद इसके तथा कथित किसान यूनियनों द्वारा भाजपा नेताओं को अपनी बात रखने से भी जबरन रोका जा रहा है। भाजपा नेताओं के साथ हिसा की जा रही है। यह सरासर बाबा साहेब द्वारा बनाए गए संविधान की उल्लंघना है।

यह बात शिक्षा, वन एवं पर्यटन मंत्री कंवरपाल ने भारत रत्न डा. भीमराव आंबेडकर की 130वीं जयंती समारोह में बतौर मुख्यातिथि कहे। उन्होंने कहा कि तीनों कृषि कानून किसानों के लिए फायदेमंद है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सोच है कि किसानों को आत्मनिर्भर बनाकर उन्हें इतना मजबूत बनाया जाए कि कोई भी उनका शोषण ना कर सके, शिक्षा मंत्री ने कहा कि भारत रत्न डाक्टर भीमराव आंबेडकर ने अस्पृश्यता, अशिक्षा, अंधविश्वास के साथ-साथ सामाजिक, राजनीतिक एवं आर्थिक विषमता को सबसे बढ़ी बुराई रूप में प्रस्तुत किया। एक नैतिक एवं न्यायपूर्ण आदर्श समाज के निर्माण के लिए उन्होंने स्वाधीनता, समानता और भ्रातृत्व के सूत्रों को आवश्यक बताया और उनका समर्थन किया है।

विधायक घनश्यामदास अरोड़ा ने कहा कि भारत रत्न डॉक्टर भीमराव अंबेडकर ने संविधान का निर्माण कर भारत देश को एक नई दिशा दिखलाई है। देश में रहने वाले हर वर्ग, हर जाति, हर धर्म के लोगों को संविधान के बारे में जानकारी दी है। संविधान के दायरे में लाकर उन्हें उनके हर प्रकार के अधिकारों से सुसज्जित किया।

भाजपा अनुसूचित मोर्चा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राम अवतार वाल्मीकी ने कहा कि बाबा साहब ने भारत में जाति व्यवस्था को उखाड़ने के उद्देश्य से संगठन बनाकर बहुत कार्य किया।

कार्यक्रम में मेयर मदन चौहान, भाजपा जिलाध्यक्ष राजेश सपरा, चेयरमैन राम निवास गर्ग, चेयरपर्सन रोजी मलिक आंनद, पूर्व विधायक बलवंत सिंह, भाजपा जिला महामंत्री कृष्ण सिगला, भाजपा एससी मोर्चा जिलाध्यक्ष धर्म सिंह मट्टू, सीनियर डिप्टी मेयर प्रवीन शर्मा, प्रदेश सह प्रवक्ता भारत भूषण जुयाल, जगाधरी अध्यक्ष विपुल गर्ग, छछरौली अध्यक्ष कल्याण सिंह, पूर्व विधायक ईश्वर पलाका व अन्य उपस्थित रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.